पीएम किसान सम्मान निधि योजना : 30 जून से पहले करा लें रजिस्ट्रेशन, मिलेंगे 4000 रुपये

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गतअंतिम तिथि के पहले किसान अपना पंजीयन करवा कर जल्दी से जल्दी योजना की अगली किस्त का लाभ उठा सकते हैं। देश में मानसून की शुरुआत हो चुकी है ऐसे में कई राज्यों के किसान ने बुवाई के काम शुरू कर दिए हैं, खासतौर पर धान की खेती के लिए खेत तैयार किए जाने लगे हैं. इन सब कार्यों के लिए किसानों को खर्चे की आवश्यकता होती है, इस सभी तरह के कार्यों में पीएम किसान सम्मान निधि योजना की राशि किसानों को काफी मदद करती है ताकि वे खेती की तैयारी तेजी से कर सकें। जिन किसानों ने अब तक इस योजना के अंतर्गत आवेदन नहीं किया है वे अगर अंतिम तिथि के पहले आवेदन करते हैं तो उन्हें अगस्त माह तक दो किस्ते एक साथ मिल सकेगी यानी कि उनके खाते में सरकार की तरफ से एक साथ ₹4000 जमा किए जाएंगे।

pm-kisan-samman-nidhi-yojana-last-date

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत फॉर्म कैसे भरे जाते हैं और किस तरह के डाक्यूमेंट्स के अंतर्गत जरूरी हैं, सभी तरह की जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

पीएम किसान योजना की अंतिम तिथि क्या है

इस योजना के अंतर्गत प्रति वर्ष ₹6000 सरकार की तरफ से किसानों के खाते में जमा होने हैं. इस वर्ष इस योजना की अंतिम तिथि 30 जून तय की गई है जिन किसानों ने अब तक इस योजना के अंतर्गत पंजीयन नहीं करवाया है, वे 30 जून तक पंजीयन करवा लें ताकि अगस्त माह में आने वाली किस्तों का लाभ ले सके जिन किसानों को अब तक एक भी किश्त नहीं मिली है अगर वह पंजीयन करवाते हैं तो उन्हें एक साथ दो किस्तों का लाभ प्राप्त होगा।

PM मुफ्त अनाज योजना के अंतर्गत राशन कार्ड धारकों को 3 महीने और मिल सकता है फ्री राशन, ऐसे बनवाएं अपना कार्ड-प्रक्रिया जानने के लिए यहाँ क्लिक करे .

प्रवासी श्रमिक किसानों को भी मिल सकेगा योजना का लाभ

इस योजना के अंतर्गत देश के सभी किसानों को सरकार की तरफ से ₹6000 की सालाना आर्थिक मदद की जाती है। फिलहाल लॉकडाउन के कारण कई श्रमिक अपने रोजगार को छोड़कर अपने राज्यों में वापस लौटे हैं, अगर इन श्रमिकों के पास खेती योग्य कोई भी भूमि है तो वह भी इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता का लाभ उठा सकते हैं जिसके लिए इन प्रवासी श्रमिकों को जल्द से जल्द किसान योजना के अंतर्गत आवेदन करना अनिवार्य है। योजना के लिए आधार कार्ड का होना बहुत ज्यादा जरूरी है, साथ ही आधार कार्ड का बैंक खाते से जुड़ा होना भी अनिवार्य है. जल्द से जल्द ऐसी प्रक्रिया पूरी करें और पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठाएं।

आधार कार्ड अपडेट करवाना है, तो घर बैठे पता करें नजदीकी आधार केंद्र का पता, यह है प्रक्रिया जानने के लिए क्लिक करे.

पीएम किसान योजना के अंतर्गत  किस्तों का आवंटन किस तरह किया जाता है

  1. इस आर्थिक सहयोग योजना के अंतर्गत ₹6000 सालाना डीबीटी सुविधा के जरिए किसानों के खाते में सरकार की तरफ से भेजे जाते हैं. योजना के अंतर्गत एकमुश्त ₹6000 नहीं दिए जाते, यह पैसा तीन किस्तों में बैंक खाते में जमा होता है . प्रत्येक किस्त में ₹2000 किसान के खाते में जमा किए जाते हैं।
  2. साल भर की पहली किस्त दिसंबर से मार्च महीने के बीच सरकार द्वारा भेजी जाती है।
  3. दूसरी किस्त का आवंटन अप्रैल से शुरू किया जाता है जोकि 31 जुलाई तक चलता रहता है।
  4. अगली किस्त का आवंटन 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच शुरू किया जाता है और इसी अंतराल में किसानों के खातों में पैसे जमा करवाए जाते हैं।
  5. यह सभी माह का निर्धारण रबी एवं खरीफ की फसलों के हिसाब से किया जाता है ताकि किसान को बोनी के समय आर्थिक संकट का सामना ना करना पड़े।

सरकार दे रही है फ्री में आधार कार्ड सेंटर की फ्रैंचाइज़ी, आप भी उठायें फायदा होगी मोटी कमाई, प्रक्रिया जानने के लिए यहाँ क्लिक करे.

पीएम किसान योजना के अंतर्गत लाभ लेना चाहते हैं तो कौन से दस्तावेजों का होना बहुत जरूरी है-

इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान के पास स्वयं का आधार कार्ड होना अनिवार्य है, साथ ही खुद का बैंक खाता होना भी जरूरी है क्योंकि यह पैसा डीबीटी सुविधा के जरिए बैंक खाते में जमा करवाया जाता है । इस बैंक खाते का आधार कार्ड से जुड़ा होना भी जरूरी है ताकि यह पैसा सीधे लाभार्थी के खाते में जमा हो और किसी भी तरह की धोखाधड़ी से किसान बच सके।

बैंक खाते की जानकारी में किसानों को अपना बैंक खाता नंबर एवं आईएफएससी कोड देना जरूरी है. यह जानकारी सही तरह से भरेंगे तो पैसा आसानी से खाते में जमा होगा. अगर इस तरह की जानकारी गलत दी जाती है तो किसान का नाम लाभार्थी सूची में दर्ज नहीं हो पाता।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत खेत में लगाएं आधुनिक सिंचाई प्रणाली, मिलेगी सब्सिडी, जानिए प्रक्रिया.

किन किसानो को लाभ नहीं मिलेगा

यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है जिससे किसानों को आर्थिक सहयोग मिलता है और वह खेती किसानी के काम आसानी से करने में सक्षम हो पाते हैं. इस योजना के अंतर्गत उन किसानों को लाभ प्राप्त नहीं होता जो कि 10,000 से अधिक पेंशनभोगी है या पिछले वर्षों में इनकम टैक्स का भुगतान कर चुके हैं, ऐसे किसान जो कि राजनीतिक पद पर आसीन हैं अथवा डिग्री प्राप्त किए हुए हैं, इस तरह के किसानों को इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं किया गया है।

किसान अनुदान योजना-सरकार दे रही है कृषि उपकरणों पर 60,000 तक की सब्सिडी, अंतिम तिथि के पहले करवाए पंजीयन प्रक्रिया जानने के लिए क्लिक करे.

कौन से किसान होंगे योजना में शामिल

अन्य किसी भी तरह के किसान जो कि भारत के रहवासी हैं. इस योजना के अंतर्गत लाभ ले सकते हैं फिलहाल दे श्रमिक जो कि अपने गांव वापस लौटे हैं और उनके पास खेती योग्य भूमि हैं वे भी इस योजना के अंतर्गत जल्द से जल्द पंजीयन करवा कर इसका लाभ ले सकते हैं।

पशु किसान क्रेडिट योजना के तहत मिल रहा बिना ब्याज के लोन, ऐसे बनवाएं अपना कार्ड, यहाँ क्लिक करे

पंजीयन प्रक्रिया

किसान अगर इस योजना के अंतर्गत पंजीयन करवाना चाहते हैं तो ऑफलाइन तरीके में वे नजदीकी सीएससी सेंटर पर जाकर पंजीयन फॉर्म भरकर सभी जरूरी दस्तावेज लगाकर इस योजना के अंतर्गत तुरंत पंजीयन करवा सकते हैं. इसके अलावा इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर स्वयं फॉर्म में पूछी गई जानकारी को विस्तार पूर्वक भरकर एवं सारे जरूरी दस्तावेजों की कॉपी संलग्न करने के बाद इस योजना के अंतर्गत शामिल हो सकते हैं।

यह एक बहुत ही अच्छी योजना है, इसका जल्द से जल्द फायदा उठाएं अगर आप पात्रता नियम के अंतर्गत शामिल हैं तो।

Other links –

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *