मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना उत्तर प्रदेश 2019 [Form] | Mukhyamantri Yuva Swarojgar Loan Yojana UP in Hindi 2019

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना उत्तर प्रदेश 2019-20 [लोन, आवेदन फॉर्म, ऑनलाइन एप्लीकेशन] (Mukhyamantri Yuva Swarojgar Yojana UP in Hindi) Online Application Form Download, Loan, Check Status upkvib.gov.in

बेरोजगारी की समस्या को कम करने और प्रदेश के युवाओं को अपने पैरों पर खड़े करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की शुरुवात की है.इसमे योग्य युवाओं को कम ब्याज दर में लोन सुविधा दी जाएगी, जिससे वे अपना खुद का काम शुरू कर सकें। यह उत्तर प्रदेश सरकार की यह अच्छी पहल है. यूपी सरकार की योजना हमेंशा अपने प्रदेश के किसानों, दिव्यांग, विधवा, बच्चों के लिए स्कालरशिप लेते आई है. स्वरोजगार योजना के तहत आवेदन फॉर्म, आवेदन की स्थति, पात्रता सभी कुछ आपको इस आर्टिकल में विस्तार से पढ़ने मिलेगा।

Mukhya Mantri Yuva Swarojgar Yojana UP

1नाममुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना
2पुराना नामसमाजवादी युवा स्वरोजगार योजना
3स्टेटउत्तर प्रदेश
4पहले लांच कीअखिलेश यादव
5नया रूप लागु किया गयायोगी आदित्यनाथ (2018)
6वेबसाइटhttp://www.upkvib.gov.in/
7मुख्य लाभार्थीशिक्षित बेरोजगार

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लागु की थी, जिसका नाम समाजवादी युवा स्वरोजगार योजना था. 2017 में योगी सरकार के आने के बाद नयी सरकार ने योजना में बदलाव किये और इसका नाम मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना कर दिया। सरकार ने इस योजना की आवेदन प्रक्रिया में भी बदलाव किये और अप्रैल 2018 में नए तरीके से लागु किया। यह योजना आधिकारिक नोटफिकेशन के बाद 5 साल तक चलने की बात कही थी, लेकिन अब योगी सरकार ने इसे आगे बढ़ाने की घोषणा कर दी है.

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना यूपी की जानकारी

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का मुख्य उद्देश्य अनएम्प्लॉयमेंट (बेकारी) को खत्म करना है. उत्तर प्रदेश में इसके लिए बेरोजगारी भत्ता योजना भी चलाई जा रही है. जिसके अंतर्गत बेरोजगारों को भत्ता (आर्थिक सहायता) दी जाती है. लेकिन ये इस समस्या को स्थाई उपाय नहीं है. इसके लिए बेरोजगारों के हाथ में खुद का कुछ काम होना चाहिए, जिससे वे अपनी मेहनत लगन से पैसे कमा सकें और अपने परिवार को भी चला सकें।

क्या है मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

जैसा नाम से ही ज्ञात हो रहा है, स्वरोजगार योजना बेरोजगारों को रोजगार देने वाली स्कीम है, लेकिन इसमें सरकार किसी तरह की कोई नौकरी या प्रशिक्षण नहीं देगी। युवा स्वरोजगार योजना के अंदर इच्छुक युवाओं को 25 लाख तक की आर्थिक सहायता करेगी।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की शर्तें, मापदंड, लाभ

  • सामान्य वर्ग अगर आवेदक सामान्य वर्ग का है तो उसके प्रोजेक्ट की कुल लागत का उसे 10% देना होगा।
  • अनुसूचित जाति/जनजाति/महिला/दिव्यांग इसमें से किसी भी कैटेगरी में आने पर आवेदक को प्रोजेक्ट की कुल लागत का सिर्फ 5 प्रतिशत देना होगा।
  • सरकार ने यह भी कहा है कि युवाओं को उद्योग क्षेत्र में 25 लाख रुपये तक और अन्य सर्विस सेक्टर में काम के लिए 10 लाख तक ऋण प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना के अनुसार, सरकार किसी भी प्रोजेक्ट में होने वाले कुल खर्च का 25 प्रतिशत स्वयं देगी।
  • किसी भी प्रोजेक्ट के शुरू होने के बाद अगर वह सुचारु ढंग से चलता है, और 2 वर्ष में सफलता प्राप्त कर लेता है तो सरकार ने जो राशि लोन के रूप में दी थी उसे वह माफ़ कर आर्थिक सहायता (अनुदान) कर देगी। इससे लाभार्थी पर लोन का बोझ नहीं होगा। वह अपने काम में सफल होकर कमाई का हिस्सा स्वयं रखेगा। सरकार की तरफ से यह बहित बड़ी ऋण (लोन) योजना है.
  • लोन प्राप्त करने में जो आवेदक कम लागत की इकाइयों पर काम कर रहा होगा उसे प्राथमिकता दी जाएगी।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की पात्रता [Eligibility Criteria]

  • उत्तर प्रदेश निवासी योजना का लाभ लेने क अधिकार सिर्फ उन्हें ही है, जो उत्तर प्रदेश के रहने वाले है. अन्य प्रदेश के लोग इस योजना का लाभ नहीं ले सकते है.
  • उम्र यह योजना सिर्फ युवा वर्ग के लिए है. 18 साल से 40 साल तक के कोई भी महिला, पुरुष इसके लिए आवेदन कर सकता है. इससे कम या इससे अधिक उम्र के लोग इस योजना योजना में आवेदन नहीं कर सकते है.
  • शैक्षणिक योग्यता योजना के लिए लाभार्थी को कम से कम 10 वीं पास होना जरुरी है. 10 वीं फ़ैल भी इस योजना के लिए पात्र नहीं माना जायेगा। योजना के लिए 10 वीं की मार्कशीट अनिवार्य है.
  • बैंक डिफॉल्टर न हो योजना के लिए जो भी आवेदक होगा, उसके खिलाफ कोई भी बैंक डिफ़ॉल्ट का केस दर्ज नहीं होना चाहिए। बैंक डिफॉल्टर को सरकार इस योजना में कतई पात्र नहीं मानेगी। सारी जांच पड़ताल के बाद ही सरकार के तरफ से योजना की कार्यवाही आगे बढ़ाई जाएगी।
  • अन्य सरकारी योजना का लाभार्थी न हो आवेदक अगर इस तरह की अन्य सरकारी योजना का लाभ ले रहा है, तो वो इस युवा स्वरोजगार योजना के लिए अयोग्य माना जायेगा। रोजगार के लिए अन्य योजना जैसे प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, मुख्यमंत्री रोजगार योजना आदि.
  • सिर्फ बेरोजगारों के लिए योजना के पात्र सिर्फ बेरोजगार है, अगर कोई भी व्यापर या नौकरी से जुड़ा हुआ है, तो वो इस योजना के लिए अयोग्य है.

जरुरी दस्तावेज (Required documents)

  • योजना के लिए आवेदक को उत्तर प्रदेश का मूल निवासी पत्र, आधार कार्ड, 10 वीं की मार्कशीट, बैंक की जानकारी देना अनिवार्य है.
  • इसके साथ ही जो काम शुरू करने वाले है, अगर उसके लिए कोई जमीन या बिल्डिंग या कमरा किराये पर लिया है तो उसकी भी जानकारी फॉर्म के साथ देंगी होगी।
  • अगर कोई फैक्ट्री शुरू करने वाले है तो, जो मशीन लगेगी उसकी कीमत की जानकारी और सारी कोटेशन आपको लिखित रूप में फॉर्म के साथ देनी होगी।
  • दिव्यांग को अपना डिसेबिलिटी सर्टिफिकेट जमा करना होगा।
  • सामान्य के अलावा सभी अन्य वर्ग जाति के लोगों को अपना जाति प्रमाण पत्र फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (Swarojgar Yojana UP Online Registration, Form PDF)

  • आवेदक को योजना की ऑफिसियल साइट में जाना होगा, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार ऑफिसियल लिंक
  • यहाँ फॉर्म मिलने पर, उस पर सभी जानकारी को सही सही भरें।
  • इस आवेदन फॉर्म को अच्छे से भरने के बाद, ऑनलाइन जमा कर दें. इस तरह से आप मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार के लिए आवेदन कर सकते है.
  • मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार फॉर्म की डायरेक्ट पीडीएफ़ आप यहाँ से डाउनलोड करके भी अप्लाई कर सकते है.

यूपी मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार ऑफलाइन प्रक्रिया (Yuva Swarozgar Yojana Application Form)

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार का ऑफलाइन फॉर्म जिला स्तर पर भी उपलब्ध है. योगी सरकार ने  योजना में बदलाव करते हुए इसकी ऑफलाइन प्रक्रिया भी शुरू कर दी है.

  • अब मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार के आवेदन फॉर्म डिप्टी कमिश्नर ऑफिस एवं जिला उद्योग केंद्र में भी उपलब्ध रहेंगें।
  • आवेदक वहां से फॉर्म प्राप्त करके, उसके सभी जानकारी भरकर, आवश्यक दस्तावेज लगाकर उसे इसी ऑफिस में जमा कर दे.
  • यहाँ से विभाग आवेदन पत्र की जाँच करेगा, सभी कुछ देखने और सत्यापन के बाद आवेदक का फॉर्म चयनित हो जायेगा, जिसके बाद उसे जानकारी मिल जाएगी और योजना का लाभ उसे मिलेगा।

एमपी सरकार ने भी बेरोजगारों के हित में उन्हें कम से कम 100 दिन का वेतन देने के लिए मध्यप्रदेश युवा स्वाभिमान योजना की शुरुवात की है.

सरकार रोजगार को बढ़ाने के लिए निरंतर कोशिश कर रही है, युवाओं को इस योजना का बढ़चढ़ का फायदा लेना चाहिए। योजना के लिए 2018 में  आवेदन की आखिरी तारीख 10 मई थी. फिर से आवेदन की डेट आने पर हम आपको सारी जानकारी देंगें, आप इसके लिए इस पेज को सब्सक्राइब कर लें. रोजगार पंजीयन केंद्र के जरिये भी रोजगार मेला की जानकारी प्राप्त की जा सकती हैं । 

अन्य पढ़े

  1. हरियाणा खाकी राशन कार्ड धारकों को गैस कनेक्शन पर सब्सिडी
  2. राजस्थान बेरोजगारी भत्ता ऑनलाइन आवेदन कैसे भरें 
  3. मुख्यमंत्री स्वरोजगार सब्सिडी योजना मध्यप्रदेश 
  4. आवास योजना ग्रामीण आवेदन करने की प्रक्रिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *