[फॉर्म] प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना | PM Kisan Pension Yojana in hindi 2019-20

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना 2019-20 (लिस्ट, योग्यता, आवेदन पत्र, पंजीकरण फॉर्म) (Pradhan Mantri (PM) Kisan Pension Yojana in hindi) List, ELgibility, Application form Online

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने नए मंत्रिमंडल के साथ दूसरे कार्यकाल की शुरुआत करते हुए नई पेंशन योजना की घोषणा की हैं. इस योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना हैं, जिसके अनुसार पूरे भारत के किसानों को 60 वर्ष की उम्र के बाद प्रतिमाह पेंशन मिलेगी.

pm-modi-kisan-pension-scheme

योजना का नाम (Name  of the Scheme) पीएम किसान पेंशन योजना
योजना के लाभ  (Benefits of the Scheme) किसानों को पेंशन
योजना के लाभार्थी (Beneficiaries of the Scheme) भारत के सभी छोटे एवं सीमांत किसान
योजना से संबंधित विभाग/मंत्रालय (Scheme related Department) कृषि एवं कल्याण मंत्रालय
योजना के लांच होने की दिनांक (Date of Scheme launch is) जून 2019
पेंशन की राशि (Pension Amount) 3000 रूपये प्रति माह
योजना की घोषणा की गयी (Scheme Announced by) कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर

 

योजना के उद्देश्य क्या हैं? (What are the Objectives of the Scheme?)

  • भारत सरकार किसानों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना चाहती हैं और किसान वर्ग को सशक्त करने के लिए ऐसी योजना की सख्त आवश्यकता हैं. इस योजना के क्रियान्वयन से कृषकों को आर्थिक सुरक्षा मिलेगी.
  • योजना के लाभ भारत के उन बुजुर्ग किसानों को मिलेंगे जो देश के विभिन्न हिस्सों में कृषि कार्य पर ही निर्भर हैं. ये योजना उन किसानों के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकती हैं जिन्होंने अपना पूरा जीवन कृषि कार्य को दिया हो, इससे बुजुर्ग अवस्था में किसानों को काफी आर्थिक सहायता प्राप्त हो सकती हैं.

योजना से प्राप्त होने वाले लाभ (Benefits to get from Scheme)

  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को 60 वर्ष की उम्र के बाद तीन हजार रूपये मिलेंगे.
  • यदि किसान की मृत्यु हो जाती हैं, तो योजना के लाभ का पेंशन अमाउंट पचास प्रतिशत किसान की पति/पत्नी को मिलेगा. लेकिन इस स्थिति के लिए ये नियम भी अनिवार्य होगा कि जिसे पचास प्रतिशत लाभ मिल रहा है वो पहले से इस योजना के लिए पंजीकृत ना हो और योजना का लाभ ना उठा रहा/रही हो.
  • यदि किसी किसान की योगदान देते समय मतलब पेंशन प्राप्त करने से पूर्व ही मृत्यु हो जाती हैं तो उसके पति/पत्नी योगदान को जारी रख सकते हैं या बीच में ही बंद कर सकते है और नियत समय आने पर पेंशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

योजना की मुख्य विशेषताएं (Highlights of the Scheme)

  • सरकार ने कहा है कि योजना लागू होने के बाद शुरू के 3 सालों में लगभग 5 करोड़ किसानों इस योजना का लाभ मिलेगा. पेंशन केवल उन किसानों को दी जायेगी जो इस योजना के सभी नियमों का पालन करते हो.
  • जो किसान योजना का लाभ उठाते हैं उन्हें प्रति माह प्रीमियम भरना होगा. यदि कोई 18 वर्ष की उम्र में योजना में भाग लेता हैं तो उसे प्रति माह 55 रूपये का प्रीमियम भरने होंगे. यदि योजना 29 वर्ष की उम्र में शुरू करते हैं तो उसे प्रति माह 100 रूपये भरने होंगे.
  • किसानों द्वारा दी जाने वाली राशि पीएम किसान सम्मान निधि योजना से भी काटी जा सकेगी, लेकिन ऐसा लाभ केवल उन किसानों को मिलेगा जिनका पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत खाता खुला हुआ हो और उन्हें हर साल सरकार से नियत राशि का लाभ मिल रहा हो और केवल इस स्थिति में ही उनका इस योजना के लिए भरा जाने वाला प्रीमियम पीम किसान सम्मान निधि योजना से कट सकता हैं.
  • योजना के नियमों के अनुसार सरकार द्वारा किसानों के हितों के लिए 10,774.5 करोड़ रूपये दिए जायेंगे.
  • इस तरह यूनियन कैबिनेट के निर्देश अनुसार में पीएम-किसान योजना को पूरे भारत में जरूरतमंद किसानों के लिए लागू किया जायेगा. ये भी कहा जा सकता हैं कि 14.5 करोड़ किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा. इस योजना से शुरू के तीन वर्षों में लगभग 5 करोड़ छोटे एवं सीमांत किसानों को लाभ मिलेगा.
  • वास्तव में पहले योजना का लाभ केवल छोटे किसानों को ही मिलना था लेकिन अब इसका क्राईटेरिया एक्सटेंड हो गया है जिससे सरकार देश में ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभ पंहुचा सके.

योजना के लिए योग्यता क्या हैं? (What is the eligibility criterion of the scheme?)

  • छोटे एवं माध्यम वर्गीय किसान (Small and medium farmers)भारत के केवल छोटे एवं मध्यम वर्गीय किसानों को ही योजना के लाभ दिए जायेंगे. ये योजना केवल उन भारतीय किसानों के लिए है जो भारत में रहकर कृषि कार्य कर रहे हैं.
  • उम्र सीमा (Age limit)– वो किसान जिनकी उम्र 18 वर्ष से 40 वर्ष के मध्य हो वो इस योजना का लाभ लेने के लिए एप्लाई कर सकते हैं. हालांकि मासिक पेंशन केवल 60 वर्ष की उम्र पार चुके किसानों को ही दी जायेगी.

आवेदन प्रक्रिया (Application Form Process )

  • प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना एवं पहले से चल रही पीएम किसान समान निधि योजना के मध्य सामंजस्य रहेगा और दोनों एक साथ मिलकर काम करेगी. जो किसान पीएम किसान सम्मान निधि योजना में पंजीकृत हैं वो किसान पेंशन योजना का सीधा लाभ ले सकते हैं, इसके लिए उन्हें अलग से पंजीकरण नहीं करवाना होगा.
  • किसान मासिक प्रीमियम के भुगतान के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) में भी पंजीकरण करवा सकता हैं और वहां से मासिक प्रीमियम का भुगतान कर सकता हैं.

इस तरह भारत सरकार का ये निर्णय किसानों को बुजुर्ग अवस्था में भी सम्मान पूर्वक जीवन जीने का अधिकार देता हैं. मोदी सरकार साल की शुरुवात में पीएम श्रमयोगी मानधन योजना लागु की यजी, जिसमें मजदूरों को पेंशन देने की बात कही गई थी. मोदी सरकार देश के छोटे से छोटे वर्ग का भी ध्यान रख रही है.

Other links –

One comment

  1. Jila udhyog kenda se loan pane ke liye kya kare

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *