मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक कल्याण योजना हिमाचल प्रदेश | Mukhyamantri Alpsankhyak Kalyan Yojana Himachal Pradesh in Hindi

मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक कल्याण योजना हिमाचल प्रदेश 2020 (Mukhyamantri Alpsankhyak Kalyan Yojana Himachal Pradesh in Hindi) Financial Assistance for Marriage, Health, Pension

हिमाचल प्रदेश में अल्पसंख्यक समुदाय से संबंध रखने वाले कई ऐसे गरीब लोग हैं, जिनकी आर्थिक स्थिति बेहतर नहीं है. खास कर गरीब मुस्लिम परिवार से सम्बन्ध रखने वाले लोग. ऐसे में हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार ने उनकी मदद करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है, जिसके तहत अल्पसंख्यक गरीब मुस्लिम परिवार की लड़कियों की शादी, परिवार के लिए चिकित्सा ईलाज और विकलांग, विधवा एवं बुजुर्गों को होने वाली परेशानियों को कम करने के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन के रूप में वित्तीय समर्थन प्रदान किया जायेगा.  

Mukhyamantri Alpsankhyak Kalyan Yojana Himachal Pradesh

योजना के लांच की जानकारी (Launched Details)

क्र.म.

(S.No.)

योजना की जानकारी बिंदु (Scheme Information Points) योजना की जानकारी (Scheme Information)
1. योजना का नाम (Scheme Name) मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक कल्याण योजना हिमाचल प्रदेश
2. योजना का लांच (Scheme Launched In) 6 अगस्त, 2018
3. योजना की घोषणा (Scheme Announced By) मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा
4. योजना के लाभार्थी (Scheme Target Beneficiaries) अल्पसंख्यक मुस्लिम परिवार से सम्बन्ध रखने वाले
6. संबंधित विभाग (Related Department) मानवाधिकार एवं अल्पसंख्यक विभाग

योजना की विशेषताएं (Yojana Features)

  • अल्पसंख्यकों का विकास :- राज्य सरकार ने समाज के अल्पसंख्यक समुदायों के कल्याण और विकास के लिए इस योजना को शुरू किया है. यह योजना अल्पसंख्यक वर्गों के लोगों को उनके विकास के उद्देश्य के लिए समान अवसर प्राप्त करने में सक्षम करेगी.
  • मुस्लिम परिवार की लड़कियों के लिए (For Girl Marriage) :- इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा अल्पसंख्यक मुस्लिम परिवार की लड़कियों की शादी के लिए 25,000 रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी. यह सहायता केवल अल्पसंख्यक मुस्लिम परिवार की लड़कियों के लिए ही है.
  • अल्पसंख्यक मुस्लिम परिवार के लिए (For Health) :- हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा अल्पसंख्यक मुस्लिम परिवार के सदस्यों को उनके चिकित्सा ईलाज के लिए 5,000 रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी.
  • मुस्लिम विकलांग, विधवा एवं बुजुर्गों के लिए (For Handicapped, Widow and Senior citizen) :- राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश के मुस्लिम परिवार से संबंध रखने वाले विकलांग, विधवा एवं बुजुर्गों के लिए 400 रूपये प्रति महीने वित्तीय सहायता प्रदान करने का फैसला करने जा रही है. इसके साथ ही कैबिनेट कमिटी ने यह भी घोषणा की है कि सामाजिक सुरक्षा पेंशन, 70 साल की उम्र को पार करने वाले लोगों को एक बार प्रदान की जाएगी.

योजना के लिए योग्यता (Eligibility Criteria)

  • इस योजना में दिए जाने वाले चिकित्सा ईलाज के लिए लाभार्थियों का अल्पसंख्यक मुस्लिम परिवार से सम्बन्ध रखना सबसे ज्यादा जरूरी है. इसके बिना वे इसके लिए पात्र नहीं होंगे.
  • इसका लाभ भी केवल उन नागरिकों को प्रदान किया जायेगा, जोकि मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं. यदि वे दुसरे राज्य के रहने वाले हैं और यहाँ आकर रहने लगे हैं तो उन्हें इसका लाभ प्राप्त नहीं हो सकेगा.
  • यदि मुस्लिम परिवार का कोई सदस्य किसी भी पब्लिक सेक्टर के साथ जुड़ा हुआ है यानि किसी सरकारी नौकरी में कार्यरत है, तो वह व्यक्ति इस योजना का लाभ उठाने के लिए सक्षम नहीं होगा.

योजना के लिए आवेदन (Application Form Process)

आवेदकों को इस योजना का हिस्सा बनने के लिए राज्य सरकार से मिलने वाले इसकी अंतिम स्वीकृति तक का इन्तजार करना होगा. जल्द ही इसके क्रियान्वयन के लिए मंजूरी दे दी जाएगी. इसके बाद आवेदन प्रक्रिया को भी अपडेट कर दिया जायेगा.

अन्य घोषणाएं (Other Announcements By State Govt Of Himachal Pradesh)

इस योजना की घोषणा के साथ ही राज्य सरकार ने कुछ अन्य महत्वपूर्ण फैसले भी लिए हैं. राज्य सरकार इन सभी सुविधाओं के अलावा कब्रिस्तान के लिए भी आवश्यक सुविधाएँ प्रदान करेगी. राज्य सरकार द्वारा वक्फ बोर्ड को नये कब्रिस्तान बनाने के लिए जमीन दी जाएगी, जहाँ मुस्लिमों को उनकी मृत्यु के बाद दफन किया जाता है. इसके लिए राज्य सरकार द्वारा डिप्टी कमिश्नरों को पर्याप्त जमीन खोजने के लिए आदेश भी दिये गये हैं.

Other Links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *