सरकार द्वारा बुजुर्ग, विकलांग और विधवाओं को 3 महीने की अग्रिम पेंशन दी जाएगी

सरकार द्वारा दी जाएगी बुजुर्ग, विकलांग और विधवाओं को 3 महीने की अग्रिम पेंशन (3 Months Advance Pension to Old Age / Widow / Disabled to Tackle Coronavirus (COVID-19))

कोरोना का संक्रमण अभी तक भारत पर खतरे के बादल लेकर तैयार बैठा हुआ है. दिन प्रतिदिन जिस हिसाब से कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़ती जा रही है आने वाले दिनों में ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि यदि एक हफ्ते तक लोग अपने घरों में पूरी तरह से बंद नहीं रहे तो शायद 15 अप्रैल तक 50000 लोग कोरोनावायरस के संक्रमण की वजह से अपनी जान गवा सकते हैं। ऐसे में मोदी सरकार लगातार जरूरतमंदों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए नए नए ऐलान किए जा रहे हैं। जिनमें से एक ऐलान यह भी है कि वह अगले 3 महीने की पेंशन विधवाओं, वरिष्ठ नागरिकों और विकलांग व्यक्तियों को पहले से ही एक साथ प्रदान कर देंगे। आइए जानते हैं प्रधानमंत्री की इस घोषणा के बारे में विस्तार पूर्वक…

3 Months Advance Pension to Old Age Widow Disabled to Tackle Coronavirus

अग्रिम पेंशन सुविधा (3 month Advance Pension to Vidhwa/Senior Citizen/Disabled)

भारत सरकार ने अहम फैसला लेते हुए जनता को यह आश्वासन दिलाया है कि भारत में रहने वाले सभी बुजुर्गों विधवा और विकलांगजन जो पहले से पेंशन प्राप्त कर रहे हैं उन्हें 7 अप्रैल तक 3 महीने की अग्रिम पेंशन राशि पहले से ही प्रदान कर दी जाएगी। एडवांस पेंशन डायरेक्ट उनके बेनिफिट अकाउंट में सरकार द्वारा अप्रैल के पहले हफ्ते में ही भेज दी जाएगी ताकि 21 दिन की तालाबंदी के दौरान उन लोगों को किसी भी प्रकार के खाने पीने, राशन, सब्जी आदि की कमी ना हो। इसके अलावा गरीब परिवारों की सुविधा के लिए सरकार द्वारा कई प्रकार के टोल फ्री नंबर जारी किए गए हैं जिन पर वे कभी भी फोन करके आपातकालीन स्थिति के दौरान खाने-पीने व दवाइयों जैसी सभी सुविधाएं घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं।

केंद्रीय सरकार के आंकड़ों के तहत लगभग 2.98 करोड़ लाभार्थी ऐसे हैं जो प्रत्येक माह सरकार की पेंशन योजना के तहत पेंशन प्राप्त करते हैं। ऐसे में जब उन परिवारों को पहले से ही पेंशन प्रदान कर दी जाएगी तो वे आराम से अपने परिवार का गुजारा कर सकते हैं।

दिल्ली विधवा पेंशन योजना यहाँ पढ़ें

पेंशन की राशि

भारत की सरकार द्वारा निम्नलिखित रुप से लाभार्थियों को पेंशन की राशि प्रदान की जाएगी:-

  • वरिष्ठ नागरिक:- एनएसपी के अनुसार इस योजना के तहत 60 से 79 वर्ष की आयु में आने वाले प्रत्येक बुजुर्ग नागरिक को ₹200 प्रतिमाह और इसके अलावा 80 वर्ष या उससे अधिक के वरिष्ठ नागरिकों को ₹500 प्रतिमाह प्रदान किए जाएंगे।
  • विधवा पेंशन:- जो विधवा महिला 40 से 79 वर्ष की आयु के अंतर्गत आती हैं उन्हें भी प्रतिमाह ₹200 प्रदान किए जाएंगे और साथ ही 80 वर्ष से अधिक आयु की विधवा महिलाओं को ₹500 प्रति माह देने का एलान किया गया।
  • विकलांग पेंशन:- विकलांग पेंशन के अंतर्गत 79 वर्ष की आयु तक के सभी विकलांगों को ₹300 प्रति मासिक प्रदान किए जाएंगे और 80 साल या उससे अधिक आयु वर्ग के विकलांग लोगों को ₹500 प्रतिमाह दिए जाएंगे।

कोरोना की दहशत

भारत में एक कोरोना संक्रमण के चलते अब तक लगभग 918 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। जिसके बाद भारत की राजधानी दिल्ली से कोरोना के खतरे की दहशत में रहने वाले लोग दिल्ली से पलायन करने के लिए बड़ी संख्या में निकल चुके हैं जिसका नजारा आज दिल्ली के आनंद विहार इलाके में देखने को मिला। दिन प्रतिदिन कोरोना संक्रमण से बढ़ने वाले लोग जिस तरह से तड़प रहे हैं उन्हें देखने के बाद भी बाकी लोग घरों से बाहर निकलना बंद नहीं कर रहे हैं ऐसे में इस खतरे को कम करने की बजाय भारतीय लोग इसे बढ़ाने का काम कर रहे हैं। हालांकि भारत की सरकार लगातार भारतीय नागरिकों के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं प्रदान करने के लिए तत्पर है।

साथ ही इन सब घोषणा के अलावा विधवा, विकलांग और बुजुर्गों को वित्त मंत्री की पूर्व घोषणा के अनुसार हजार रुपये अलग से प्रदान किए जाएंगे जिन्हें वे दो किस्तों में उनके खातों में जमा कराएंगे। सरकार अपनी तरफ से भरसक प्रयास कर रही है ताकि किसी भी गरीब को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके बावजूद भी भारतीय नागरिक अपने घर में रहने और सरकार के नियमों को मानने के लिए तैयार नहीं है ऐसे में सरकार सिर्फ उन्हें समझा सकती है और सख्ती बरत सकती है परंतु उन लोगों की सुरक्षा केवल उनके ही हाथ में है। यदि हम सरकार के नियमों का पालन करते हुए अपना ख्याल रखें और सुरक्षित रहते हुए घर में रहे तो शायद हम इस महामारी पर जीत हासिल कर सकते हैं अन्यथा यह महामारी हमारे देश को पूरी तरह से खत्म कर सकती है।

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *