छत्तीसगढ़ छात्रवृत्ति योजना लिस्ट 2020-21

छत्तीसगढ़ छात्रवृत्ति योजना लिस्ट 2020-21 (Chhattisgarh All Scholarship Schemes in Hindi)

आज के समय में गरीब छात्र एवं छात्राओं को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें कुछ सहायता प्रदान की जा रही है जिससे कि ऐसे छात्र एवं छात्राएं अपनी शिक्षा की ओर अग्रसर रहें और उन्हें इसके लिए वित्तीय रूप से परेशान न होना पड़े. हमारे देश के कई राज्यों में ऐसी विभिन्न योजनाओं चल रही हैं, जिससे छात्र एवं छात्राओं को शिक्षा के लिए वित्तीय रूप से सहायता दी जाती है. हम यहाँ छत्तीसगढ़ राज्य की बात कर रहे हैं, तो आपको बता दें इस राज्य में कम से कम 10 से भी ज्यादा ऐसी स्कॉलरशिप से संबंधित योजनायें हैं, जिससे राज्य में रहने वाले सभी गरीब छात्र एवं छात्राओं को लाभ प्राप्त हो रहा है. आइये आपको इस लेख में यह बताते हैं कि कौन – कौन सी स्कॉलरशिप योजनायें हैं जोकि छत्तीसगढ़ राज्य में अभी चल रही हैं. 

Chhattisgarh All Scholarship Schemes

छत्तीसगढ़ की सभी छात्रवृत्ति योजनाओं की सूची (Chhattisgarh All Scholarship Schemes List)

क्र. म.छात्रवृत्ति योजनाओं के नाम
1.अनुसूचित जाति / जनजाति / ओबीसी के छात्रों के लिए प्री – मेट्रिक स्कॉलरशिप
2.राज्य छात्रवृत्ति योजना
3.अनुसूचित जाति / जनजाति / ओबीसी के छात्रों के लिए पोस्ट – मेट्रिक स्कॉलरशिप
4.कन्या साक्षरता प्रोत्साहन योजना
5.अनक्लियर बिज़नस स्कॉलरशिप योजना
6.मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन पहल योजना
7.विकलांग स्कॉलरशिप योजना
8.डीटीई छत्तीसगढ़ स्कॉलरशिप 
9.नौनिहाल स्कॉलरशिप
10.छत्तीसगढ़ मेधावी छात्र शिक्षा प्रोत्साहन योजना

 

छत्तीसगढ़ की सभी छात्रवृत्ति योजनाओं के बारे में जानकारी (Details About Chhattisgarh All Scholarship Schemes)

छत्तीसगढ़ राज्य में हाल ही में कौन – कौन सी छात्रवृत्ति योजनायें लागू हैं उनके बारे में कुछ जानकारी इस प्रकार हैं –

  • अनुसूचित जाति / जनजाति / ओबीसी के छात्रों के लिए प्री – मेट्रिक स्कॉलरशिप योजना (Pre – Matric Scholarship Scheme for SC / ST / OBC Students)

यह योजना छत्तीसगढ़ राज्य में एसटी / एससी और ओबीसी के छात्र एवं छात्राओं के लिए है, जिसे अनुसूचित जाति और जनजाति कल्याण विभाग की देखरेख में शुरू किया गया हैं. इस योजना में योग्य ओबीसी श्रेणी की छात्राओं को प्रतिवर्ष 600 रूपये एवं योग्य छात्रों को प्रतिवर्ष 450 रूपये छात्रवृत्ति स्वरुप दिए जा रहे हैं. वहीँ यदि वे अनुसूचित जाति एवं जनजाति से संबंध रखते हैं तो ऐसे में छात्राओं को 1000 रूपये प्रतिवर्ष एवं छात्रों को 800 रूपये प्रतिवर्ष छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान किये जा रहे हैं. इसके लिए केवल वे छात्र – छात्राएं पात्र होंगे, जोकि प्री – मेट्रिक स्तर पर अध्ययन कर रहे हैं. और साथ ही जिनकी परिवारिक सालाना आय 2 लाख रूपये से अधिक नहीं है. इसके लिए उन्हें अपना जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, हालही में पास की गई कक्षा की मार्कशीट, आवासीय प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक, आधार कार्ड एवं अपनी पासपोर्ट साइज़ की फोटो आदि दस्तावेज आवेदन फॉर्म के साथ देने होंगे. इस योजना में आवेदन करने की अवधि अक्टूबर से दिसम्बर के बीच की है और इस अवधि में आवेदन आप ऑनलाइन छत्तीसगढ़ छात्रवृत्ति पोर्टल 2.0 http://mpsc.mp.nic.in/CGPMS/Default.aspx पर जाकर ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भर कर कर सकते हैं.

  • राज्य छात्रवृत्ति योजना छत्तीसगढ़ (Rajya Chhatravritti Yojana Chhattisgarh)

इस योजना को भी एससी / एसटी एवं ओबीसी श्रेणी के छात्र एवं छात्राओं के लिए शुरू किया गया हैं और इसकी देखरेख भी अनुसूचित जाति और जनजाति कल्याण विभाग द्वारा की जा रही हैं. इस योजना में वे छात्र एवं छात्राएं जोकि कक्षा 3 से कक्षा 5 तक में पढ़ाई कर रहे हैं उन्हें प्रतिवर्ष 500 रूपये दिए जा रहे हैं. इसके अलावा वे छात्र एवं छात्राएं जोकि एसटी / एससी श्रेणी के हैं और कक्षा 6 से कक्षा 8 के बीच में पढ़ाई कर रहे हैं, ऐसी छात्राओं को 800 रूपये एवं छात्रों को 600 रूपये प्रतिवर्ष प्राप्त हो रहे हैं. और यदि वे ओबीसी श्रेणी के हैं तो फिर ऐसी छात्राओं को 450 रूपये एवं छात्रों को 300 रूपये की छात्रवृत्ति सालाना प्रदान की जाती है. इसके लिए आवश्यक हैं कि लाभार्थी इन्हीं कक्षाओं में पढ़ाई कर रहा हो तभी उन्हें इसका लाभ प्राप्त हो सकता है, साथ ही उनका परिवार आयकर के दायरे में नहीं आता हो, और उनके पास 10 एकड़ से ज्यादा जमीन नहीं होनी चाहिए. इसके लिए आवेदकों को वही सब दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जोकि ऊपर दर्शाए गये हैं. इसके लिए भी आवेदक अक्टूबर से दिसंबर तक के महीने में आवेदन कर सकते हैं. और इसमें भी वे आवेदन ऑनलाइन छत्तीसगढ़ छात्रवृत्ति पोर्टल 2.0 की अधिकारिक वेबसाइट में जाकर कर सकते हैं.   

  • अनुसूचित जाति / जनजाति / ओबीसी के छात्रों के लिए पोस्ट – मेट्रिक छात्रवृत्ति योजना (Post – Matric Scholarship Scheme for SC / ST / OBC Students)

इस स्कॉलरशिप योजना में भी एसटी / एससी एवं ओबीसी श्रेणी के लोग शामिल हैं, और इसे भी अनुसूचित जाति और जनजाति कल्याण विभाग के तहत चलाया जा रहा है. इस योजना के तहत वे छात्र एवं छात्राएं जोकि एसटी / एससी श्रेणी के हैं और हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही हैं उन्हें प्रतिवर्ष 3800 रूपये और जो हॉस्टल में नहीं रह रहे हैं उन्हें 2250 रूपये छात्रवृत्ति के रूप में दिए जा रहे हैं. इसके अलावा वे छात्र एवं छात्राएं जोकि ओबीसी श्रेणी के हैं उनमें से जो हॉस्टल में रहने वाले छात्र एवं छात्राएं हैं उन्हें 11 वीं कक्षा में 1000 रूपये एवं 12 वीं कक्षा में 1100 रूपये दिए जा रहे हैं और यदि वे हॉस्टल में नहीं रह रहे हैं तो उन्हें 11 वीं कक्षा में 600 रूपये और 12 वीं कक्षा में 700 रूपये प्रतिवर्ष प्रदान करने का प्रावधान है. इसके लिए यह आवश्यक है कि आवेदन करने वाले एससी / एसटी श्रेणी के लाभार्थी के परिवार की सालाना आय 2.50 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए, और ओबीसी श्रेणी के लाभार्थी के परिवार की सालाना आय 1 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए. इसके साथ ही लाभार्थी यदि पोस्ट – मेट्रिक स्तर की पढ़ाई कर रहा हो तभी वह इस योजना में आवेदन करने के लिए पात्र है. इस योजना में आवेदन करने की अवधि एवं प्रक्रिया और साथ ही आवश्यक दस्तावेज ऊपर दी हुई योजना के समान ही है.

  • कन्या साक्षरता प्रोत्साहन योजना (Kanya Saksharta Protsahan Yojana)

कन्या साक्षरता प्रोत्साहन योजना केवल अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों के लिए है जिसे छत्तीसगढ़ के समाज कल्याण विभाग के तहत शुरू किया गया था, इस योजना में जो भी छात्राएं एसटी / एससी श्रेणी के हैं और इस योजना में योग्य लाभार्थी हैं उन्हें 500 रूपये प्रतिवर्ष छात्रवृत्ति स्वरुप प्रदान किये जा रहे हैं. इस योजना में केवल छात्राओं को आवेदन करने की अनुमति दी गई हैं. यानि इसमें केवल छात्राएं ही शामिल होकर लाभ प्राप्त कर सकती हैं. साथ ही इसमें लाभार्थी कक्षा 5 वीं या उससे ऊपर की कक्षा में पढ़ाई कर रही हो तभी वे इसके लिए योग्य हैं. अतः इस योजना में आवेदन सितंबर से दिसंबर तक के बीच में लाभी भी किया जा सकता है. इसमें आवेदन करने के लिए ऑनलाइन छत्तीसगढ़ छात्रवृत्ति पोर्टल पर जाएँ और निर्धारित फॉर्मेट में आवेदन पत्र भरें और इसे संस्था प्रमुख के माध्यम से जिला समाज कल्याण या जनपद पंचायत कार्यालय में जमा कर दें. इसके लिए आपको जाति प्रमाण पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, पासबुक की फोटोकॉपी और पासपोर्ट आकार की फोटो की आश्यकता पड़ेगी. और फिर इस तरह से आवेदन कर आप इस योजना में लाभ प्राप्त कर सकेंगे.

  • अनक्लिन बिज़नस स्कॉलरशिप योजना (Unclean Business Scholarship Scheme)

इस योजना में आवेदक एससी / एसटी एवं ओबीसी श्रेणी के है, और इसे भी छत्तीसगढ़ के समाजिक कल्याण विभाग द्वारा शुरू किया गया है. इस योजना में योग्य आवेदकों को 1850 रूपये छात्रवृत्ति स्वरुप प्रदान किये जा रहा है. और इसके आवेदक कक्षा 1 से 5 तक के छात्र एवं छात्राएं हो सकते हैं. इसके साथ ही इस योजना में कुछ चुनिंदा व्यवसायों को पात्र माना गया है इसके अलावा और किसी वर्ग के लोग इसमें शामिल नहीं है. इस योजना में चुने गए व्यवसायों में कचरा साफ करने वाले परिवार, कचरा बीनने / इकट्ठा करने वाले परिवार आदि इसी तरह के काम करने वाले परिवारों के छात्र एवं छात्राएं ही पात्र है. इसके लिए आवेदकों को अपने परिवार की वार्षिक आय का प्रमाण पत्र प्रदान करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इसमें कोई आय सीमा निर्धारित नहीं है. केवल इसमें दिए हुए व्यवसाय में काम करने वाले परिवार के बच्चे ही पात्र हैं. इस योजना में शामिल होने के लिए आवेदन की अवधि एवं आवेदन करने की प्रक्रिया कन्या साक्षरता प्रोत्साहन योजना की तरह ही है. इसलिए इसमें आवश्यक दस्तावेज भी वहीँ सब उपयोग में आएंगे.

  • मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन पहल योजना (Chief Minister Gyan Protsahan Initiative Scheme)

मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन योजना सभी श्रेणी के छात्र एवं छात्राओं के लिए है, जिसे छत्तीसगढ़ के बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन के माध्यम से शुरू किया गया है. इस योजना के तहत सभी योग्य लाभार्थियों को 15,000 रूपये की छात्रवृत्ति की राशि प्रदान की जा रही है. इस योजना के लाभार्थी वे है जोकि या तो कक्षा 10 वीं में या कक्षा 12 वीं में पढ़ाई कर रहे है. इसके साथ ही लाभार्थी का अपनी पिछली कक्षा में अच्छे अंकों से पास होना भी आवश्यक है. इस योजना में आवेदन करने वाले व्यक्ति ने छत्तीसगढ़ सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड या इंडियन कौंसिल सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड या सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड से पढाई की हुई हो तभी वे इस योजना में आवेदन करने के लिए पात्र हैं. इस योजना में आप अगस्त से अक्टूबर तक के महीने के बीच में आवेदन कर सकते हैं. इस योजना के लाभार्थी ऊपर दी हुई योजनाओं की आवेदन प्रक्रिया की तरह इसमें भी आवेदन कर सकते हैं. इस तरह से यह योजना का संचालन हो रहा है.

  • विकलांग छात्रवृत्ति योजना (Disabled Scholarship Scheme)

यह योजना जैसा कि नाम से समझ आ रहा है कि यह योजना विकलांग लोगों के लिए शुरू की गई है इसमें सभी जाति के लोगों को पढ़ाई के लिए सहायता प्रदान की जा रही है. इस योजना को छत्तीसगढ़ राज्य सरकार एवं समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित किया जा रहा है. इस योजना में वे छात्र जोकि विकलांग हैं और साथ ही कक्षा पहली से कक्षा 5 वीं तक में पढ़ रही हो उन्हें 150 रूपये प्रतिवर्ष प्रदान किये जा रहे हैं. कक्षा 6 वीं से 8 वीं तक के छात्रों को 170 रूपये और इसके बाद की 9 वीं से 12 वीं तक की कक्षा वालों को 190 रूपये छात्रवृत्ति के रूप में दिए जाने का प्रावधान रखा गया है. इस योजना में यह पात्रता होना आवश्यक है कि आवेदक स्कूल या कॉलेज या किसी टेक्निकल कोर्स में नियमित रूप से पढ़ाई कर रहा हो. और साथ ही वह कम से कम 40 % विकलांग होना चाहिए तभी वह इस योजना के लिए पात्र है, इसके लिए उन्हें अपना विकलांगता होने का प्रमाण या डॉ. की रिपोर्ट आदि जमा करनी पड़ सकती है. और विकलांग होने के साथ ही यह सुनिश्चित करना इस योजना में आवश्यक है कि आवेदन करने वाले व्यक्ति की पारिवारिक आय 8000 रूपये से ज्यादा ना हो. तभी वह इस योजना में आवेदन करने के लिए पात्र है. इस योजना में आवेदन करने की अवधि अगस्त से सितंबर तक की सुनिश्चित की गई है. और इसमें आवेदन उसी प्रकार से किया जाना है जैसा कि ऊपर की योजनाओं में दिया गया है.

  • डीटीई छत्तीसगढ़ छात्रवृत्ति योजना (DTE Chhattisgarh Scholarship Scheme)

डीटीई छत्तीसगढ़ स्कॉलरशिप योजना भी सभी श्रेणी के छात्र एवं छात्राओं के लिए शुरू की गई है. और इसे छत्तीसगढ़ के डायरेक्टरेट ऑफ़ टेक्निकल एजुकेशन की देखरेख में चलाया जा रहा है. इस योजना के अंतर्गत आने वाले योग्य लाभार्थियों को 2000 रूपये की प्रतिमाह छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है. इसमें वहीँ आवेदन करने वाला व्यक्ति लाभ प्राप्त कर सकता है जिसने कक्षा 12 वीं में 60% से अधिक अंक प्राप्त किये हो. और साथ ही उसने यह कक्षा उस संस्थान से पास की हो जिसे अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद द्वारा मान्यता प्राप्त हुई हो तो वे इस योजना में आवेदन कर सकते हैं. इस योजना में आवेदन सितंबर से नवंबर महीने में किया जा रहा है. इस योजना का फॉर्म आपको छत्तीसगढ़ स्कॉलरशिप पोर्टल से ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त हो सकता है फिर इसे आपको सही फॉर्मेट में भरकर डायरेक्टरेट ऑफ़ टेक्निकल एजुकेशन के कमिश्नर के कार्यालय में जमा करना है. जिसका पता इंद्रावती भवन, ब्लॉक – 3 3rd / 4th फ्लोर, नया रायपुर, छत्तीसगढ़ है. फॉर्म जमा हो जाने के बाद आपका इस योजना एम् आवेदन पूरा हो जायेगा और आप इस योजना के तहत स्कॉलरशिप प्राप्त कर सकेंगे.  

  • नौनिहाल छात्रवृत्ति योजना (Naunihal Scholarship Scheme)

नौनिहाल स्कॉलरशिप योजना छत्तीसगढ़ के ऐसे छात्र – छात्राओं के लिए शुरू की गई योजना है जिसमें राज्य के सभी श्रमिकों के बच्चों को शामिल किया गया है इस योजना की देखरेख छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य कर्मकार कल्याण मंडल और साथ ही श्रम विभाग के तहत की जा रही है. इस योजना में कक्षा 1 से 5 वीं तक के छात्रों को 1000 रूपये और छात्राओं को 1,500 रूपये छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान किये जा रहे हैं. कक्षा 6 वीं से 8 वीं तक के छात्रों को 1500 रूपये एवं छात्राओं को 2,000 रूपये दिए जा रहे हैं, 9 वीं से 12 वीं कक्षा वाले छात्रों को 2,000 रूपये और छात्राओं को 3,000 रूपये प्रदान किये जा रहे हैं. इसके साथ ही बीए / बीएससी / बी कॉम / आईटीआई डिप्लोमा आदि पाठ्यक्रम में स्नातक करने वाले छात्रों को 3,000 रूपये और छात्राओं को 4,000 रूपये प्राप्त हो रहे हैं. वही यदि आवेदक एमए / एमएससी / एमकॉम या स्नातकोत्तर डिप्लोमा करने वाले हैं तो छात्रों को 5,000 रूपये और छात्राओं को 6,000 रूपये की राशि दी जा रही है. और इसके अलावा यदि वे व्यावसायिक पाठ्यक्रम में स्नातक स्तर पर अध्ययन कर रहे हैं तो उन्हें 6,000 रूपये और छात्राओं को 8,000 रूपये दिए जाने का प्रावधान है. साथ ही स्नातकोत्तर स्तर के व्यावसायिक पाठ्यक्रम में, पीएचडी में या रिसर्च कार्य करने वाले व्यक्ति में छात्रों को 8,000 रूपये और छात्राओं को 10,000 रूपये प्रदान किये जा रहे हैं. इस तरह से यह योजना लाभार्थियों को छात्रवृत्ति प्रदान कर रही हैं इस योजना में श्रमिकों के बच्चे ही पात्र हैं और एक परिवार से केवल 2 लोग ही शामिल हो सकते हैं. इस योजना में आवेदन करने के लिए आवेदकों को छत्तीसगढ़ शासन श्रम विभाग की अधिकारिक वेबसाइट में जाना है इस वेबसाइट में जाकर आप इस योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं और सबमिट कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं. इस तरह से यह योजना सभी योग्य छात्र एवं छात्राओं के लिए बहुत लाभकारी योजना है.

  • छत्तीसगढ़ मेधावी छात्र शिक्षा प्रोत्साहन योजना (Chhattisgarh Medhaavi Chhatra Shiksha Protsahan Yojana)

छत्तीसगढ़ की इस योजना को भी राज्य के श्रमिकों के बच्चों के लिए शुरू किया हैं और इसे श्रम कर्मकार मंडल एवं श्रम विभाग द्वारा संचालित किया जा रहा है. इस योजना में आवेदक 10 वीं, 12 वीं, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन, एवं कुछ चयनित पाठ्यक्रम में पढ़ाई करने वाले छात्र एवं छात्राओं को लाभ प्रदान किया जा रहा है. इस योजना के तहत 10 वीं, 12 वीं, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन में यदि आवेदक ने 75 % अंक प्राप्त किये हैं तो उसे इस योजना के अंतर्गत 5,000 से 12,000 रूपये तक की राशि प्राप्त होगी. और यदि आवेदक का 10 वीं और 12 वीं कक्षा में टॉप 10 की सूची में नाम शामिल हैं तो उन्हें 1 लाख रूपये प्राप्त होंगे, इसी तरह महाविद्यालय या व्यावसायिक शिक्षण संस्थान में एडमिशन लेने वाले छात्र एवं छात्राओं को हर सेशन में शिक्षण शुल्क भी प्राप्त होगा. अतः इस योजना में श्रमिकों के एक परिवार से केवल 2 बच्चों को ही प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी. इस योजना में आवेदकों को अपनी 10 वीं या 12 वीं या ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन को 75 % अंक के साथ पास होने का प्रमाण देना होगा. इसके लिए वे अपनी अंकसूची की कॉपी जमा कर सकते हैं. इस योजना में आवेदन करने के लिए आपको श्रम कर्मकार विभाग की अधिकारिक वेबसाइट में क्लिक कर इस योजना का फॉर्म भरना होगा. और फिर इस योजना में लगने वाले सभी दस्तावेजों को इसमें अटैच कर फॉर्म को जमा करना है. इस तरह से आपका इस योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

ये सभी योजनायें छत्तीसगढ़ राज्य के छात्र एवं छात्राओं को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के लिए संचालित की जा रही है, ताकि सभी लोग बिना वित्तीय परेशानी के अपनी शिक्षा को पूरी कर सकें.  

Other links –