किसान अनुदान योजना-सरकार दे रही है कृषि उपकरणों पर 60,000 तक की सब्सिडी, अंतिम तिथि के पहले करवाए पंजीयन

(रजिस्ट्रेशन) किसान अनुदान योजना 2020 ऑनलाइन फॉर्म उपलब्ध, कृषि उपकरणों पर सब्सिडी का उठाये लाभ अंतिम तिथि के पहले

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा किसान अनुदान योजना शुरू की गई है. इसका मकसद किसानों को कृषि कार्यों में मदद करना है. इस योजना के अंतर्गत किसानों द्वारा खरीदी जाने वाले कृषि उपकरणों के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाती है ताकि वे आसानी से इन उपकरणों को खरीद सकें और अपने खेती-किसानी के कार्यों को कर सके। कृषि उपकरण सब्सिडी योजना के अंतर्गत कैसे अप्लाई कर सकते हैं. पंजीयन फॉर्म कहां से प्राप्त होंगे . सभी सवालों के जवाब यह लिए इस आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ें,।

mp-kisan-anudan-yojana

नामएमपी किसान अनुदान योजना
पोर्टलdbt.mpdage.org/
लाभार्थीकिसान
लाभकृषि उपकरणों पर सब्सिडी
विभागएमपी कृषि विभाग

क्या है किसान अनुदान योजना

यह एक आर्थिक सहयोग योजना है जिसके अंतर्गत सब्सिडी के द्वारा किसानों की मदद की जा रही है. योजना को कृषि उपकरण सब्सिडी योजना के नाम से भी जाना जाता है .इस योजना के अंतर्गत मध्य प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के खरीदे जाने वाले कृषि उपकरणों पर 30 से 50% तक की सब्सिडी दी जाती है ताकि वह आसानी से इन उपकरणों को खरीद सके और अपना कार्य कर सके।

इस योजना के लिए अगर कोई किसान इच्छुक है तो ऑनलाइन पंजीयन की प्रक्रिया मौजूद है, योजना के अंतर्गत अगर कोई महिला के साथ आवेदन करती है तो उसे विशेष लाभ प्राप्त होंगे।

मुद्रा योजना के अंतर्गत भी महिलाओं को विशेष अधिकार प्राप्त होते हैं अगर अब तक आपने इस योजना के बारे में नहीं जाना है तो यहां क्लिक करें और जरूर पढ़ें

किसान अनुदान योजना के बारे में नई जानकारी एवं पंजीयन अंतिम तिथि विवरण

  1. मध्य प्रदेश सरकार द्वारा यह योजना कई वर्षों से चलाई जा रही है, परंतु अभी इस योजना के अंतर्गत नए ऐलान किए गए हैं जिसके अनुसार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना से जुड़कर मध्य प्रदेश सरकार मध्य प्रदेश के किसानों को पाइपलाइन, स्प्रिंकलर सेट, पंप सेट एवं रेंगन जैसे उपकरण सब्सिडी पर मुहैया करवा रही है।
  2. जो भी किसान इस तरह के कृषि उपकरण प्राप्त करना चाहते हैं, वह जल्द से जल्द ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं । इन सिंचाई यंत्रों के लिए आवेदन की तिथि 17 जून 2020 दोपहर के 12:00 से 28 जून 2020 तक हो सकेंगे।
  3. योजना के अंतर्गत लॉटरी भी निकाली जानी है जो कि 29 जून 2020 को होगी।
  4. 29 जून के बाद लाभार्थियों की सूची तैयार कर दी जाएगी एवं विभाग के बाहर लगा दी जाएगी. इसके अलावा ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से भी लाभार्थी की सूची जांची जा सकती है।

किसानों के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक बहुत ही शानदार योजना चलाई जा रही है अगर अब तक आपने सूचना का लाभ नहीं लिया है तो जरूर ले यहां क्लिक करें।

किसान अनुदान योजना के अंतर्गत मिलने वाले उपकरणों की लिस्ट

योजना के अंतर्गत कृषि कार्यों से संबंधी उपकरण सब्सिडी पर प्राप्त किए जा सकते हैं इसमें ज्यादातर उपकरण सिंचाई से संबंधित होते हैं।

  1. विद्युत पंप सेट
  2. डीजल पंप सेट
  3. पाइपलाइन सेट
  4. ड्रिप सिस्टम
  5. स्प्रिंकलर सेट
  6. रेन गन सिस्टम
  7. लेजर लैंड लेवलर
  8. रोटावेटर, पावर टिलर
  9. रेजड बेड प्लांटर
  10. ट्रैक्टर (20 हॉर्सपावर से अधिक)
  11. ट्रैक्टर चलित रीपर कम बाइंडर
  12. स्वचालित रीपर
  13. ट्रैक्टर माउंटेड/ऑपरेटेड सप्रेयर
  14. मल्टी क्रॉप थ्रेशर/एक्सियल फ्लो पैडी थ्रेशर
  15. पैड़ी ट्रांसप्लांटर
  16. सीड ड्रिल
  17. रीपर कम बाइंडर
  18. हैप्पी सीडर
  19. जीरो टिल सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल
  20. सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल
  21. रेस्ट बेड प्लांटर विद इंक्लाइंड प्लेट प्लांट एंड शेपर
  22. पावर हैरो
  23. पावर वीडर(इंज चलित 2 बीएचपी से अधिक)
  24. मल्टीक्रॉप प्लांट्स
  25. ट्रैक्टर (20 हॉर्स पावर तक) छोटे
  26. मल्चर
  27. श्रेडर

एमपी ई – उपार्जन रबी 2020-21 पंजीयन की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे .

MP किसान अनुदान योजना के अंतर्गत निम्नलिखित शर्तें

  1. योजना के अंतर्गत उन्हीं किसानों को शामिल किया जाएगा जो कि पात्रता के सभी नियमों के अंतर्गत शामिल हैं.,
  2. अगर किसी किसान का आवेदन निरस्त कर दिया जाता है तो वह आने वाले 6 महीने तक इस योजना के अंतर्गत पंजीयन नहीं करवा सकता इसीलिए बहुत जरूरी है कि पहली बार में ही फॉर्म सही तरह से भरे।
  3. पोर्टल में पंजीयन करने के बाद किसान को अपने डीलर का चुनाव करना होता है कि वह किस डीलर से अपने लिए कृषि संयंत्र लेना चाहता है. एक बार डीलर का चुनाव कर देने के बाद किसान उसमें परिवर्तन नहीं कर सकता।
  4. किसान को पोर्टल के अंतर्गत डीलर के चुनाव के साथ-साथ रशीद एवं सामग्री की लिस्ट आदि जानकारी देना भी जरूरी होगा।
  5. योजना के अंतर्गत शामिल होने वाले लोगों को ही इस योजना का लाभ प्राप्त होगा दूसरे किसान इस योजना के अंतर्गत लाभ नहीं ले सकते।
  6. योजना के अंतर्गत जो भी राशि का लेनदेन करना है, वह बैंक ड्राफ्ट,चेक ऑनलाइन बैंकिंग के जरिए ही संभव होगा. किसी भी तरह का नगद लेनदेन नहीं किया जाएगा।
  7. पोर्टल द्वारा पूछी गई सारी जानकारी भरने के 7 दिनों के बाद में विभाग द्वारा किसान के दस्तावेजों का पुष्टिकरण किया जाएगा. सभी दस्तावेज सही होने के बाद ही किसान का नाम लाभार्थी सूची में दर्ज होगा।

राशन कार्ड में नए सदस्य का नाम कैसे जोड़ें प्रक्रिया जानने के लिए यहाँ क्लिक करे .

किसान अनुदान योजना पात्रता नियम

  1. जो किसान इस योजना के अंतर्गत ट्रैक्टर पर सब्सिडी लेना चाहते हैं उनके लिए यह नियम है कि उन किसानों ने पिछले 7 वर्षों से ट्रैक्टर अथवा पावर टिलर खरीदने के लिए किसी भी तरह की सरकारी सब्सिडी का लाभ प्राप्त ना किया हो।साथ ही यह किसान ट्रैक्टर अथवा पावर टिलर में से किसी एक पर ही सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं।
  2. जो किसान स्वचालित कृषि उपकरण खरीदना चाहते हैं उनके लिए सरकार द्वारा यह नियम बनाया गया है कि उन किसानों ने पिछले 5 वर्षों में किसी भी तरह के स्वचालित कृषि उपकरण के लिए सरकार की तरफ से सब्सिडी ना ली हो तभी वे इस योजना के अंतर्गत लाभ ले सकते हैं।
  3. जो किसान ट्रैक्टर से चलने वाले कृषि उपकरण पर सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं उन किसानों के लिए जरूरी है कि उनके पास पहले से ट्रैक्टर हो. साथ ही उन्होंने पिछले 5 वर्षों में ट्रैक्टर से चलने वाले कृषि उपकरण पर किसी भी प्रकार की सरकारी सब्सिडी ना ली हो, तभी वह किसान शामिल हो सकेंगे।
  4. जो किसान ड्रिप सिस्टम रेंगन डीजल अथवा विद्युत पंप एवं स्प्रिंकलर के लिए सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं उन किसानों के पास स्वयं की भूमि होना चाहिए. साथ ही यह भी जरूरी है कि उन किसानों ने पिछले 7 वर्षों में इन सच्चाई उपकरणों पर किसी भी प्रकार की सब्सिडी प्राप्त नाक की हो।साथ ही यह भी आवश्यक है कि विद्युत पंप खरीदने वाले किसानों के पास पहले से बिजली कनेक्शन मौजूद हो।

मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना के अंतर्नगत नवीन कार्ड आवेदन पंजीयन प्रक्रिया के लिए यहाँ क्लिक करे .

एमपी किसान अनुदान के लिए दस्तावेजों की लिस्ट

  1. आधार कार्ड की कॉपी, बैंक पासबुक की कॉपी, जाति प्रमाण पत्र, बिजली कनेक्शन का प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फोटो एवं b1 की प्रति।
  2. सरकार द्वारा सब्सिडी का अमाउंट बैंक में भेजा जाएगा इसलिए बैंक पासबुक का होना अनिवार्य है।
  3. अगर किसान अनुसूचित जाति अथवा जनजाति का है उस स्थिति में उसके पास जाति प्रमाण पत्र का होना जरूरी होगा।

पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत मिल रहा बिना ब्याज के लोन, ऐसे बनवाएं अपना कार्ड, यहाँ क्लिक करे .

किसान अनुदान पंजीयन फॉर्म एवं प्रक्रिया

  1. एमपी किसान अनुदान योजना के अंतर्गत पंजीयन करवाने के लिए किसान को किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  2. इस आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर कृषि उपकरणों के लिए पंजीयन कराने हेतु आवेदन लिंक दिखाई देगी इस पर क्लिक करने के बाद अगला पेज खुलेगा जहां पर किसान को दो विकल्प बायोमेट्रिक के माध्यम से अथवा बायोमेट्रिक के बिना में से चुनाव करना होगा किसान अपनी स्वेच्छा से किसी एक का चुनाव कर सकता है।
  3. फॉर्म खुलने के बाद किसान को निजी जानकारी जैसे जिला ब्लाक गांव का नाम किसान का वर्ग कृषि यंत्र का नाम आदि को सावधानी से चयन करना होगा साथ ही आधार नंबर एवं मोबाइल नंबर भी सही तरह से डालना होगा।
  4. संपूर्ण जानकारी भरने के बाद पंजीयन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी एवं सिस्टम के द्वारा आपके मोबाइल नंबर पर एक एप्लीकेशन नंबर भेज दिया जाएगा जो कि आगे की कार्यवाही करने में आपकी मदद करेगा।

PM जन औषधि केंद्र के तहत  सरकार के साथ मिलकर सिर्फ 2.5 लाख रूपए में शुरू करें अपना बिजनेस, यहाँ क्लिक करे .

किसान अनुदान योजना के अंतर्गत फॉर्म का स्टेटस कैसे देखें

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर लाभार्थी फॉर्म का स्टेटस भी चेक कर सकते हैं इसके लिए उन्हें आवेदन की वर्तमान स्थिति है पर लिंक पर क्लिक करना होगा।
  2. फॉर्म में पूछे जाने वाली जानकारी भरनी होगी जिसमें आधार नंबर अथवा एप्लीकेशन नंबर सही तरह से भरना अनिवार्य है इसके बाद लाभार्थी आसानी से अपने फॉर्म का स्टेटस जान पाएंगे।

कृषि उपकरण सब्सिडी योजना मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई है जिसके अंतर्गत किसानों को काफी ज्यादा लाभ प्राप्त होता है और वह आसानी से सब्सिडी की मदद से कृषि उपकरण खरीद कर अपनी आय को बढ़ा सकते हैं।

अन्य पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *