डीजल अनुदान (सब्सिडी) योजना बिहार | [Form] Diesel Subsidy Scheme in Bihar in Hindi

डीजल अनुदान (सब्सिडी) योजना बिहार 2021 [फॉर्म, पंजीकरण] (Diesel Subsidy Scheme in Bihar in Hindi) [Application Form Apply]

किसानों को कृषि के प्रयोजनों के लिए डीजल की आवश्कता होती है. किन्तु बढ़ती महंगाई के चलते उन्हें इससे कई परेशानियां झेलनी पड़ती है. किन्तु अब उन्हें चिंता करने की जरुरत नहीं है. बिहार राज्य सरकार किसनों को उनके कृषि कार्यों के लिए उपयोग होने वाले डीजल पर सब्सिडी प्रदान करने जा रही है. इसके तहत उनकी इससे जुड़ी सारी समस्याओं का समाधान हो जायेगा.

Diesel Subsidy Scheme Bihar

डीजल अनुदान (सब्सिडी) योजना

क्र. म. (S. No.)योजना की जानकारी बिंदु (Scheme Information Points)योजना की जानकारी (Scheme Information)
1.योजना का नाम (Scheme Name)डीजल अनुदान (सब्सिडी) बिहार
2.योजना का लांच (Scheme Launched In)2017
3.योजना की शुरुआत (Scheme Started By)बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमार द्वारा
4.योजना के लाभार्थी (Scheme Beneficiaries)बिहार के किसान
5.संबंधित विभाग (Related Department)कृषि विभाग
6.अधिकारिक वेबसाइट (Official Website)http://dbtagriculture.bihar.gov.in/

योजना की विशेषताएं (Diesel Subsidy Features)

  • किसानों को सहायता :- इस योजना के माध्यम से सरकार बिहार राज्य के किसानों की मदद करना चाहती है. ताकि उन्हें कृषि के लिए उपयोग होने वाले डीजल के लिए परेशानियों का सामना न करना पड़े.
  • अनुदान के लाभार्थी :- इस अनुदान के तहत दी जाने वाले किसानों की संख्या लगभग 11,00 हो सकती हैं. अतः इतने लोग इसके लाभ को प्राप्त कर सकेंगे.
  • ऑनलाइन भुगतान प्रणाली :- पहले जब किसानों को यह सब्सिडी प्रदान की जाति थी तो उसमें 3 महीने का लम्बा समय लगता था, किन्तु ऑनलाइन भुगतान प्रणाली के आने से किसान 25 दिनों के अंदर ही सब्सिडी प्राप्त कर लेंगे. यह उनके बैंक अकाउंट में डाली जाएगी.
  • सब्सिडी की राशि :- इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सब्सिडी की राशि पहले 35 रूपये प्रति लीटर थी, जिसे इस साल की शुरुआत में 40 रूपये प्रति लीटर कर दिया गया था. और अब किसानों को 50 रूपये प्रति लीटर की दर से डीजल सब्सिडी के पैसे प्रदान किये जायेंगे.
  • अन्य सुविधा :- ग्रामीण इलाकों में पहले 16 से 18 घन्टे बिजली की सप्लाई होती थी, किन्तु अब इन्हें सिंचाई के उद्देश्य के लिए दिन में 20 से 22 घन्टे बिजली सप्लाई की जाएगी. कृषि के उद्देश्य के लिए बिजली का टैरिफ 96 पैसे प्रति यूनिट से घटाकर 75 पैसे प्रति यूनिट हो गया हैं. यह 75 पैसे प्रति यूनिट की दर राज्य ट्यूबवेल्स या निजी ट्यूबवेल्स पर भी लागू होगी.  

योजना के लिए पात्रता मापदंड (Diesel Subsidy Eligibility)

  • बिहार का निवासी :- इस योजना के लिए आवासीय पात्रता पर खरा उतरना आवश्यक है अतः बिहार के किसान ही इस योजना का लाभ उठा पाएंगे.
  • केवल किसानों के लिए :- इस योजना में दी जाने वाली सब्सिडी केवल किसानों को प्रदान की जाएगी, ताकि उन्हें कृषि कार्य में परेशानी न हो सके.
  • बैंक अकाउंट धारकों के लिए :- सब्सिडी की राशि बैंक अकाउंट धारकों को ही प्रदान की जाएगी. इसके लिए किसानों का खुद का बैंक में अकाउंट होना बहुत आवश्यक है.

इसके लिए आवश्यक दस्तावेज (Diesel Subsidy Requirements)

  • किसानों का आवासीय प्रमाण पत्र इस योजना के लिए बहुत आवश्यक है, क्योकि इसका लाभ बिहार के निवासियों के लिए हैं. साथ ही किसानों का खुद के नाम का बैंक अकाउंट जोकि उनके आधार कार्ड से लिंक हो होना आवश्यक है.
  • इस योजना का फॉर्म भरने के लिए पूछी जाने वाली सभी जानकारियों का होना बहुत आवश्यक है. इन जानकारियों में आधार नंबर सबसे जरूरी है.
  • आवेदकों का बिहार राज्य सरकार के कृषि विभाग की अधिकारिक वेबसाइट http://dbtagriculture.bihar.gov.in/Krishimis/ पर रजिस्टर होना आवश्यक है. साथ ही उनके पास डीजल खरीद की स्कैन की हुई रसीद भी होनी चाहिए.

इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया (Diesel Subsidy Online Application Process)

सभी इच्छुक एवं योग्य किसानों को इस सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए इसके ऑनलाइन आवेदन फॉर्म को भरना होगा. इसके लिए प्रक्रिया इस प्रकार है –

  • सबसे पहले आपको सब्सिडी के लिए आवेदन करने के लिए इसके अधिकारिक वेब पोर्टल http://dbtagriculture.bihar.gov.in/ पर विजिट करना होगा.
  • जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे आपके सामने कई विकल्प दिखाई देंगे उनमें से आपको ‘डीजल अनुदान’ पर क्लिक करना होगा, इससे आप सब्सिडी पेज पर पहुँच जायेंगे.
  • यहाँ आपसे आवेदन का प्रकार एवं पंजीकरण संख्या पूछा जायेगा. आपको आवेदन के प्रकार में “डीजल अनुदान आवेदन” का चयन करना होगा एवं अपनी सही – सही पंजीकरण संख्या भरनी होगी. इसके अलावा यहाँ इसके कुछ दिशानिर्देश भी दिए हुए होंगे. उसे ध्यान से पढ़ें.
  • यहाँ से आप आवेदन फॉर्म को ऑनलाइन भरने की प्रक्रिया में पहुँच जायेंगे. जहाँ आपको अपनी डीजल की खरीद की स्कैन की हुई रसीद को अपलोड करना होगा.
  • इसके साथ ही आपको यहाँ अपना बैंक अकाउंट नंबर भी देना होगा जोकि आपके आधार कार्ड से लिंक किया हुआ हो.
  • यदि सभी जानकारी सही – सही और जगह पर हैं तो सम्बंधित विभाग द्वारा डीजल की सब्सिडी सीधे आवेदक के बैंक अकाउंट में स्थानान्तरित कर दी जाएगी.  

यह बिहार के किसानों के लिए बहुत अच्छी खबर हैं, जोकि बिहार राज्य सरकार द्वारा दी गई है. इससे न सिर्फ समय की बचत होगी, बल्कि सिस्टम में पारदर्शता भी आयेगी. साथ ही काम भी बहुत अच्छे से हो जायेगा.  

अन्य पढ़े

  1. भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना से कैसे जुड़े
  2. मेदिनी पुरस्कार योजना 
  3. सेवा भोज योजना 
  4. मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना बिहार 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *