मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना 2021, निशुल्क ईलाज | MP Covid Upchar Yojana

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना 2021, निशुल्क ईलाज, आयुष्मान कार्ड धारक, कोरोना मरीज, पात्रता, आवेदन [MP Covid Upchar Yojana] (Free Treatment, Ayushman Card Patients, Eligibility, Application, Official Website, Toll free Number)

कोरोना वायरस के बढ़ते हुए संक्रमण के कारण गरीब व्यक्ति और कमजोर व्यक्ति काफी ज्यादा परेशान है, इसके इलाज के लिए अत्यधिक खर्च आसानी से निर्वहन नहीं कर सकता है। मध्य प्रदेश की राज्य सरकार ने अपने प्रदेश में गरीबों को और आर्थिक रुप से कमजोर प्रदेश के नागरिकों को कोविड के निशुल्क उपचार के लिए “मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना” का शुभारंभ किया है। इस योजना के अंतर्गत सभी जरूरतमंद लोगों का सरकारी एवं प्राइवेट अस्पतालों में निशुल्क कोविड का उपचार किया जाएगा। आइए इस लाभकारी योजना के बारे में और भी विस्तार पूर्वक से जानकारी इस लेख के माध्यम से जानते हैं।

mp covid upchar yojana in hindi

Table of Contents

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना 2021

योजना का नाममुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना
लांच किया गयामाननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने
लॉन्च तारीखमई, 2021
लाभार्थी राज्यमध्यप्रदेश राज्य
लाभार्थीमध्यप्रदेश राज्य के गरीब और आर्थिक रुप से कमजोर लोग
अधिकारी वेबसाइटज्ञात नहीं
हेल्पलाइन नंबर1075

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना क्या है

मध्यप्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने अपने प्रदेश में कोरोना वायरस की विषम परिस्थिति को देखते हुए “मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना” का शुभारंभ किया है। इस योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश राज्य सरकार अपने प्रदेश में कोरोना संक्रमित रोगियों के निशुल्क इलाज के लिए इस योजना का संचालन करके प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में इसका मुफ्त में इलाज करवा रही है। मध्यप्रदेश राज्य में गरीब एवं कमजोर वर्ग के लोगों को उनके इलाज के लिए सरकार इस योजना के जरिए सहायता प्रदान करेगी।

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना दिशा निर्देश

इस योजना को लेकर मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य विभाग ने कुछ दिशानिर्देश आधिकारिक रूप से दिए हैं, जोकि इस प्रकार है –

  • योजना के अंतर्गत सरकार ने कहा है, कि जो व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना के लिए पात्र हैं, मगर अब तक उनके पास आयुष्मान भारत योजना का कार्ड नहीं है, तो इस परिस्थिति में किसी भी राजपत्रित यानी कि गैजेट अधिकारी के द्वारा प्रमाणित करने के बाद व्यक्ति का निशुल्क इलाज किया जाएगा।
  • मध्यप्रदेश राज्य में आज से पहले प्रत्येक लाभार्थी को सीटी स्कैन और एमआरआई जांच के लिए 5 हजार रुपए प्रति परिवार हर वर्ष दिए जाते थे, परंतु अब वही इसे 5 हजार रुपए प्रति कार्डधारक कर दिया गया है।
  • मध्यप्रदेश राज्य में कुल अस्पतालों की संख्या 579 है, जिसमें से योजना के अंतर्गत मेडिसिन विशेषज्ञता वाले अस्पतालों की संख्या 268 आयुष्मान योजना के अंतर्गत संबंध किए गए हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत जिला स्वास्थ्य समिति एवं अन्य अस्पतालों को 3 माह के लिए अस्थाई संबद्धता देने के लिए अधिकृत कर दिया गया है।
  • आयुष्मान कार्ड धारकों को निशुल्क में इलाज प्राप्त हो सके इसके लिए सरकार ने प्रदेश के लगभग हर जिले में नोडल अधिकारी नियुक्त करने के आदेश जारी किए हैं। प्रत्येक नोडल अधिकारी कलेक्टर के समक्ष उपस्थित रहेगा और इसके अतिरिक्त संबंध अस्पताल के लिए एक प्रभारी अधिकारी भी नियुक्त किया जाएगा, जिसका कार्य केवल संक्रमित के इलाज की मॉनिटरिंग करने का होगा।

मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना मुख्य घटक

प्रथम घटक :-

मध्यप्रदेश राज्य में योजना के अंतर्गत समस्त शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के द्वारा संचालित अस्पताल, समस्त जिला चिकित्सालय, समस्त सिविल अस्पताल एवं कोविड उपचार करने वाले सामूहिक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कोरोना के संक्रमित मरीजों का इलाज निशुल्क में किया जाएगा। योजना के सफल संचालन हेतु शासकीय अस्पतालों में कुल 395 आईसीयू/ एचडीयू बेड, 13394 ऑक्सीजन युक्त बेड और 20601 आइसोलेशन बेड मुहैया करवा दिए गए हैं और निरंतर रूप से इन संख्या में वृद्धि करने का कार्य भी जारी किया गया है।

द्वितीय घटक :-

सरकार ने प्रदेश के कुछ महत्वपूर्ण और संवेदनशील जिलों में निजी चिकित्सा महाविद्यालयों द्वारा संचालित अस्पतालों में आवश्यक संख्या में आइसोलेशन एवं आईसीयू / एडीयू बेड मुहैया करवाने के आदेश जारी किए हैं। वर्तमान समय में कुछ महत्वपूर्ण जिलों में कुल मिलाकर 3675 विभिन्न श्रेणियों के बेड मुहैया करा दिए गए हैं। प्रत्येक अनुबंधित बेड पर भर्ती होने वाले मरीजों का इलाज सरकार बिल्कुल निशुल्क में करेगी।

तृतीय घटक :-

इस लाभकारी योजना के अंतर्गत गरीब एवं आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को कोरोना वायरस का निशुल्क उपचार प्रदान करने हेतु सरकार ने आयुष्मान योजना के अंतर्गत पात्र लोगों का आयुष्मान कार्ड बनाने का आदेश जारी किया हुआ है। इस कार्ड के जरिए मरीज संबंध चिकित्सालय में जाकर निशुल्क उपचार प्राप्त कर सकेगा। मध्यप्रदेश की राज्य सरकार ने संबंध चिकित्सालयों में 20% तक बेड आयुष्मान के हित कार्यों के लिए आरक्षित कर दिए हैं और इससे संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश भी अधिकारियों को दे दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना लाभ

आयुष्मान कार्ड धारकों को लाभ :-

मध्यप्रदेश राज्य में अब तक आयुष्मान कार्ड धारकों की कुल संख्या 2 करोड़ 42 लाख है। अर्थात इस योजना का 70 से 90% तक आयुष्मान कार्ड धारकों को लाभ प्राप्त होगा।

निशुल्क ईलाज सुविधाएँ :-

कोरोना के संक्रमित रोगियों के इलाज के दौरान उन्हें भोजन, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन, सिटी स्कैन के साथ-साथ अन्य सभी आवश्यक सुविधाएं निशुल्क में प्रदान की जाती है।

सरकारी अस्पतालों में मरीजों के लिए उपलब्धता :-

प्रदेश में सरकारी अस्पतालों में 395 आईसीयू, 13224 ऑक्सीजन और वही 20601 आइसोलेशन बेड्स उपलब्ध करवा दिए गए है.

निजी अस्पतालों में मरीजों के लिए उपलब्धता :-

इस लाभकारी योजना के अंतर्गत आयुष्मान कार्ड धारकों के लिए निजी अस्पतालों में 3675 बेड उपलब्ध करवा दिए गए हैं, और वही कार्ड धारकों के लिए योजना से संबंधित किए गए अस्पतालों में 20% बेड पहले से रिजर्व करा दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना पात्रता मापदंड

गरीब एवं आर्थिक रूप से कमजोर :-

इस योजना के अंतर्गत गरीब एवं आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को निशुल्क चिकित्सा प्रदान करने का प्रावधान है।

आयुष्मान कार्ड धारक या खाद्यान्न पर्ची :-

परिवार के किसी भी सदस्य के पास आयुष्मान कार्ड या फिर खाद्यान्न पर्ची, जिससे यह पता चल सके कि वह आयुष्मान कार्ड धारक के लाभार्थी हैं और समग्र आईडी के जरिए भी पता लगाया जा सकता है, कि व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड में नाम शामिल है या फिर नहीं और फिर उसी आधार पर उन्हें लाभ प्रदान किया जाएगा।

समग्र आईडी :-

समग्र आईडी के अंदर आयुष्मान कार्ड धारक का नाम दर्ज होना बेहद आवश्यक है और तभी आपको इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।

राजपत्रित अधिकारी द्वारा प्रमाणित किया जाना है आवश्यक :-

मध्यप्रदेश राज्य के किसी भी शासकीय विभाग के राजपत्रित अधिकारी के द्वारा आपको प्रमाणित करवाना होगा कि मरीज आयुष्मान कार्ड धारक के परिवार का या फिर कार्ड धारक का सदस्य है।

मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना दस्तावेज

राशन कार्ड :-

मरीज के इलाज के दौरान या उसके परिवार के किसी भी सदस्य के इलाज के दौरान आपको अपना गरीबी रेखा के नीचे वाला राशन कार्ड ले जाना अनिवार्य है और लाभार्थी का नाम राशन कार्ड के अंदर दर्ज होना भी चाहिए।

आयुष्मान कार्ड :-

योजना के अंतर्गत मुफ्त चिकित्सा प्राप्त करने हेतु आपको अपना आयुष्मान कार्ड ले जाना होगा।

समग्र आईडी :-

समग्र आईडी भी योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए बेहद आवश्यक है और इस आईडी में मरीज का या फिर उसके परिवार के सदस्य का नाम दर्ज होना चाहिए, जिससे पता चलेगा कि आयुष्मान कार्ड के अंतर्गत आपको लाभान्वित करने के लिए पंजीकृत किया गया है।

मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना अधिकारिक वेबसाइट

इस योजना में आवेदन करने के लिये कोई भी अधिकारिक वेबसाइट लांच नहीं की गई है. क्योकि इसमें किसी भी आवेदन की आवश्यकता नहीं है.

मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना लाभ कैसे लें (How to Apply)

इस योजना के लाभ को प्राप्त करने के लिए आपको अपने नजदीकी जिला चिकित्सक अस्पताल या फिर किसी निजी अस्पताल में आवश्यक दस्तावेज के साथ जाना है और फिर डॉक्टर से इलाज करवाने के लिए कहना है और साथ ही में उन्हें आवश्यक दस्तावेजों को भी दिखाना है। डॉक्टर आपका योजना के अंतर्गत निशुल्क इलाज करना शुरू कर देंगे।

मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना Toll Free Helpline Number

इस योजना का लाभ लेने के लिए को अलग से टोल फ्री नंबर जारी नहीं किया गया है. लाभार्थी 1075 पर ही कॉल करके अस्पताल में जाकर इसका लाभ ले सकते हैं.

मध्यप्रदेश की राज्य सरकार अपने राज्य में गरीबों और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को इस महामारी के इलाज के लिए इस लाभकारी योजना का संचालन कर रही है। इस योजना का लाभ उठाकर मध्यप्रदेश के गरीब वर्ग के लोग अब इस बीमारी के महंगे इलाज के लिए मजबूर नहीं होंगे और ना ही उन्हें अपने जिंदगियों से हाथ धोना पड़ेगा। मध्यप्रदेश सरकार की तरफ से यह काफी लाभकारी योजना इस महामारी से लड़ने के लिए गरीबों के हित के लिए प्रारंभ की गई है।

FAQ

Q : मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना आखिर क्या है ?

ANS : इस लाभकारी योजना में गरीबों और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का कोविड का निशुल्क इलाज किया जाएगा।

Q : मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना को किसने प्रारंभ किया ?

ANS : माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने।

Q : मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना में मरीजों को क्या-क्या सुविधाएं मिलेंगी ?

ANS : कोविड का निशुल्क उपचार इलाज के दौरान सुबह शाम का खाना एवं अन्य स्वास्थ्य संबंधित सेवाएं.

Q : मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना में कौन-कौन लाभार्थी बन सकते हैं ?

ANS : सभी गरीब एवं आर्थिक रूप से कमजोर लोग.

Q : मध्यप्रदेश कोविड उपचार योजना के अंतर्गत कोरोना का निशुल्क इलाज करवाने के लिए क्या करें ?

ANS : इस विषय में जानकारी को हासिल करने के लिए लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़ें।

अन्य पढ़ें :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *