श्रमिक भरण पोषण भत्ता योजना उत्तर प्रदेश 2020

योगी सरकार ने 1-1 हजार रुपये भरण पोषण भत्ता प्रति दिहाड़ी मजदूर एवं कन्स्ट्रकशन मजदूर को देने का फैसला किया (UP Govt announces Shramik Bharan Poshan Bhatta Yojana to Daily Wage labourers)

उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक नई योजना की शुरुआत की है. यह योजना दुनिया भर में फैल रहे कोरोनो वायरस से संबंधित है, चूंकि हम सभी जानते हैं कि विकट परिस्थितियों के कारण देशभर में लोकडाउन की स्थिति उत्पन्न होती जा रही है. पिछले दिन ही लखनऊ को संदिग्ध शहर माना जा रहा है. जहां पर बहुत से कोरोनावायरस ग्रसित मरीज पाए जा सकते हैं ऐसा अनुमान हैं. ऐसे में सरकार ने नागरिकों से यह अपील की है कि वह घर से बाहर ना निकले, बहुत ज्यादा जरूरत होने पर ही घर से बाहर निकले.  ऐसे में परेशानी उन लोगों के लिए हो जाती हैं जो कि रोज की मजदूरी से अपना घर चलाते हैं. इस तरह के लोगों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने 1000 रुपये देने का फैसला किया है ताकि वे इन विकट परिस्थितियों में रोजमर्रा का जीवन बिना किसी परेशानी के निकाल सके.

daily wage labourers up govt hindi yogi

योजना भरण पोषण भत्ता
किसने लॉंच की यूपी सरकार द्वारा
कब लॉंच की गई 2020
लाभार्थी दिहाड़ी मजदूर एवं कन्स्ट्रकशन मजदूर
लाभ 1000 रुपये प्रति मजदूर [ लगभग 15 लाख दिहाड़ी एवं 20 लाख कन्स्ट्रकशन मजदूर ]

किन्हे मिलेगा लाभ

इस योजना के अंतर्गत 15 लाख दिहाड़ी मजदूर एवं 2000000 कंस्ट्रक्शन मजदूरों को 1000 रुपये उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से दिए जाएंगे ताकि वह अपना जीवन आसानी से व्यापन कर सकें.

योजना का उद्देश्य

पूरे देश में कोविड -19 बीमारी के कारण बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।  ऐसे में वे वर्ग के लोग जो कि रोज मेहनत करके अपना परिवार का पोषण करते हैं. उनके लिए यह समय निकाल पाना बहुत ही मुश्किल है.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों से अपील की थी कि वह अपने आसपास एवं अपने घरों में आने वाले ऐसे लोगों का ध्यान रखें.

आवेदन प्रक्रिया

ऐसी परिस्थितियों में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उठाया जाने वाला यह कदम काफी सराहनीय है. योगी जी ने आदेश दिए है कि सभी पंजीकृत मनरेगा और दुसरे मजदूरों के रजिस्टर बैंक अकाउंट में तुरंत अमाउंट ट्रान्सफर का काम शुरू किया जाये. इसका लाभ लेने के लिए किसी भी मजदूर को आवेदन की आवश्कता नहीं है, राशी सीधे डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर के द्वारा बैंक में आ जाएगी. 

पूरे प्रदेश में 23 लोगों को कोरोनावायरस डिटेक्ट हो चुका है. आने वाले समय में यह इतनी तेजी से ना फैले इसके लिए लॉक डाउन जैसे कदम सरकार द्वारा उठाए जा रहे हैं. केंद्र द्वारा सभी राज्यों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं ताकि वे अपने नागरिकों का ख्याल रख सके. साथ ही जनता से भी अपील की जा रही है कि वह सरकार द्वारा प्रेषित किए जाने वाले निर्देशों पर अमल करें. यह बहुत जरूरी है कि इस बीमारी को इसी स्टेज पर यहीं रोक दिया जाए क्योंकि इसके बाद इस बीमारी का रूप काफी भयावह हो सकता है ऐसे में इसे रोक पाना काफी मुश्किल होगा.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *