मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल | Haryana Mera Goan Mera Gaurav Portal In Hindi

हरियाणा मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल [माय विलेज माय प्राइड] (Haryana Mera Goan Mera Gaurav Portal In Hindi)haryanacsr.org

हरियाणा सरकार जल्द ही मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल लांच करने वाली है, जिसे माय विलेज माय प्राइड भी कहा गया है. इस पोर्टल के द्वारा हरियाणा  राज्य में रहने वाले बड़े बड़े उद्योगपति अपने पूर्वजों के गांव के विकास के लिए मदद कर सकते है. यह पोर्टल कॉर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी (सीएसआर) के तहत लांच किया गया. राज्य सरकार इन गांव के विकास के लिए 1000 करोड़ तक की मदद को स्वीकार कर सकता है. हरियाणा सरकार योजनाओं के जरिये प्रदेश का विकास कर रही हैं और इस दिशा में प्रयासरत हैं । 

Haryana Mera Goan Mera Gaurav

हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) समिट 2018 में इसकी जानकारी दी और सीएसआर का पोर्टल लांच किया। पोर्टल में जिला एवं सेक्टर वाइज विकास परियोजनाओं की लिस्ट भी देखी जा सकती है.

बहुत सी बड़ी-बड़ी कंपनियां सीएसआर (CSR) के तहत 177 करोड़ के ऊपर का भी योगदान करने को तैयार हैं. इन गांव में शिक्षा, महिला सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, स्वच्छता, युवाओं को नौकरी और भी महत्वपूर्ण मुद्दों पर ध्यान दिया जायेगा।

पोर्टल का नामहरियाणा मेरा गांव मेरा गौरव पोर्टल
लांच किया गया मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर
किस अवसर पर आईकॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसबिलिटी (CSR) समिट 2018
विभागग्रामीण विकास विभाग
तारीख12 नवंबर 2018
सीएसआर पोर्टलwww.haryanacsr.org

पोर्टल के महत्वपूर्ण बिंदु (Important features)

  • देश में कई ऐसे गांव है, जहाँ बिजली, पानी जैसी रोजमर्रा वाली चीजें भी नहीं पहुँच पाई है. कुछ ऐसे भी गांव है जहाँ सरकार की भी नजर नहीं गई है. ये छोटे गांव से निकलकर कोई न कोई बड़ा उद्योगपति बन जाता है. ये उद्योगपति अपने उन गांव के विकास के लिए सहायता कर सकते है.
  • यह पोर्टल लोगों को उनके गांव से जोड़ेगा, और इच्छुक लोग अपने पुश्तैनी गांव की आर्थिक तौर पर सहायता कर सकते है, जिससे ये छोटे गांव का भी पूर्ण विकास हो सके.
  • बड़े बड़े औद्योगिक कारखानों और निगमों द्वारा किये गए कई विकास कार्यों को इस वेबसाइट पर सूचीबद्ध किया जाएगा।
  • इसके अलावा विभाग ने सभी पंचायत से कहा है कि गांव के विकास की योजना को तैयार करें, साथ ही कितने बजट की आवश्यकता होगी वो रिपोर्ट भी बनायें। पंचायत को यह सारी जानकारी इस ऑफिसियल पोर्टल में डालनी होगी, जिससे लोग अपने हिसाब से गांव का चयन कर सकते है और उसके विकास में सहायक हो सकते है.

सरकार की इस अनोखी पहल से बहुत से गांव का विकास होगा, जिससे देश का भी निरंतर विकास होगा। उद्योगपति भी अपने पैसों को इन गांव के विकास में लगायेंगें, जिससे देश की अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा सही जगह खर्च होगा।

खेल की दुनियाँ में भी हरियाणा का विकास हो इसलिए सरकार ने खेल महाकुम्भ योजना हरियाणा का आयोजन किया हैं ताकि छुपा हुआ टेलेंट बाहर निकल सके ।  

अन्य पढ़े:

  1. मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना 2019 फॉर्म भरे
  2. एमएसएमई बिजनेस लोन 59 मिनिट में प्राप्त करें 
  3. समवेग योजना क्या हैं ?
  4. श्रम विभाग पंजीकरण हरियाणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *