[फार्म] प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना 2020 | PM Suraksha Bima Yojana in Hindi

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना 2020 [फॉर्म ऑनलाइन आवेदन] (Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana in Hindi (PMSBY)) [Online Application Form, Age limit, Claim form Download, Eligibility Criteria, Last Date]

श्री नरेंद्र मोदी जी ने देश वासियों की सहायता एवं उनके हित के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की, जिसमें 3 बड़ी सामाजिक सुरक्षा योजना जोकि बीमा और पेंशन के क्षेत्रों से संबंधित हैं को शुरू किया गया. उन्हीं में से एक प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना है. इस योजना की सभी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारे इस लेख में नजर डालनी होगी.

pm suraksha bima yojana

लांच की जानकारी (Launched Details)

योजना की जानकारी बिंदुयोजना की जानकारी
योजना का पूरा नामप्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना
योजना की घोषणावित्त मंत्री अरुण जेटली जी द्वारा (बजट सत्र के दौरान)
योजना की शुरुआतसन 2015 में
योजना का लांचप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
योजना की शुरुआत कहाँ से हुई ?कोलकाता से
योजना में दी जाने वाली राशिअधिकतम 2 लाख रूपये तक
योजना की देखरेखवित्तीय सेवा विभाग

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के फायदे (Features)  

  • गरीबों को सहायता :- भारत की जनसंख्या का एक बहुत बड़ा भाग है, जिसके पास कोई ऐसा बीमा कवर नहीं है, जिससे उनकी सुरक्षा हो सके. इसलिए इस योजना को शुरू किया गया है जोकि गरीब परिवारों को उनकी सुरक्षा के लिए बीमा प्रदान करेगी. जिससे उन्हें दुर्घटना ग्रस्त होने के बाद वित्तीय सहायता मिल सकेगी.
  • प्रधानमंत्री जन धन अकाउंट :- इस योजना के शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री जी ने सभी किसानों एवं गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों के, प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत बैंक में खाते खुलवाए थे. इस सुरक्षा बीमा योजना को उनके जन – धन अकाउंट से जोड़ा गया है.
  • योजना का लाभ :- ऐसे व्यक्ति जिनकी किसी दुर्घटना में मृत्यु हो जाती हैं या वह पूरी तरह से विकलांग हो जाता है, तो उनके परिवार वालों को 2 लाख रूपये प्रदान किये जायेंगे. वहीँ अगर वह व्यक्ति दुर्घटना के बाद आंशिक रूप से विकलांग यानि उसके आँखों की रौशनी का जाना, पैर या हाथ का क्षतिग्रस्त होना होता है, तो उसे 1 लाख रूपये प्रदान किये जायेंगे.
  • दुर्घटना का प्रकार :- यदि किसी व्यक्ति के साथ प्राकृतिक आपदाओं के परिणामस्वरुप दुर्घटना होती है, ऐसे दुर्घटना ग्रस्त लोगों को ही इस योजना में कवर किया जायेगा. यदि कोई व्यक्ति आत्महत्या करता हैं तो उसे इस योजना में कवर नहीं किया जायेगा और न ही उसके परिवार को कोई सहायता प्रदान की जायेगी.
  • प्रीमियम :- इस योजना में वित्तीय सहायता तो प्रदान की जायेगी, किन्तु इसके साथ ही खाता धारक के बचत बैंक खाते से ऑटो डेबिट के माध्यम से प्रीमियम के रूप में 12 रूपये की राशि प्रतिवर्ष काट ली जाएगी. इसकी पूरी जिम्मेदारी सम्बंधित बैंक की होगी जो इस योजना में शामिल है. और इस प्रीमियम को भरने के लिए कोई भी व्यक्ति सक्षम हो सकता है. इसलिए इससे किसी को कोई परेशानी नहीं होगी.
  • बीमा योजना में समर्थन :- इस योजना की पेशकश सावर्जनिक क्षेत्र की बीमा कंपनियों या किसी अन्य सामान्य बीमा कंपनियों द्वारा की जा रही है. जोकि आवश्यक अप्रूवल के साथ सामान शर्तों पर इसके लिए तैयार हैं, और इस योजना के उद्देश्य के लिए बैंकों के साथ टाई – अप कर रहे हैं. 
  • बीमा कवर करने की अवधि :- इस दुर्घटना सुरक्षा बीमा योजना में 1 जून से 31 मई तक यानि एक वर्ष की अवधि कवर होगी. जो सदस्य इसे आगे भी जारी रखना चाहते हैं उन्हें 31 मई से पहले प्रीमियम भरने के लिए बैंक से ऑटो डेबिट के लिए अपनी सहमती देनी होगी. साथ ही
  • रिन्यू :- एक साल की अवधि समाप्त होने बाद यह सुरक्षा बीमा हर साल रिन्यू होता जायेगा. और यदि आप इसे छोड़ना चाहते हैं तो आप इसे छोड़ भी सकते है.
  • दोबारा जुड़ने पर :- यदि किसी व्यक्ति को इस योजना में भविष्य में कभी जुड़ना पड़े तो वह जुड़ सकता है. हालाँकि उन्हें उसे इस योजना की सभी शर्तों को मानना होगा.  

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के लिए पात्रता मापदंड (Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana Eiligibility Criteria)

  • देश का निवासी :- इस योजना का लाभ केवल भारत देश के निवासियों को दिया जायेगा, और जोकि गरीब परिवार से संबंध सकते हैं. इसके अलावा इस योजना में कोई भी व्यक्ति शामिल नहीं हो सकता है.
  • आयु सीमा :- इस योजना में शामिल होने वाले व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष से 70 वर्ष की तय की गई हैं. इस आयु के बीच के किसी भी व्यक्ति को इसमें शामिल होने के लिए योग्य माना जायेगा.
  • बैंक में बचत खाता धारक :- इस योजना में यह आवश्यक है कि लाभ उठाने वाले व्यक्ति का बैंक में बचत खाता होना चाहिए.
  • केवल एक बचत खाता :- यदि किसी व्यक्ति के किसी बैंक में 1 से ज्यादा बचत खाते हैं तो वह केवल एक बचत खाते से इस सुरक्षा बीमा योजना से जुड़ सकता है और लाभ प्राप्त कर सकता है.
  • आधार कार्ड धारक :- चूकी बैंक खाता खोलने के लिए आधार कार्ड आवश्यक दस्तावेज है. इसलिए इस योजना में आवेदन करते समय आपको अपने आधार कार्ड की कॉपी को साथ में रखना होगा.

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के लिए आवेदन फॉर्म कहाँ से प्राप्त करें ? (Application Form )

चूकी इस योजना का संचालन सार्वजनिक क्षेत्र की सामान्य बीमा कंपनियों और अन्य सामान्य बीमा कंपनियों के माध्यम से इस योजना में भाग लेने वाले बैंक के सहयोग के साथ किया जा रहा है. और बैंक किसी भी सामान्य बीमा कंपनियों को संलग्न करने के लिए स्वतंत्र है. यदि आप प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको इस योजना में शामिल होने वाले बैंक में जहाँ आपका बचत खाता है वहां जाना होगा. वहां से आपको इसके लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त हो जायेगा.

Download Online Form

इस योजना में नामांकन करने के लिए आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट से भी फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं.

योजना की आवेदन प्रक्रिया (Yojana Application Process)

  • एक बार आवेदन फॉर्म प्राप्त हो जाये उसके बाद आप उसमें पूछी गई सभी जानकारी को भरें और उसे बैंक में जमा कर दें. ध्यान रहे आप उसी बैंक में फॉर्म जमा करें जहाँ आपका बचत खाता खुला हुआ हो. और साथ ही आपके उस खाते में कुछ रूपए भी होने चाहिए.
  • फॉर्म के साथ ही आपको अपनी पहचान के लिए अपना बैंक खाते से लिंक किया हुआ आधार कार्ड की कॉपी भी जमा करनी होगी.
  • जब आप फॉर्म जमा कर दें उसके बाद बैंक द्वारा उसका सत्यापन किया जायेगा, और फिर आपका सुरक्षा बीमा हो जायेगा.

योजना का समापन (Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana Termination)

जब कोई सदस्य इस योजना में शामिल होता है तो यह सुरक्षा बीमा योजना निम्न स्थितियों में समाप्त हो जाएगी –

  • जब आवेदक की उम्र 70 साल हो जाती है तो आवेदक के परिवार वालों को इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा, इसका मतलब यह है कि यह बीमा आवेदक की 70 साल की उम्र के बाद समाप्त हो जायेगा.
  • इसके अलावा यदि आवेदक का बैंक खाता बंद हो जाता है या बैंक खाते में उतने पैसे नहीं होते कि बीमा लागू रहे तो ऐसी स्थिति में भी यह बंद हो सकता है.
  • यदि किसी व्यक्ति को एक से अधिक खातों के माध्यम से कवर किया जाता है और बीमा कंपनी द्वारा अनजाने में प्रीमियम प्राप्त किया जाता है, तो बीमा कवर एक खाते तक ही सीमित रहेगा. और बाकी का प्रीमियम जब्त कर लिया जायेगा.
  • यदि आवेदक किसी अन्य बीमा योजना में शामिल है तो उस स्थिति में भी इस योजना का लाभ प्राप्त करने से उसे वंचित किया जा सकता है.

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा के लिए क्लेम कैसे करें ? (How to Claim?)

खाताधारक या बीमा धारक की किसी दुर्घटना के चलते मृत्यु हो जाती हैं तो उसके बाद उसके नॉमिनी बीमा के लिए क्लेम कर सकते हैं. यह कैसे किया जा सकता है यह जानकारी इस प्रकार है –

  • सबसे पहले नॉमिनी को उस बैंक में जाना होगा जहाँ पर सुरक्षा बीमा कराया गया था. वहां पहुँचने के बाद वे वहां से सुरक्षा बीमा का क्लेम फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं. वे क्लेम फॉर्म इसकी सुरक्षा बीमा योजना अधिकारिक वेबसाइट से भी प्राप्त सकते हैं.
  • नॉमिनी इस फॉर्म को बीमा धारक की दुर्घटना में मृत्यु हो जाने के बाद 30 दिनों के अंदर ही प्राप्त कर सकता है. इसके बाद नहीं कर सकता.
  • फिर उसे उसमें सभी जानकारी भरनी होगी. उसके साथ कुछ दस्तावेज भी जमा करने होंगे जो यह साबित करे कि बीमा धारक की मृत्यु का कारण क्या था. यदि बीमा धारक की मृत्यु सड़क या रेल दुर्घटना में, डूबने से या किसी अपराध में हो जाती हैं तो ऐसे मामले में नॉमिनी को पुलिस में शिकायत दर्ज करनी होगी और एफआईआर की कॉपी फॉर्म के साथ अटैच करनी होगी. और यदि पेड़ गिरने से या सांप के काटने जैसी दुर्घटना होने पर तत्काल अस्पताल में भर्ती करने के बाद उस अस्पताल के रिकॉर्ड की कॉपी भी फॉर्म के साथ लगाना होगा.
  • यह फॉर्म एवं दस्तावेज जमा करने के बाद बैंक द्वारा इसका सत्यापन किया जायेगा. और फिर सब कुछ सही होने पर आने वाले 60 दिनों के अंदर बीमा राशि बीमा धारक की मृत्यु के बाद नॉमिनी के बैंक खाते में जमा कर दी जाएगी.

इस तरह से इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है, और समाज के कमजोर वर्गों तक बीमा की पहुँच को सुनिश्चित किया जा सकता है. ताकि फाइनेंसियल इन्क्लूशन के लक्ष्य को पूरा किया जा सके. और ऐसे परिवारों की ख़राब परिस्थितियों में उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान की जा सके.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *