[फॉर्म] मुख्यमंत्री कन्यादान योजना छत्तीसगढ़ 2019 | Mukhyamantri Kanyadan Yojana Chhattisgarh in Hindi 2019

[फॉर्म] मुख्यमंत्री कन्यादान योजना छत्तीसगढ़ पंजीयन पोर्टल 2019-20 (CM Kanyadan Yojana Chhattisgarh in Hindi) [Online Form, Check Status, Application Form, Eligibility Criteria]

गरीबी के चलते हमारे देश में कई ऐसे परिवार हैं जिनकी बेटियों की शादी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण कई मुश्किलों से होकर गुजरती है. गरीबी के कारण शादी जैसे बड़े कामों में होनी वाली परेशानियों को दूर करने के लिए सरकार ने कई कदम उठाये हैं. देश के कई राज्यों में बेटियों के विवाह के लिए कई योजनाओं को लागू किया गया है. ऐसा ही छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने गरीब परिवार की बेटियों की शादी कराने के लिए वित्तीय सहायता देने की योजना बनाई है, साथ ही राज्य सरकार उनके विवाह भी कराएगी. हालही में मुख्यमंत्री जी ने इस योजना से जुड़े रायपुर के एक सामूहिक विवाह कार्यक्रम में भाग लिया, जिसमें उनके द्वारा 119 जोड़े को आशीर्वाद दिया गया. इस कार्यक्रम का आयोजन राज्य सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग और राजपूत सेल्फलेस सर्विस एसोसिएशन द्वारा संयुक्त रूप से किया गया. 

Mukhyamantri Kanyadan Yojana Chhattisgarh

योजना के लांच की जानकारी (Mukhyamnatri Kanyadan Yojana Chhattisgarh Launched Details)

क्र. म.योजना जानकारी बिंदु (Scheme Information Points)योजना की जानकारी (Scheme Information)
1.योजना का नाम (Scheme Name)मुख्यमंत्री कन्यादान योजना छत्तीसगढ़
2.योजना की घोषणा (Scheme Announced By)मुख्यमंत्री रमन सिंह द्वारा
3.योजना की शरुआत (Scheme Started in)वित्तीय वर्ष 2005 – 06
4.योजना के लाभार्थी (Scheme Beneficiaries)गरीब परिवार की बेटियां
5.सम्बंधित विभाग (Related Department)महिला एवं बाल विकास विभाग
6.सहायता राशी (Amount)25000/- (Revised in Budget 2019-20)

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की विशेषताएं (Mukhyamnatri Kanyadan Yojana Chhattisgarh Features)

  • सामूहिक विवाह :- इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा गरीब परिवार की बेटियों के विवाह के लिए सहायता के रूप में उनका कन्यादान कराया जायेगा, जिससे उनके विवाह में किसी प्रकार की परेशानी न हो.
  • भवन का निर्माण :- इस योजना में सामूहिक विवाह का आयोजन करने के लिए एक भवन का भी निर्माण कराया गया है, ताकि भविष्य में जब भी गरीब परिवार में शादी हो तब उन्हें कोई भी बोझ न उठाना पड़े.
  • वित्तीय सहायता :- मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह योजना में पहले गरीब परिवारों की बेटियों के विवाह के लिए कुल 15,000 रूपये की वित्तीय सहायता दी जाती थी. लेकिन अब छतीसगढ़ के नयी कांग्रेस सरकार ने अपना पहला बजट 2019-20 पेश किया, जिसमें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह योजना के तहत मिलने वाली राशी 15 हजार से बढ़ा कर 25 हजार कर दी है, जिससे गरीब परिवार की बेटियों की शादी बिना किसी आर्थिक परेशानी से हो सके. योजना के अंतर्गत सरकार सामूहिक विवाह भी आयोजित करती है.
  • अपराधों को रोकना :- इस योजना के क्रियान्वयन से लोगों द्वारा किये जा रहे भ्रूणहत्या एवं दहेज लेने और देने जैसे अपराधों में कमी आयेगी. साथ ही उनमें इसके प्रति जागरूकता भी फैलेगी.
  • बेकार के खर्चों में कमी :- इससे गरीब परिवार की बेटियों की शादी में होने वाले बेकार के खर्चे से छुटकारा मिलेगा, और कम खर्च में सादगीपूर्ण विवाह हो सकेगा. इस योजना के माध्यम से उनका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा एवं उनकी समाजिक स्थिति में भी सुधार हो सकेगा.

योजना के लिए पात्रता मापदंड (Mukhyamantri Kanyadan Yojana Eligibility Criteria)

  • आवासीय योग्यता :- यह योजना छत्तीसगढ़ के गरीब परिवारों की बेटियों को लाभ पहुँचाने के लिए क्रियान्वित की गई है. इसलिए उनका यहाँ का निवासी होना अनिवार्य है.
  • उम्र योग्यता :- इस योजना का लाभ केवल वे बेटियां ही उठा पाएंगी, जिनकी उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक हो. लाभार्थी का इस योग्यता में खरा उतरना सबसे जरूरी है.
  • केवल 2 कन्याओं के लिए :- इस योजना में एक परिवार से केवल 2 बेटियों को ही आवेदन करने की अनुमति दी गई है. 2 से ज्यादा 3 या 4 बेटियां होने पर सभी के लिए इसका आवेदन करने की अनुमति नहीं है.
  • गरीबी रेखा के नीचे वालों के लिए :- यह योजना केवल उन परिवारों के लिए हैं जोकि गरीबी रेखा के नीचे अपना जीवन व्यतीत करते हैं.
  • आय योग्यता :– इस योजना में परिवार के मुखिया यानि आवेदक के माता – पिता की वार्षिक आय गरीब रेखा के अंतर्गत यानि 1 लाख रूपये से कम होनी चाहिए, तभी ये इसके लिए पात्र होंगे.  

योजना में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज (Mukhyamantri Kanyadan Yojana Required Documents)

  • आवासीय प्रमाण पत्र :- छत्तीसगढ़ की बेटियों को इस योजना के तहत आवेदन करने से पहले उन्हें छत्तीसगढ़ के निवासी होने का प्रमाण देना आवश्यक है, कि वे छत्तीसगढ़ की ही रहने वाली हैं.
  • आयु का प्रमाण :- चुकी यह योजना 18 साल या उससे ऊपर की उम्र की लड़कियों को लाभ देने के लिए हैं इसलिए इसके लिए उन्हें अपनी आयु का प्रमाण भी देने होगा इसके लिए वे अपना जन्म प्रमाण पत्र या स्कूल की अंकसूची की कॉपी जमा कर सकती हैं जिसमें जन्मतिथि उल्लेखित हो.
  • बीपीएल कार्ड :- इस योजना का लाभ उठाने वाले गरीब परिवारों को अपने बीपीएल कार्ड की कॉपी जमा करनी भी आवश्यक है. जिससे यह साबित होगा कि वे गरीबी रेखा से नीचे के परिवार से सम्बन्ध रखते हैं.
  • आय प्रमाण पत्र :- परिवार का पालन पोषण करने वाले मुखिया को अपना आय प्रमाण पत्र देना होगा ताकि यह साबित हो सके कि उनकी वार्षिक आय 1 लाख रूपये से कम है.
  • पहचान का प्रमाण :- किसी भी योजना में आवेदन करने से पहले अपनी पहचान देनी आवश्यक होती है. इसलिए आवेदक को अपनी पहचान बताने के लिए आधार कार्ड जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज की कॉपी जमा करना आवश्यक है.

योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया (Mukhyamantri Kanyadan Yojana Registration)

  • इसके लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को इसकी अधिकारिक वेबसाइट https://cgstate.gov.in/web/women-and-child-development/chhattisgarh-chief-minister-bestowing-plan पर विजिट करना होगा.
  • इसके अलावा यदि आप ऑफलाइन इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको जिले के सम्बंधित कलेक्टर या महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारीयों से संपर्क करने की आवश्यकता होगी.

इस योजना के क्रियान्वयन से गरीब परिवारों से सम्बन्ध रखने वाले और साथ ही अपनी बेटियों की शादी को बोझ समझने वाले लोगों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है. यह उनकी सभी परेशानियों को कम करने के लिए शुरू की गई एक पहल है.  

अन्य पढ़े

  1. मालती देवी परक विद्यालय परिधान योजना ओडिशा 2019 
  2. बेगम हज़रत महल राष्ट्रीय स्कालरशिप योजना 2019
  3. सूर्य शक्ति किसान योजना गुजरात 
  4. आरटीई प्रवेश 2019 मध्य प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *