प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण न्यू लिस्ट 2019 मे नाम  कैसे देखे

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण क्या हैं ? (Pradhan Mantri Awas Yojana – Gramin (Rural) (PMAY-G) in Hindi) आवेदन कैसे करे ? न्यू लिस्ट मे नाम  कैसे देखे ? [लाभार्थी सूची 2019, दस्तावेज़, पात्रता नियम, ऑनलाइन वैबसाइट, टोल फ्री नंबर, Eligibility, CSC, UPSC, Apply Online, Last Date

दोस्तों आप सभी ये तो जानते होंगे कि गरीब परिवार के लोग झोपड़ियों में निवास करते हैं, उनके पास इतने पैसे नहीं होते कि वे खुद के लिए एक पक्का घर बनवा सकें. जिसके कारण प्राकृतिक आपदाओं के समय उन्हें कई सारी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. देश के ग्रामीण एवं शहरी लोगों की इन समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत की है. जिसके तहत लोगों को उनका खुद का पक्का घर बनाने के लिए सरकार किस्तों में उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है. ग्रामीण स्तर पर इस योजना का नाम पीएम आवास योजना ग्रामीण हैं । प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण से संबंधी सारी जानकारी इस आर्टिकल द्वारा पढ़िये-

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण [PMAY-G] क्या हैं ?

नाम प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण (पीएमएवाई-जी)
लांच साल 2015 – 16
घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
शुरुआत नवंबर, 2016
संबंधित विभाग ग्रामीण विकास मंत्रालय
लाभार्थी ग्रामीण क्षेत्र के निवासी
समय अंतराल 3 साल
लास्ट डेट नहीं हैं 

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण के कौन से लाभ हैं ?

योजना का लक्ष्य :-

इस योजना को ग्रामीण क्षेत्र में शुरू करते हुए यह लक्ष्य तय किया गया है कि केंद्र सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में लगभग 1 करोड़ से भी ज्यादा लोगों को उनके पक्के मकान बनाने में उनकी वित्तीय रूप से मदद की जाएगी. और इसके साथ ही यह काम 3 साल में पूरा करने का भी लक्ष्य तय किया गया है.इस योजना को ग्रामीण क्षेत्र का विकास करने के लिए एवं वहां के निवासियों को खुद का पक्का घर मिले इसके लिए सरकार ने शुरू किया है और इसलिए उन्हें आर्थिक मदद भी दी जा रही है.

आर्थिक लाभ :-

इस योजना के तहत ऐसे घर जो मैदानी क्षेत्र में है, वहां लाभार्थियों को घर बनाने के लिए 1 लाख 20 हजार रूपये की कुल राशि प्रदान की जाएगी. वहीँ अगर किसी लाभार्थी का घर मुश्किल क्षेत्रों जैसे उत्तर – पूर्व के पहाड़ी इलाकों या आईएपी क्षेत्रों में हैं, तो उन्हें घर के निर्माण के लिए 1 लाख 30 हजार रूपये की कुल राशि प्रदान की जाएगी.

दी जाने अली राशि का भुगतान :-

इस योजना में लाभार्थियों को घर निर्माण के लिए दी जाने वाली राशि का भुगतान सरकार सीधे लाभार्थी के आधार कार्ड से लिंक किये हुए बैंक खाते में करेगी. लेकिन आपको बता दें कि उन्हें मिलने वाली कुल राशि उन्हें 3 किस्तों में दी जाएगी.

किस्तें :

इस योजना में लाभार्थियों को दी जाने वाली राशि को घर के निर्माण के 7 चरणों के आधार पर प्रदान की जाती है. जैसे लाभार्थियों को

  1. पहली क़िस्त घर के लिए मंजूरी मिल जाने के बाद तुरंत मिल जाती है.
  2. इसके बाद दूसरी किस्त तब मिलती है जब उनके घर का आधार एवं नींव रख दी जाती है.
  3. और तीसरी एवं आखिरी किस्त उन्हें खिड़की एवं दरवाजे, लेंटर, छत, और घर के पूरा काम आदि की मैपिंग हो जाने के बाद कभी भी दी जा सकती है.

अन्य सुविधा :-

इस योजना में पक्का शौचालय बनाने के लिए सरकार द्वारा अलग से वित्तीय सहायता दी जानी है. जिसके लिये उन्हें 12,000 रूपये प्रदान किये जायेंगे.

घर का आकार :-

इस योजना में निर्माण होने वाले घर का कुल आकार 25 वर्ग मीटर निर्धारित किया गया है. इतने क्षेत्र में ही लाभार्थी अपना घर बनवा सकते हैं.

घर का निर्माण :-

इस योजना में लाभार्थियों के लिए जिन घरों का निर्माण किया जायेगा, वह आधुनिक तकनीकों एवं प्राकृतिक आपदाओं से निपटने युक्त होगा.

रोजगार :-

यह योजना लाभार्थियों को उनका पक्का घर बनाने का लाभ तो दे ही रही है इसके साथ ही उन्हें 90 से 95 दिनों का रोजगार भी प्रदान कर सकती है. जिसके तहत वे लगभग 18 हजार रूपये की कमाई कर सकते हैं.

अन्य विकास योजनाओं का विलय :-

इस योजना में लाभार्थियों को शौचालय, स्वच्छ जल, बिजली, सफाई, गैस सिलिंडर आदि सभी चीजों की सुविधा भी मिले, इसलिए इससे जुड़ी सभी योजनाओं को इस योजना में शामिल किया गया है.

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण में पात्रता नियम क्या हैं ?

जनगणना 2011 के अनुसार :-

इस योजना के लाभार्थी वे ही हो सकते हैं, जिनका नाम जनगणना 2011 के अनुसार ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों की सूची में सम्मिलित हो.

बेघर या कच्चे घर में रहने वाले लोग :-

इस योजना में ऐसे लोग जिनके पास खुद के लिए कोई घर नहीं है या वे कच्चे मकान में रह रहे हैं. उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा.

अन्य योजना का लाभ लेने वाले :

इस योजना में वे लोग ही शामिल हो सकते हैं. जिन्होंने इससे पहले किसी भी हाउसिंग स्कीम का लाभ प्राप्त न किया हो, और न ही किसी प्रकार की हाउसिंग लोन राशि प्राप्त की हो.

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं ?

(PMAY-G Documents)

इस योजना में लाभार्थियों को आवेदन करने के लिए अपना आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, बैंक खाते की जानकारी, आधार कार्ड या मनरेगा कार्ड और साथ ही आवेदक के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर आदि संबंधित दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में आवेदन कैसे करें ?

इस योजना में आवेदन करने के लिए आपके पास ऑफलाइन विकल्प मौजूद है. इसलिए यदि आप इसमें ऑफलाइन माध्यम से आवेदन कर रहे हैं, तो –

  • ऑफलाइन पंजीयन के लिये लोक सेवा केंद्र या ग्राम पंचायत में जाकर पीएमएवाई –जी का फॉर्म भरकर सारे दस्तावेज़ एवं जानकारी देना होगी इस प्रक्रिया के बाद रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा।  जिसके बाद सत्यापन पूरा किया जायेगा जिसके होने के बाद अगर सब ठीक हैं तो प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण आईडी एवं रिस्पांस कोड मिलेगा ।
  • इसके बाद ग्राम पंचायत द्वारा लाभार्थियों का चयन किया जायेगा, और सूची तैयार कर ग्राम पंचायत में लगा दी जाएगी. इसके साथ ही आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से लाभार्थी के चयन की जानकारी भी दी जाएगी.
  • इस नंबर के जरिये अपना नाम लाभार्थी लिस्ट में हैं या नहीं यह देखा जा सकता हैं ।

पीएम आवास योजना – ग्रामीण की चयन प्रक्रिया क्या हैं ? (PMAY-G Beneficiary Selection]

इस योजना में लाभार्थियों का चयन ग्राम सभा द्वारा किया जायेगा. इसके लिए सबसे पहले तो लाभार्थी का ऊपर दिए हुए पात्रता मापदंड पर खरा उतरना आवश्यक है, और इसके साथ ही इसमें निम्न लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी.

  • ऐसे परिवार जिसमें 16 से 59 साल का कोई भी युवा व्यक्ति मौजूद ना हो.
  • ऐसे परिवार का आवेदक जिसकी मुखिया एक महिला हो, और साथ ही उनके परिवार में कोई भी युवा यानि 16 से 59 के बीच की उम्र का कोई व्यक्ति ना हो.
  • ऐसे परिवार को भी प्राथमिकता दी जाएगी जिसमें ऐसा कोई भी व्यक्ति जिसने 25 साल की उम्र पार कर लिया हो और वह पढ़ा लिखा न हो.
  • इसे साथ ही ऐसे परिवार भी इसमें प्राथमिकता के अनुसार चयनित किये जायेंगे, जिनकी आय का साधन केवल मजदूरी है, और उनके पास इसके अलावा कोई भी जमीन या संपत्ति नहीं है.

प्रधानमंत्री आवास योजना 2019 की लिस्ट कैसे देखें?

पीएम आवास योजना की लिस्ट ऑफलाइन कैसे देखें ?

ग्रामीण क्षेत्र में शुरू की गई इस आवास योजना में लाभार्थी चयनित हुए है या नहीं, यह सूची में अपना नाम चेक करके देख सकते हैं. यदि आप ऑफलाइन इसमें अपना नाम चेक करना चाहते है तो आप अपनी ग्राम सभा में जाकर कर सकते हैं. वहां पर यह सूची लगा दी जाती है.

प्रधानमंत्री आवास योजना 2019 की लिस्ट ऑनलाइन कैसे देखें ?

और यदि आप ऑनलाइन अपना नाम चेक करना चाहते है तो इसके लिए निम्न तरीके को फॉलो करें –

  • लाभार्थी सूची में अपना नाम चेक करने के लिए आप सबसे पहले इसकी अधिकारिक वेबसाइट https://pmayg.nic.in/netiay/home.aspx में जायें. यहाँ आपको एक रिपोर्ट का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करें.
  • इसके बाद आपके सामने नीचे की ओर ‘सोशल ऑडिट रिपोर्ट’ लिखा हुआ दिखाई देखा और उसी में आपको ‘बेनेफिसिअरी डिटेल्स फॉर वेरिफिकेशन’ की लिंक भी दी हुई होगी उस पर क्लिक करें.सारी जानकारी विधिवत भरे जिसके बाद आपको लिस्ट मिलेगी जिसमें अपना नाम देख सकते हैं ।

इस तरह से आप इस योजना में लाभार्थियों की सूची में चयनित हुए है या नहीं यह चेक कर सकते हैं. और इस योजना में शामिल होकर अपना खुद का पक्का घर बना सकते हैं.

प्रधानमंत्री आवास योजना राशि 2019 क्या हैं ?

मैदानी इलाकों के लिए 1 लाख 20 हजार एवं पहाड़ी इलाकों के लिए 1 लाख 30 हजार। स्वच्छ भारत मिशन की ओर से 12 हजार रूपये टॉयलेट के निर्माण के लिए। 18 हजार रुपए की राशि मनरेगा की तरफ से, इन सबके 70 हजार का लोन बैंक से ले सकता है। इस तरह से 2,20,000 रुपये मिलेंगे ।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची 2019 कैसे देखे ?

ग्राम पंचायत जाकर एवं https://pmayg.nic.in/netiay/home.aspx साइट पर

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

ऑनलाइन सुविधा के लिए सीएससी सेंटर पर जाये

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी हैं?

आधिकारी पोर्टल – pmayg.nic.in

पीएम आवास योजना का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर क्या हैं ?

1800-11-6446

UPSC सवाल –

PMAY स्कीम के लिए सरकार ने बजट किस तरह निर्धारित किया हैं ?

इस योजना में जो वित्तीय सहायता का खर्च किया जा रहा है वह केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार दोनों के योगदान से किया जाना है. इसमें मैदानी क्षेत्र में घर बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार का योगदान क्रमशः 60 % और 40 % है. जबकि मुश्किल क्षेत्रों में घर बनाने के लिए 90 % से 10 % है.

क्या PMAY-G योजना के अंतर्गत लोन ले सकते हैं ?

हाँ 

PMAY-G के अंतर्गत कितना लोन मिल सकता हैं ?

अगर व्यक्ति चाहे तो इस योजना के भीतर 70 हजार तक का लोन ले सकता हैं । 

अन्य पढ़े

  1. मुख्यमंत्री निराश्रित बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना उत्तर प्रदेश 2019
  2. छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना आदिवासी 2019
  3. प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन पेंशन योजना 
  4. प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *