कामधेनु डेयरी योजना- सरकार देगी 90% लोन, समय पर लोन लौटाने पर होगी 30% की बचत, जानिए कैसे

सरकार देगी 90% लोन, समय पर लोन लौटाने पर होगी 30% की बचत (सब्सिडी), जानिए कैसे- कामधेनु डेयरी योजना 2020-21
राजस्थान सरकार द्वारा कृषकों के लिए एक अहम फैसला लिया गया है इस फैसले के अंतर्गत पशु पालकों एवं डेयरी चलाने वालों को लाभ प्राप्त होगा योजना का नाम कामधेनु डेयरी योजना है. सरकार द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि वह देसी गाय पशुपालकों को डेयरी चलाने के लिए 90% तक का लोन देगी अगर वह किसान समय पर अपना लोन झुका देते हैं तो इस लोन पर सरकार द्वारा उन्हें 30% की सब्सिडी का लाभ दिया जाएगा प्रशासन में या फैसला कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखकर किया है क्योंकि गाय का दूध स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी होता है और पिछले कई वर्षों से इस गाय के दूध में काफी मिलावटी की जा रही है, इसीलिए देसी गाय के दूध को बढ़ावा देने के उद्देश्य से पशुपालकों को कामधेनु डेयरी योजना के तहत सब्सिडी एवं 90% तक का लोन देने का फैसला राजस्थान सरकार द्वारा लिया गया है.
PM आवास योजना: डेडलाइन 31 मार्च 2021 तक बड़ी, घर बनाने के लिए मिल रही 2.5 लाख की सब्सिडी जरुर पढ़े 
kamdhenu yojana
नाम कामधेनु डेयरी योजना
राज्य राजस्थान 
वर्ष 2020 
लाभार्थी कृषक 
लाभ लोन एवं सब्सिडी 
पोर्टल gopalan.rajasthan.gov.in/

 क्या है कामधेनु डेयरी योजना

इस योजना के अंतर्गत गाय पालकों को सरकार की तरफ से लोन एवं सब्सिडी की सुविधा प्रदान की जाएगी निम्नलिखित लोग इस योजना के अंतर्गत लाभ ले सकते हैं .

  1. पशुपालक
  2. गोपाल
  3. महिलाएं
  4. युवा
  5. एवं किसान
  • यह योजना इन लोगों के लिए स्वरोजगार उत्पन्न करने हेतु एक सुनहरा अवसर है.
  • योजना के अंतर्गत वही लोग भाग ले सकते हैं जो कि देसी गायों के दूध का व्यापार करना चाहते हैं, साथ ही पशुपालन प्रजनन नीति के लिए उन्हें सरकारी मापदंडों का अनुसरण करना होगा .
  • जो भी गाय इस योजना के अंतर्गत शामिल होंगी, वह सभी उच्च नस्ल की अच्छी दूध देने वाली गाय होना आवश्यक है.

पीएम किसान योजना का पैसा नहीं आया तो शिकायत यहाँ करें 

कामधेनु डेयरी योजना

  1. यह योजना वर्ष 2020 एवं 21 में शुरू की गई है जिसके अंतर्गत चुने गए लाभार्थियों को लाभ प्रदान किया जाएगा ताकि वह अपना स्वयं का रोजगार शुरू कर सके और दूसरे लोगों को भी रोजगार दे सके.
  2. योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को अपने व्यवसाय का केवल 10% खर्चा ही स्वयं उठाना होगा.
  3. योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली डेरी के लिए 90% तक का लोन उपलब्ध करवाया जाएगा.
  4. शर्त के अनुसार अगर लाभार्थी समय सीमा के अंतर्गत लोन को वापस लौटा देते हैं तो सरकार द्वारा उन्हें 30% तक की सब्सिडी दी जाएगी, अर्थात 30% पैसा वापस उनके खाते में जमा करवा दिया जाएगा.
  5. सरकार ने मापदंडों के जरिए यह अनुमान लगाया है कि एक डेयरी शुरू करने के लिए 36 लाख तक का व्यय होगा जिसमें 10% व्यय ही लाभार्थियों को उठाना पड़ेगा बाकी काव्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा.

एमएसएमई क्या है व कॉविड 19 उद्योग लोन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया जानने के लिए यहाँ क्लिक करे .

कामधेनु डेयरी योजना आवेदन करने की प्रक्रिया

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए सरकार द्वारा एक आधिकारिक वेबसाइट लांच की गई है . इस वेबसाइट के जरिए आप आसानी से फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं और फॉर्म को भर कर कार्यालय में जमा करवा सकते हैं.

राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा  नक़ल प्राप्त करने के लिए इस आर्टिकल पर दी गई जानकारी क्लिक करके देखे .

कामधेनु डेयरी योजना अंतिम तिथि

इस योजना के अंतर्गत जो लोग लाभ लेना चाहते हैं उन्हें 30 जून 2020 तक आवेदन भरकर कार्यालय में जमा करवाना अनिवार्य होगा.

गाय का दूध स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होता है वर्तमान समय में दूध में काफी तरह की मिलावट की जाने लगी है जिससे लोगों के स्वास्थ्य में गिरावट आई है. इसके लिए बहुत जरूरी है कि नागरिकों तक अच्छा दूध पहुंचे और गाय का दूध सबसे बेहतर माना जाता है जिससे मनुष्यों की इम्यून सिस्टम में वृद्धि होती है.

अन्य पढ़े

  1. किफायती किराया आवास योजना 
  2. पीएम फ्री सिलाई मशीन योजना
  3. एमएसएमई बिजनेस लोन 59 मिनिट 
  4. PM आत्मनिर्भर भारत ऋण योजना 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *