PM कृषि उड़ान योजना- इस योजना के जरिए किसानों की आय होगी दोगुनी, जानिए कैसे

प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना को वर्ष 2020 21 में हमारे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लांच किया था, कृषि उड़ान योजना के अंतर्गत फार्मर स्कोर ट्रांसपोर्ट फैसिलिटी दी जाती है अर्थात किसान को उसकी फसलों के साथ एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाने का काम किया जाता है जिसके लिए हवाई जहाज का उपयोग करते हैं ताकि वह कुछ ही समय में एक स्थान से दूसरे स्थान पहुंच सके और अपनी फसलों को सही वक्त पर मार्केट में बेचने के लिए जा सके और उनको अच्छी इनकम हो।इस योजना के अंतर्गत नेशनल एवं इंटरनेशनल दोनों ही रूट को फॉलो किया जाएगा।साथ ही सरकार द्वारा उन एयरलाइंस को सब्सिडी भी मुहैया करवाई जाएगी जो इस दिशा में सरकार की तरफ हाथ बढ़ाएंगे।

PM Krishi Udaan Yojana

किसानों से जुड़ी हर एक योजना आप अगर समय पर विस्तार से पढ़ना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें

नामप्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना
लाभार्थीकिसान
लाभट्रांसपोर्टेशन सुविधा
विभागagriculture.gov.in/
टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर1800 180 1551

क्या है कृषि उड़ान योजना कौन सी फसलें इसके अंतर्गत आती हैं

कृषि उड़ान योजना एक तरह की यातायात सुविधा देने वाली योजना है जिसके अंतर्गत खासतौर पर ऐसे प्रोडक्ट आते हैं जो कि ज्यादा समय तक रखे नहीं जा सकते और वह अनुकूलित माहौल ना मिलने के कारण खराब हो जाते हैं जैसे दूध मांस मछली एवं कई प्रकार के फल।

इस योजना के अंतर्गत खास तौर पर फ्रूट्स वेजिटेबल एवं फूलों को जल्दी से जल्दी उस स्थान तक पहुंचाया जाता है, जहां पर इसकी मांग है इस तरह से किसान समय पर अपने इन प्रोडक्ट्स को बेचने के लिए मार्केट में खड़ा होता है और उसे एक अच्छा मार्जिन मिल पाता है।

पीएम किसान मानधन पेंशन योजना: 64 लाख लोगों को मिलेंगे 36000 रुपये, अभी करिए पंजीयन यहाँ क्लिक करे .

इस योजना के अंतर्गत कौन से किसान लाभ ले सकते हैं

योजना के अंतर्गत भारत का रहने वाला कोई भी किसान आसानी से लाभ ले सकता है. बस उसकी जो फसल है, वह उन सभी पात्रता के नियमों के अंतर्गत आनी चाहिए जिसके आधार पर प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना को शुरू किया गया है अर्थात वैसी फसलें जो कि ज्यादा समय तक प्रिजर्व करके नहीं रखी जा सकती आसानी से खराब हो जाती है।

प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना के अंतर्गत लगने वाले दस्तावेज कौन से होंगे

इस योजना के अंतर्गत मुख्य रूप से किसान के पास उसका आधार कार्ड होना जरूरी है। साथ ही उसके पास उसकी फसल संबंधी दस्तावेज भी होना चाहिए जो कि यह साबित करते हैं कि उसने किस तरह की फसल उगाई है और वह किस तरह की फसल को उड़ान योजना के अंतर्गत एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाना चाहता है।

कामधेनु डेयरी योजना- सरकार देगी 90% लोन, समय पर लोन लौटाने पर होगी 30% की बचत, जानिए कैसे

कृषि उड़ान योजना के अंतर्गत पंजीयन प्रक्रिया क्या है

  1. जो किसान इस योजना के अंतर्गत लाभ लेना चाहते हैं उन्हें पंजीयन के लिए कृषि मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  2. इस आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर अप्लाई ऑनलाइन एक लिंक दिखाई देगा जिस पर क्लिक करके आप नेक्स्ट पेज पर पहुंचेंगे।
  3. इस पेज पर किसान को पूछे जाने वाले सभी जानकारी को अच्छे से भरना होगा जैसे कि नाम आधार नंबर एड्रेस आदि।
  4. पूछी गई जानकारी को सावधानी से भरना बहुत जरूरी है अगर आपने इन जानकारी को भरने में कोई भी गलती की तो आप योजना के लिए पात्र नहीं होंगे।
  5. सारी जानकारी भरने के बाद किसान सबमिट पर क्लिक करके अपना फॉर्म जमा कर सकता है।

इस योजना के अंतर्गत नेशनल एवं इंटरनेशनल दोनों तरह की सुविधा सरकार द्वारा दी जा रही है इस तरह से किसान अपने व्यापार को देश-विदेश तक पहुंचा सकता है . बहुत जरूरी है कि किसान इस योजना को गंभीरता से लें और उस दिशा में खेती करें और अपनी आय को दोगुना करने के लिए सही दिशा में मेहनत करें।

Other Links

  1. रोजगार सेतु योजना 
  2. किसान क्रेडिट कार्ड 
  3. किफायती किराया आवास योजना 
  4. प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना क्या है 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *