प्रधानमंत्री रोजगार लोन सब्सिडी योजना 2019-20 | Pradhan Mantri Rojgar Yojana In Hindi

प्रधानमंत्री रोजगार योजना एक प्रकार की लोन सब्सिडी योजना हैं जिसके अंतर्गत आवेदन फॉर्म भरकर लोग अपना स्वयं का कार्य शुरू कर सकते हैं । इस योजना का लाभ लेने के लिये पात्रता के सारे बिन्दु का सत्यापित होना जरूरी हैं, उसके बाद ही योजना का आवेदन फॉर्म भरा जा सकता हैं । आइये जाने क्या हैं प्रधान मंत्री रोजगार योजना ?

pm rojgar loan scheme

नामप्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMRY)
योजना टाइपलोन सब्सिडी
लोन राशि5 से 10 लाख
सब्सिडी12 से 15 हजार
कार्यालयडीआईसी कार्यालय

प्रधान मंत्री रोजगार योजना क्या हैं ?

यह एक लोन अथवा ऋणदेय योजना हैं जिसके अंतर्गत भारत सरकार द्वारा चयनित बेरोजगारों को कुछ सुविधाओं के साथ लोन दिया जाता हैं जिससे वे स्वयं का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं । इस योजना  में कुछ विशेष प्रकार की छुट, सब्सिडी, कम ब्याज दर, बिना सुरक्षा एवं बिना समय गँवाये लोन देने का प्रावधान हैं इसलिए यह प्राइवेट लोन से बेहतर हैं ।

प्रधान मंत्री रोजगार योजना के पात्रता नियम क्या हैं ? [Eligibility Criteria]

  • उम्र संबंधी नियम : आमतौर पर यह 18 से 35 वर्ष के भारतीय नागरिकों को दी जाती हैं परंतु कुछ विशेष वर्गो जैसे [महिला, दिव्यांग, पूर्व सैनिक, एससी/एसटी आदि ] को उम्र की सीमा में 10 वर्ष तक की छुट दी गई हैं । इसके अलावा उत्तर पूर्वी इलाकों के रहवासियों के लिये यह उम्र 18 से 40 वर्ष हैं ।
  • आय संबंधी मापदंड : योजना का लाभ लेने के लिए बहुत जरूरी हैं कि आवेदन करने वाले के परिवार की वार्षिक आय 1 लाख अथवा उससे कम होनी चाहिये, अन्यथा योजना का लाभ नहीं मिलेगा ।
  • शैक्षिक मापदंड : जिस व्यक्ति को इस योजना के भीतर लोन लेना हैं उसे कम से कम आठवी कक्षा तक पढ़ा होना जरूरी हैं अर्थात उसके पास आठवी कक्षा की पास की हुई मार्कशीट होना जरूरी हैं ।
  • निवासी होने की शर्त : यह योजना केंद्र की हैं अतः सभी राज्य जिन्होने इस योजना को स्वीकार किया है वे सभी इस योजना के भीतर आते हैं । जिस भी व्यक्ति को इस योजना का लाभ लेना हैं उसे अपने निवासी स्थान पर कम से कम तीन वर्षो तक रहना अनिवार्य हैं तब ही वे इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • प्रशिक्षित व्यक्ति को मान्यता : वह व्यक्ति जिसने किसी सरकारी संस्थान से प्रशिक्षण लिया हो उसे इस योजना में पहले प्राथमिकता दी जायेगी।
  • डिफ़ाल्टर : वे व्यक्ति जो किसी बैंक और संस्था द्वारा डिफ़ाल्टर घोषित किया गया हो वे इस योजना में मान्य नहीं हैं । उसे इस योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा ।
  • अन्य सब्सिडी योजना में भागीदार : अगर आवेदक को पहले से किसी अन्य सब्सिडी योजना का लाभ मिल रहा हैं उस स्थिती में भी वह इस योजना का लाभ लेने योग्य नहीं हैं ।
  • किस व्यवसाय को प्राथमिकता मिलेगी : इसमें सभी प्रकार के व्यवसाय को रखा गया हैं। इसमें खेती किसानी के लिए लोन नहीं लिया जा सकता हैं लेकिन खेती से जुड़े व्यवसाय के लिए इस योजना के तहत लोन लिया जा सकता हैं ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के लिए लगने वाले दस्तावेज़ कौन से हैं ? [Documents List]

योजना  के लिए पात्रता उपर दी गई हैं अतः इन सभी बिन्दुओ को सही साबित करने वाले सारे कागज इस योजना के तहत दस्तावेज़ के रूप में काम आएंगे । इसलिए सभी दस्तावेज़ तैयार रखे ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के अंतर्गत लोन कितना मिलेगा ? [Loan Amount]

इस योजना के भीतर विभिन्न प्रकार के लोन शामिल हैं जो इस प्रकार हैं :

बिज़नस टाइपराशि
बिज़नस सैक्टर2 लाख
सर्विस सैक्टर5 लाख
पार्टनरशीप [दो या दो से ज्यादा लोग हैं तो ]10 लाख
MSME के लिए5 लाख पार्टी व्यक्ति

दो लाख तक के लागत वाले व्यवसाय में आवेदक को सुरक्षा के तौर पर कुछ भी रखने की जरूरत नहीं हैं ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के भीतर लगने वाले ब्याज का दर क्या हैं ? [Interest Rate]

योजना के अंतर्गत ब्याज दर समयानुसार बदल सकती हैं जिसकी जानकारी बैंक के द्वारा मिल जायेगी।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के भीतर सब्सिडी के नियम क्या हैं ? [Subsidy Rate]

सब्सिडी की दर 15 फीसदी तय की गई हैं जो कि 12 हजार पाँच सौ तक ही सीमित रहेगी । उत्तर-पूर्व, हिमाचल प्रदेश, उत्तरांचल और जम्मू कश्मीर  के लिए यह सब्सिडी अधिकतम 15  हजार हैं । और सेल्फ हेल्प ग्रुप के प्रत्येक सदस्य को 15 हजार तक सब्सिडी मिल सकती हैं और इस प्रकार प्रति ग्रुप को 0.25 लाख तक की सब्सिडी मिल सकती हैं ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के भीतर लॉक-इन – पीरियड कितना रखा गया हैं ? [Lock In Period]

योजना के अंतर्गत लोन की राशि 3 से  7 साल में लौटना जरूरी हैं । इससे कम एवं अधिक समय मान्य नहीं हैं ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के भीतर आवेदन फॉर्म कैसे भरे ? [Application Form]

इस योजना के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरने का प्रावधान नहीं हैं । इसके लिए ऑफलाइन प्रक्रिया ही मौजूद हैं जिसके लिए डीआईसी के ऑफिस में जाकर संपर्क करना होगा और वहाँ से फॉर्म लेकर भरना होगा ।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना एक अच्छी योजना हैं जो युवाओं को आगे बढ़ने का मौका देती हैं । इसके साथ ही केंद्र द्वारा एक घंटे में एमएसएमई लोन का प्रावधान भी हैं । प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के जरिये भी लोन प्राप्त किया जा सकता हैं जिसके जरिये व्यवसाय शुरू करने में सरकार की तरफ से मदद मिलती हैं ।
Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *