(सूची)किसान कर्ज माफ़ी योजना राजस्थान 2019 | [List] Farmer Loan Waiver Scheme Rajasthan In Hindi 2019

किसान कर्ज  माफ़ी योजना राजस्थान 2019-20 (ऋण मोचन) [किसान सूची, जिलेवार किसानों की लिस्ट, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म] (Farm Crop Loan Waiver Scheme Rajasthan In Hindi) [Registration form, Eligibility, Beneficiary (Farmer) List Online (District Wise) , Check Track Application Status, Your name]

राजस्थान सरकारी योजना लिस्ट में किसान कर्ज माफ़ी योजना का नाम भी जुड़ गया है. राज्य सरकार ने राज्य के किसानों के द्वारा लिए लोन को माफ करने की योजना बनाई हैं. योजना की आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, लाभार्थी किसानों की सूची की जानकारी आपको यहाँ मिलेगी. 

राजस्थान के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसानों को बड़ी राहत दी है. 

Rajasthan-Loan-waiver-Scheme-Kisan-Karz-Mafi-List-Application-Form

नाम किसान फसल कर्ज माफ़ी योजना राजस्थान
लांच 19 दिसम्बर 2018
किसके द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत
किसकी देखरेख राजस्थान किसान कल्याण और कृषि विकास विभाग
लाभार्थी राजस्थान के किसान
ऑफिसियल साईट (Online Portal) lwa.rajasthan.gov.in/index.html
कांटेक्ट मेल आईडी rscbdebtwaiver@gmail.com

राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना मुख्य बिंदु (Loan waiver scheme Rajasthan benefit)

  • मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अल्पकालिन समय के लिए किसानों के द्वारा जो फसल के लिए लोन लिया गया है, उसमें सरकार अब 2 लाख का ऋण माफ़ कर रही है. पहले वसुंधरा राजे की सरकार में किसानों का 50 हजार का ऋण माफ़ हुआ करता था.
  • योजना के अंदर 30 नवम्बर 2018 तक जिस भी किसान ने कर्ज लिया है, उसे इसका लाभ मिलेगा.
  • जिस भी किसान सहकारी बैंक से लोन लिया, उन्हें योजना के पहले चरण में इस योजना का लाभ मिलेगा. अन्य बैंक से लिया गए लोन को भी सरकार आगे चलकर लाभ देगी.
  • राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना के तहत सरकार ने 18 हजार करोड़ का बजट पास किया है. इसके पूर्व बीजेपी सरकार द्वारा फसल ऋण मोचन योजना के लिए 8 हजार करोड़ का बजट पास हुआ था. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि पहले 8 हजार करोड़ में से सिर्फ 2 हजार करोड़ ही सरकार द्वारा इस योजना पर व्यय किया गया था.

राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना योग्यता (Crop Loan waiver scheme Rajasthan Eligibility Criteria)

  • इस योजना का उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों को लाभ दिलाना हैं. अमीर और समृद्ध किसानों को इस योजना के योग्य नहीं माना जायेगा और उन्हें योजना का कोई लाभ नहीं मिलेगा.
  • कर्ज माफी योजना केवल उन किसानों के लिए है, जिन्होंने फसल के लिए लोन लिया है. कृषि में उपयोग होने वाले यंत्र, मशीन, ट्रेक्टर आदि के लिए लिया गया लोन का लाभ किसान नहीं ले पायेंगें.
  • सरकार ने यह भी कहा है कि जिन भी किसान ने 30 नवम्बर 2018 तक सरकार द्वारा चयनित बैंक से लोन लिया है वो ही योजना के लिए योग्य होंगे. बताई गई तिथि के बाद लिए गए लोन को योजना में शामिल नहीं किया जाएगा
  • योजना के लाभार्थी राजस्थान के मूल-निवासी किसान हैं. इसका मतलब यह हैं कि किसान का राज्य में कही भी स्थायी निवास स्थान अवश्य हो.

राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना का आवेदन फॉर्म एवं प्रक्रिया (Crop Farmer loan waiver scheme Rajasthan  Application form Process)

राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना को नए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नए तरीके से लांच किया है. सरकार ने आवेदन के लिए lwa.rajasthan.gov.in पोर्टल को अपडेट किया है. इसमें लॉग इन के लिए आवेदक को https://sso.rajasthan.gov.in/signin?RU=LOANWAIVER साईट में जाकर पंजीकरण करना होगा. जिसके बाद  यहाँ आपको एसएसओ आईडी (SSO ID) मिलेगी. इस एसएसओ आईडी का प्रयोग आप आगे आवेदन स्थिति, लाभार्थी सूची देखने के लिए कर सकते है.

किसान कर्ज माफ़ी योजना लाभार्थी जिला सूची (Rajasthan Farmer Loan Waiver Scheme Beneficiary List District Wise Online)

राजस्थान सरकार ने किसान कर्ज माफ़ी योजना के अंतर्गत लाभार्थियों की सूची सरकारी ऑनलाइन पोर्टल में जारी कर दी है. राजस्थान किसान ऋण माफी योजना के तहत यह किसानों की लाभार्थी सूची फाइनल लिस्ट नहीं है.  सरकार ने यह उन किसानों की सूची तैयार की है, जिन्होंने जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों से ऋण लिया है. जिन किसानों का नाम इस लिस्ट में नहीं आता है, उन्हें चिंता करने की जरुरत नहीं है, क्यूंकि सरकार योजना के तहत लाभार्थी किसानों की दूसरी लिस्ट भी जारी करेगी. सरकारी अधिकारीयों के अनुसार राजस्थान के अन्य बैंकों से कर्ज लेने वाले सभी किसानों को किसान कर्ज़ माफी योजना की सूची में शामिल किया जाएगा.

नीचे आप राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना की पहली लिस्ट चेक कर सकते है –

  • सबसे पहले आपको राजस्थान किसान ऋण माफ़ी योजना के ऑफिसियल पोर्टल में जाना होगा http://lwa.rajasthan.gov.in/
  • यहाँ आपको उपर की तरफ सर्च आप्शन मिलेगा, जहाँ क्लिक करते ही नया पेज खुल जायेगा.
  • यहाँ पर आपको जिला अनुसार बैंक का नाम, ब्रांच का नाम एवं पैक्स का नाम डालना होगा. सभी जानकारी सही डालने के बाद नीचे सबमिट बटन पर क्लिक कर दें.
  • यहाँ अब एक लिस्ट खुल जाएगी, जिसमें 6 कॉलम होंगें, क्रमांक, एप्लीकेशन आईडी, पिता का नाम, कुल राशी की छुट एवं वर्तमान स्थिति. लाभार्थी इस ऑनलाइन लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते है.
  • इसके अलावा उम्मीदवार सीधे लाभार्थियों की ऋण माफी योजना सूची में अपना नाम चेक कर सकते है, इसके लिए उसी पेज में “सर्च योर नाम” बॉक्स में अपना नाम लिख कर क्लिक करें. अगर आपका नाम इस लिस्ट में है तो वह नीचे स्क्रीन पर दिखाई देगा.

राजस्थान किसान ऋण माफ़ी योजना आवेदन की स्थिति (Rajasthan Farm Loan Waiver Scheme Check Track Application Status) –

राजस्थान सरकार की ऑफिसियल साईट पर जाएँ http://lwa.rajasthan.gov.in/Search.aspx . यहाँ आप आधार कार्ड नंबर या भामाशाह फॅमिली आईडी या एप्लीकेशन आईडी डालें. नीचे केप्चा कोड डालें और सबमिट करें. इसके बाद आपको अपने आवेदन की स्थिति ऑनलाइन दिख जाएगी.

किसानों के लिए ऋण माफी योजना 2019 फीडबैक फॉर्म (Debt Waiver Scheme 2019 Feedback Form for Farmers)

ऋण माफ़ी योजना के तहत अगर किसी आवेदक को कोई परेशानी हो, या कुछ जानना हो तो वो इस पोर्टल के द्वारा फीडबैक फॉर्म अधिकारीयों को भेज सकता है. राजस्थान ऋण माफी योजना प्रतिक्रिया फॉर्म पर क्लिक करें, यहाँ एक फॉर्म खुल जायेगा, जिस पर आप अपनी सारी पर्सनल जानकारी भरें. जैसे नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर एवं योजना से जुड़ा जो मेसेज आप लिखना चाहते है लिखें और सबमिट करें.

अभी तक राज्य सरकार ने 3 लाख के उपर प्रमाण पत्र जारी किये है, जिसमें से 21 लाख के लगभग प्रमाण पत्र लाभार्थियों को बांट दिए गए है.

राजस्थान से पहले मध्यप्रदेश किसान कर्ज माफ़ी योजना एवं छत्तीसगढ़ किसान कर्ज माफ़ी योजना भी नयी कांग्रेस सरकार ने लागु की है.

राजस्थान सरकार की तरफ से होने वाली सारी योजनाओं की जानकारी हमारी इस साईट में आपको मिलेगी. नयी योजनाओं की जानकारी समय पर प्राप्त करने के लिए हमारी साईट को सब्सक्राइब करें.

अन्य पढ़े:

One comment

  1. S. B I bank

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *