प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना : सरकार देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए दे रही 25 लाख का लोन,जाने कैसे लोन लेकर शुरू कर सकते अपना काम

जैसा कि आपको पता आजकल का समय मंदी का चल रहा है. कोरोना काल में सभी बिजनेस, धंधा धीमे है. सरकार भी अब चाहती है देश खुद अपने पैरों पर खड़े हो, और विदेशों पर कम से कम निर्भर हो. इस बात को स्वयं मोदी जी ने कहा है कि देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आपको भी आत्मनिर्भर बनना होगा. जैसा कि अभी चीन से भारत की तनातनी भी चल रही है, जिसके चलते सभी चाइना की मोबाइल एप्प को भारत देश में बंद कर दिया गया है. अब प्रधानमंत्री जी ने देश के युवाओं से आग्रह किया है कि वे देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए खुद अलग-अलग तरह की मोबाइल एप्प बनायें. जो युवा अपना खुद का काम शुरू करना चाहते है, सरकार उनकी आर्थिक रूप से मदद भी कर रही है. 

खुद का व्यवसाय करने वाले लोगों के लिए भारत सरकार अपनी तरफ से अनेकों प्रकार की योजनाएं चला रही है, ताकि लोग अपना व्यवसाय शुरू करके आत्मनिर्भर बन सकें और जरूरतमंदों को रोजगार प्रदान मिल सके। किसी भी प्रकार की व्यवसाय को शुरू करने के लिए पूंजी बहुत ही आवश्यक है और इसी वजह से केंद्र सरकार नए नए उद्यमियों को सस्ती दरों पर ऋण प्रदान करने का भी प्रावधान शुरू कर चुकी है.

PM Laghu Udyog Loan yojana

एमएसएमई योजना क्या है – जाने कैसे सरकार से आप बिजनेस लोन प्राप्त कर सकते है.

क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट

अब भारत सरकार और भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक ने उद्यमशीलता को बढ़ावा प्रदान करने के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट की स्थापना कर दी है। इस नए ट्रस्ट के माध्यम से अब प्लांट या मशीनरी लगाने के लिए 25 लाख रुपए से लेकर 5 करोड़ रुपए तक की राशि ऋण के रूप में उद्यमियों को प्रदान की जाएगी। आइए जानते हैं, क्या है, क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट और किस प्रकार से आप इसका लाभ उठा कर अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

लघु उद्योग क्या होता है?

लघु उद्योग से आप क्या समझते है, यह हम आपको बतायेंगें. लघु उद्योग मतलब जो कम लागत या निवेश में, कम कर्मचारीयों के साथ शुरू किया जाता है. इसमें निवेश कम होता है लेकिन फायदा बहुत होता है. लघु उद्योग अगर एक बार चल जाये तो वह बड़े उद्योग में बदल सकता है. देश के कई नामी हस्तियों ने पहले लघु उद्योग से ही शुरुवात की थी, आगे चलकर उनका बिजनेस बढ़ता चला गया तो आज वो बड़ी नाम कंपनी, कारखाना बन गया.

प्रधानमंत्री रोजगार लोन सब्सिडी योजना – सरकार की इस योजना के द्वारा आर्थिक सहायता प्राप्त कर वय्वाप शुरू करें.

भारत सरकार की लघु उद्योग संबंधित योजनाएं क्या क्या है

भारत सरकार अनेकों प्रकार की लघु उद्योग संबंधी योजनाएं चला रही है, जिसके अंतर्गत लघु उद्योग प्रारंभ करने वाले उद्यमियों के लिए ऋण , सब्सिडी या अन्य प्रकार के लाभ प्रदान करने का प्रावधान है। लघु उद्योग के अंतर्गत सरकार कई प्रकार की योजनाएं चला रही है जैसे कि :- प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम और लघु उद्योग क्रेडिट कार्ड योजना, क्रेडिट लिंक कैपिटल सब्सिडी स्कीम, एमएसएमई आदि अनेकों योजनाएं सरकार की तरफ से लघु उद्योग के लिए प्रारंभ की गई जा चुकी हैं।

लघु उद्योग शुरू करने के लिए लोन कैसे मिलता है

योजना के अंतर्गत सरकार अलग-अलग उद्योगों के क्षेत्र में ऋण प्रदान करने के लिए अलग-अलग ऋण राशि को प्रदान करती है।

  • छोटे उद्योगों के लिए सरकार 10 लाख रुपए से लेकर 2 करोड़ रुपए तक लोन प्रदान करती है।
  • मध्यम वर्गीय उद्योगों के लिए सरकार 25 लाख रुपए से लेकर 5 करोड़ रुपए तक ऋण राशि प्रदान करने का कार्य करती है।
  • वहीं पर सरकार बड़े व्यवसाय को शुरू करने के लिए 10 करोड रुपए से लेकर 25 करोड़ रुपए तक की ऋण राशि प्रदान करने का कार्य करती है।

59 मिनट बिजनेस लोन योजना : मात्र 59 मिनट में पायें बिजनेस लोन  

लघु उद्योग के फायदे

वेबसाइट शुरू करने वाले लोगों के लिए लघु उद्योग बहुत ही बेहतरीन होता है, क्योंकि यह कम लागत में बड़ी आसानी से शुरू किया जा सकता है। कोई भी व्यक्ति अपनी योग्यता के अनुसार पूजी लगाकर लघु उद्योग शुरू कर सकता है। भारत सरकार लघु उद्योग को शुरू करने वाले लोगों को अपनी तरफ से सब्सिडी प्रदान करती है। लघु उद्योग के जरिए कई रोजगार के अवसर बेरोजगारों को प्राप्त हो सकते हैं। सबसे बड़ी बात है, कि लघु उद्योग के कारण ही कई ऐसे वस्तुएं हैं, जो कम कीमत पर उपलब्ध हो जाती हैं।

सपोर्ट स्माल बिजनेस (Support Small Business)

देश में सपोर्ट स्माल बिजनेस ट्रेंड चल रहा है. मोदी जी के वोकल टू लोकल को बढ़ावा देने वाली यह मुहीम युवाओं में बहुत प्रसिद्ध हो रही है. सपोर्ट स्माल बिजनेस मतलब वह बिजनेस है जो कम लागत में कम लोगों द्वारा शुरू हुआ है. आज कल बड़ी-बड़ी सेलेब्रेटी भी छोटे व्यवसाय को बढ़ावा दे रही है. छोटे स्तर में लोग बिजनेस शुरू करते है, जिसमें सरकार से आर्थिक मदद लेते है. फिर प्रोमोशन के लिए बड़ी बड़ी हस्ती को चुनते है, आजकल बड़ी बड़ी हेरोइन बड़े डिज़ाइनर के कपडे या अन्य सामान उपयोग न करके, बल्कि छोटे बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए उनका सामना प्रयोग कर प्रोमोशन करते है. इससे लोगों का मनोबल भी बढ़ता है.

भारत सरकार के इस प्रयास के माध्यम से लघु उद्योग एवं मध्यम वर्गीय उद्योग को करने के लिए लोग आसानी से ऋण राशि प्राप्त कर सकते हैं और आत्म निर्भर होकर खुद का व्यवसाय आसानी से शुरू कर सकते हैं। सरकार चाहती है, कि उद्यमशीलता के क्षेत्र में लोग ज्यादा से ज्यादा अपना सहयोग करें और नए लोगों को भी अपने व्यवसाय के जरिए रोजगार प्रदान करने का कार्य कर सकें।

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *