सोना सोबरन धोती साड़ी योजना आवेदन फॉर्म |Jharkhand Sona Sobran Dhoti Saree Scheme In Hindi

सोना सोबरन धोती साड़ी योजना 2020-21 आवेदन फॉर्म, पात्रता, दस्तावेज, [Jharkhand Sona Sobran Dhoti Saree Scheme In Hindi] Apply Form, Eligibility Criteria, Documents List, Portal, Helpline

झारखंड सरकार ने सोना सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना प्रारंभ करने की योजना तैयार की है। इस योजना को कार्यान्वित करने के लिए राज्य मंत्रिमंडल ने 16 अक्टूबर के दिन मंजूरी दे दी। इस योजना के अंतर्गत गरीब बीपीएल परिवारों को एक साड़ी और एक लूंगी अथवा धोती प्रदान की जाएगी। झारखंड में चलाई जाने वाली इस योजना के अंतर्गत लगभग 57.10 लाख बीपीएल परिवारों को लाभ प्राप्त होगा। इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों को साल में दो बार अनुदानित मूल्य पर कपड़े प्रदान किए जाएंगे।

Jharkhand Sona Sobran Dhoti Saree Scheme

झारखंड सोना सोबरन धोती साड़ी योजना पहली बार पूर्व सरकार द्वारा साल 2014 में सीएम हेमंत सोरेन के नेतृत्व में प्रारंभ की गई थी। इसके बाद रघुवर दास के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ने इसे साल 2015 के दौरान बंद कर दिया था। अब दोबारा से झारखंड कैबिनेट समिति द्वारा इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है जिसमें बंद होती योजना का क्रियान्वयन फिर से किया जाएगा। इस पोस्ट में इस योजना से जुड़ी संपूर्ण जानकारी आपको प्राप्त होगी।

झारखंड सोना सोबरन धोती साड़ी योजना क्या है Sona Sobran Dhoti Saree Scheme In Hindi

साल 2019 के विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में झारखंड मुक्ति मोर्चा द्वारा सोना सोबरन धोती साड़ी योजना को फिर से प्रारंभ करने का वादा किया गया था। अब जब सीएम हेमंत सोरेन कैबिनेट समिति में वापस आ गए तो उन्होंने सोना सोबरन धोती योजना के प्रस्ताव को तुरंत मंजूरी दे दी। आने वाले समय में इस योजना के अंतर्गत वितरित की जाने वाली साड़ी और धोती पीडीएस दुकानों के माध्यम से बाटी जाएगी। वर्तमान के वित्त वर्ष में इस योजना के लिए झारखंड सरकार ने 200 करोड़ रुपए का खर्च किया है।

मुख्यमंत्री सुकन्या योजना झारखण्ड : योजना में लड़कियों को मिल रहे है 40 हजार रूपए, जल्द करें आवेदन

सोबरन धोती साड़ी योजना की विशेषताएं (Benefits) –

  • 16 अक्टूबर 2020 को प्रस्तावित हुई इस योजना के तहत बीपीएल परिवारों को 10 रुपये प्रति पीस के हिसाब से साड़ी और धोती दिए जाएंगे।
  • गरीब परिवार जो नए कपड़े खरीदने से पहले सौ बार सोचते हैं ऐसे में उन्हें सरकार की इस योजना से नए कपड़े भी प्राप्त हो सकेंगे वह भी कम दर पर।
  • सरकार द्वारा वितरित की जाने वाली साड़ी और धोती सार्वजनिक वितरण प्रणाली दुकानों पर उपलब्ध कराई जाएंगी।
  • इस योजना में प्रदान की जाने वाली साड़ी धोती अथवा लूंगी साल में दो बार आवेदकों को दी जाएगी।

सोबरन धोती साड़ी योजना की पात्रता शर्तें (Eligibility Criteria)

  • योजना का लाभ सिर्फ झारखण्ड के निवासियों को ही मिलेगा.
  • योजना का सिर्फ उन्ही को मिलेगा जो गरीबी रेखा के नीचे आते है.

सोबरन धोती साड़ी योजना के जरुरी दस्तावेज़ (Documents required)

  • मूल निवासी पत्र
  • गरीबी रेखा कार्ड
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड

झारखंड मुफ्त स्मार्टफ़ोन योजना – सरकार दे रही है किसानों को फ्री में स्मार्टफ़ोन, आप भी उठायें लाभ

सोबरन धोती साड़ी योजना का लाभ कहाँ से मिलेगा (How to get Jharkhand Sona Sobran Dhoti Saree Scheme benefit)

योजना का लाभ पाने के लिए लाभार्थी को अपने करीबी राशन दुकान में जाना होगा. वहां लाभार्थी अपना राशन कार्ड दिखाकर मात्र 10 रूपए में साड़ी, धोती एवं लुंगी ले सकता है.

झारखंड राज्य खाद्य सुरक्षा योजना क्रियान्वयन स्थगित

झारखंड सरकार कि 10 सदस्य कैबिनेट मीटिंग के दौरान झारखंड राज्य खाद्य सुरक्षा योजना के कार्यान्वयन को फिलहाल स्थगित कर दिया गया उसकी जगह एक नई योजना प्रारंभ की गई जिसका नाम सोना सोबरन धोती योजना है। खाद्य सुरक्षा योजना के तहत प्रत्येक वर्ष झारखंड सरकार हर महीने 1500000 से भी ज्यादा परिवारों को 5 किलो राशन रियायती दरों पर देने वाली थी जिसे पहले 15 नवंबर 2020 राज्य दिवस के उपलक्ष में प्रारंभ किया जाना था। परंतु अभी इस पर रोक लगा दी गई है।

झारखण्ड किसान कर्ज माफ़ी योजना – जाने किन किसानों को मिलेगा इस योजना का लाभ

ट्रांसपोर्टर्स के लिए झारखंड कैबिनेट ने दी राहत

निजी भूतल ट्रांसपोर्टरों के आवेदन पर मंत्रिमंडल ने वाहन के लिए रोड टैक्स माफ करने के लिए राज्य परिवहन विभाग की ओर से प्रस्ताव पारित कर दिया गया। जिसके अंतर्गत निजी, शहर, स्कूल इंटर और intra-state बसे, ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा, ट्रक और अन्य वाणिज्यिक वाहन को शामिल किया गया है। लॉक डाउन की अवधि के दौरान यह सभी वाहन बिल्कुल बंद थे जिसके चलते इनकी स्थिति को ध्यान में रखते हुए मंत्रिमंडल ने टैक्स माफ करने का फैसला लिया है।

साथ ही साथ झारखंड कैबिनेट ने जेईई में एआईसीटीई द्वारा परीक्षा में बैठे हुए विद्यार्थियों की कटऑफ में उन विद्यार्थियों को शामिल कर लिया है जिनकी बोर्ड परीक्षाओं के अंक अच्छे हैं उन्हें राजकीय पॉलिटेक्निक और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश की अनुमति का प्रस्ताव भी कैबिनेट मीटिंग के दौरान पारित कर दिया गया है। सरकार ने ऐसा इसलिए किया है क्योंकि कोविड-19 के कारण संयुक्त इंजीनियरिंग परीक्षा रद्द करनी पड़ गई थी। इन सबके अलावा कैबिनेट मीटिंग के दौरान जमशेदपुर अधिसूचित क्षेत्र के तहत बाबू हार्टू सिंचाई परियोजना के दूसरे संशोधन को भी पास कर दिया गया है जिसके निर्माण के लिए सरकार की तरफ से 30 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

कोविड-19 के दौरान हुए नुकसान की भरपाई करने की पूरी कोशिश झारखंड सरकार द्वारा की जा रही है। कोविड-19 कि इस महामारी के दौरान सबसे अधिक सरकार ही लोगों की सहायक बनी है जिन्होंने अब तक बहुत सारे गरीब परिवारों को सहारा भी दिया है और अन्य सुविधाएं भी समय-समय पर उपलब्ध करवाई है। उन सुविधाओं को पाकर बहुत सारे लोगों को कई प्रकार के लाभ भी प्राप्त हुए हैं।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना झारखंड – सरकार लड़की की शादी के लिए दे रही पैसों की सहायता, जल्द करें आवेदन

नाम

सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना

कहाँ शुरू हुई

झारखण्ड

किसने लांच की

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन

कब लांच हुई

अक्टूबर 2020

लाभार्थी

गरीबी रेखा के नीचे आने वाली

लाभ

धोती, लुंगी, साड़ी मिलेगी

साड़ी कीमत

10 रूपए प्रति पीस

साल में कितने बार में लाभ मिलेगा

2 बार

बजट

200 करोड़ बजट

पोर्टल

नहीं है

हेल्पलाइन नंबर

नहीं है

कहाँ मिलेगी

राशन दुकान (पीडीएस)

FAQ –

Q: सोबरन धोती साड़ी योजना में क्या मिल रहा है?

Ans: एक धोती, लुंगी, साड़ी मिलेगी

Q: सोबरन धोती साड़ी योजना कितने का मिलेगा सामान?

Ans: 10 रूपए प्रति पीस

Q: सोबरन धोती साड़ी योजना का लाभ कहाँ से उठाया जा सकता है?

Ans: राज्य की किसी भी राशन दुकान (पीडीएस)

Q: सोबरन धोती साड़ी योजना का लाभ लाभार्थी कितने बार ले सकते है?

Ans: साल में 2 बार

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *