X

श्रमिक (मजदूर) कार्ड फॉर्म मध्यप्रदेश

श्रमिक (मजदूर) कार्ड फॉर्म मध्यप्रदेश  (Madhya Pradesh Labour Card in Hindi)

मध्यप्रदेश राज्य में कई ऐसे असंगठित श्रमिक हैं. जिनके पास अपनी पहचान न होने के कारण वे सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधा से वंचित रह जाते हैं. इससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार भी नहीं हो पाता है. किन्तु इस साल राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना का शुभारंभ किया गया, जिसके अंतर्गत गरीब परिवारों, किसानों एवं मजदूरों के लिए कई योजनायें लागू होती है. अब इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए विभिन्न विभागों ने सभी मजदूरों की पहचान के लिए एक मजदूर कार्ड जारी करने का फैसला लिया है, जिससे किसानों एवं मजदूरों के हित का लाभ उन्हें प्राप्त हो सके.

योजना के लांच की जानकारी (Launch Details)

क्र. म.योजना की जानकारी बिंदु (Scheme Information Points)योजना की जानकारी (Scheme Information)
1.योजना का नाम (Scheme Name)मध्यप्रदेश मजदूर कार्ड
2.योजना का लांच (Scheme Launched In)सन 2018
3.योजना की शुरुआत (Scheme Started By)मध्यप्रदेश राज्य सरकार द्वारा
4.योजना का क्रियान्वयन (Scheme Implemented By)मजदूर एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा
5.योजना के लाभार्थी (Scheme Beneficiaries)मजदूर

योजना की विशेषताएं (Card Features)

  • स्मार्ट कार्ड :- राज्य में लगभग 1.76 करोड़ श्रमिकों को यह स्मार्ट कार्ड उपलब्ध कराया जायेगा. इस स्मार्ट कार्ड में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की फोटो भी होगी.
  • स्मार्ट कार्ड का वितरण :- इन श्रमिकों को यह कार्ड 10 जुलाई से लेकर 10 अगस्त के बीच में वितरित किया जाना है. इस बीच केवल उन लोगों को यह कार्ड दिया जायेगा, जिन्होंने पिछले वर्ष मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना के तहत पंजीकरण किया हो.
  • स्मार्ट कार्ड का लाभ :- इसके कई लाभ है जिनमें सब्सिडी वाली बिजली, मुफ्त चिकित्सा उपचार, लोन, मातृत्व लाभ, बच्चों के लिए मुफ्त कोचिंग शामिल है. अब इन सभी का लाभ उठाने के लिए मजदूरों को अपना स्मार्ट कार्ड एवं एक एफिडेविट प्रस्तुत करना होगा.
  • पंजीकरण करने वाले लोग :- इस योजना का लाभ उठाने के लिए कोई भी मजदूर जैसे कृषि मजदूर, दैनिक मजदूर, दूध और सब्जी विक्रेता, कुली, ऑटो रिक्शा चालक एवं किसी दूकान में काम करने वाले मजदूर अपना पंजीकरण करा सकते है.
  • स्मार्ट कार्ड की कीमत :- यह स्मार्ट कार्ड 5 साल तक के लिए मान्य होगा, और साथ ही प्रत्येक कार्ड की कीमत 6 रूपये होगी.
  • स्मार्ट कार्ड के वितरण की देखरेख :- राज्य सरकार ने असंगठित मजदूरों के पंजीकरण, स्मार्ट कार्ड के वितरण की देखरेख एवं इसमें होने वाली कठिनाई को ध्यान में रखते हुए हर जिले में जिला स्तर कार्य बल का गठन किया है.

योजना के लिए पात्रता (Eligibility Criteria)

  • आवासीय योग्यता :- इस योजना में वितरित किये जाने वाले स्मार्ट कार्ड केवल मध्यप्रदेश में असंगठित मजदूर कल्याण योजना के अंतर्गत पंजीकृत होने वाले मजदूरों के लिए है. इसलिए उनका मध्यप्रदेश का पूर्ण रूप से निवासी होना अनिवार्य है.
  • आयु सीमा :- किसी भी मजदूर को स्मार्ट कार्ड प्राप्त करने के लिए आयु सीमा के अंदर होना अनिवार्य है इसके लिए आयु सीमा 18 साल से 60 साल की दी गई है. केवल इस बीच के लोगों को ही यह कार्ड जारी किया जायेगा.
  • कृषि भूमि :- यदि कोई कृषि से जुड़े मजदूर यह स्मार्ट कार्ड प्राप्त करना चाहता है तो उसके पास 1 हेक्टर से कम, खुद की कृषि भूमि होनी चाहिए.

श्रमिक कार्ड प्राप्त करने का तरीका (How To Get Labour Card In MP)

  • सबसे पहले तो यह श्रमिक कार्ड उन्हें प्रदान किया जायेगा जो कि मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना के अंतर्गत पंजीकृत हो, उन्हें सबसे पहले इस लिंक http://shramsewa.mp.gov.in/Default.aspx पर क्लिक करना होगा.
  • जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे, आप इसके होम पेज पर पहुँच जायेंगे. यहाँ आपको लोगिन करने की आवश्यकता होगी. इसके लिए आपके पास अपना यूजर नाम और पासवर्ड होना चाहिए, जो आपको पंजीकरण के दौरान प्राप्त हुआ हो.
  • इसमें लोगिन करने के बाद आपके सामने एक नई विंडो खुलेगी, जिसमें आपके सामने कई विकल्प दिखाई देंगे. इसमें आप सेवाएं विकल्प पर क्लिक करें. यहाँ आपको श्रमिक कार्ड का प्रमाण पत्र प्रिंट करने का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करें.
  • जैसे ही आप यहाँ क्लिक करेंगे, इसके बाद आपसे समग्र सदस्य आईडी पूछी जाएगी उसे भरें, एवं उसके नीचे एक कैप्चा कोड दिखेगा उसे भी भरे. और ‘सदस्य की जानकारी देंखे’ वाले विकल्प पर क्लिक करें.
  • यहाँ आपके सामने आपका स्मार्ट कार्ड खुल जायेगा. आप इसे भविष्य में उपयोग करने के लिए प्रिंट भी करा सकते हैं.
  • यदि आप ऑफलाइन माध्यम से स्मार्ट कार्ड प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको ग्राम पंचायत या नगरीय निकाय में विजिट करना होगा.
  • यहाँ आवेदक को अपनी सारी जानकारी जैसे नाम, आयु, परिवार एवं बैंक अकाउंट देना होगा. इसके बाद ग्राम सभा या वार्ड समिति द्वारा इसकी पूरी जाँच की जाएगी. यदि सब जगह पर हुआ तो वे इसे जारी कर देंगे और आप एक पहचान पत्र के रूप में इसे प्राप्त कर सकेंगे.

श्रमिक कार्ड की स्थिति की जाँच (How To Check Labour Card Status)

  • सबसे पहले पंजीकृत श्रमिक को इस लिंक पर http://shramsewa.mp.gov.in/Public/Reports/CheckStatusOfRegisteredMembers.aspx क्लिक करने की आवश्यकता होगी.
  • यहाँ उन्हें उनकी 9 अंकों की समग्र सदस्य आईडी भरनी होगी. और अंत में सदस्य की जानकारी देखें वाले विकल्प पर क्लिक करन होगा.
  • यहाँ से आप अपने श्रमिक कार्ड की स्थिति की जाँच बहुत आसानी से कर सकते हैं.

इस तरह से श्रमिक अपने हित का लाभ उठाने के लिए एवं अपनी पहचान के लिए श्रमिक कार्ड प्राप्त कर सकते हैं. यह कार्ड आने वाले 5 साल तक के लिए वैलिड रहेगा.

अन्य पढ़े

  1. विदेश अध्ययन छात्रवृत्ति योजना मध्यप्रदेश 2018 
  2. मेधावी छात्र मुफ्त स्कूटी वितरण योजना राजस्थान
  3. निशुल्क पाठ्य पुस्तक योजना मध्यप्रदेश 
  4. समग्र आईडी कैसे बनाये? 
Categories: State
Tags: Madhya Pradesh
Editor :