X

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना ऑनलाइन फार्म | Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana in hindi

प्रधानमंत्री मातृत्व (मातृ) वंदना योजना ऑनलाइन फार्म 2018-19 योग्यता नियम क्लैम  [Pradhan Mantri Matritva (Matru) Vandana Yojana in hindi Online Registration PDF Form] (PMMVY) [Eligibility, Documents, Helpline number]

भारत सरकार की योजनाओं की लिस्ट में महिला विशेष एवं किसानो को बहुत अधिक महत्व दिया जाता हैं । अतः महिलाओं के लिए कई योजना शुरू की गई हैं जिनमें से एक प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना हैं । यह योजना गर्भवती महिलाओं के लिए लाई गई हैं इससे जुड़े कई नियम हैं जो विस्तार से लिखे गए हैं । प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए फॉर्म भरे और उसमे लगने वाले सभी दस्तावेजों की सूची भी बताई गई हैं ।

नामप्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (Maternity Benefit Scheme)
छोटा नामPMMVY
योजना का ऐलान2016 में प्रधानमंत्री द्वारा
योजना की शुरुवात2017
विभागमहिला एवं बाल विकास
पोर्टलhttps://pmmvy-cas.nic.in
लाभ क्या हैंनगद राशि गर्भवती महिलाओं को
राशि6 हजार रुपये
पूर्व संचालित योजनाइन्दिरा गांधी मातृत्व सहयोग
हेल्पलाइन नंबर 011-23386423

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के उद्देश्य (Pregnancy Aid Scheme in India)

यह योजना गर्भवती महिलाओं की अच्छी देख रेख के उद्देश्य से चालू की गई हैं । देश में गर्भपात का अनुपात कम करना आवश्यक हैं, असल मे हमारे देश के कई इलाकों में आज भी प्रसव प्रक्रिया घरों में दाई  के जरिये करवाई जाती हैं जिसके कारण या तो शिशु की मृत्यु हो जाती हैं या माँ की । इस कारण गर्भवती महिलाओं को और उनके परिवार को जागरूक करने के लिए इस योजना का प्रारंभ किया गया हैं जिसमे 6 हजार रुपये मिलेंगे और साथ ही  गर्भवती महिलाओं को उचित पोषण सेहत से संबंधी जानकारी भी मिले इसका ध्यान रखा जायेगा । इस योजना से गर्भवती महिलाओं के साथ नवजात के टिकाकरण तक उसका ध्यान भी  रखा जायेगा ।

कामकाजी महिलाओं को राहत देने के लिए साथ ही उनकी और बच्चे की उचित देखभाल के लिए मेटरनिटी लीव बेनिफ़िट स्कीम भी शुरू की गई हैं ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लाभ एवं नियम [PMMVY Benefits]

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य जननी और बच्चे की सही देखभाल करना हैं जिसके लिए उन्हे आर्थिक मदद सरकार द्वारा दी जायेगी। योजना को तीन चरणों में पूरा किया जाएगा । इन तीन चरणों में कुल 6000 रूपये गर्भवती महिला को गर्भधारण के समय से प्रसव तक दिये जायेंगे।
  • योजना के तहत 3 चरण हैं पहले चरण में 1000 रुपये, दूसरे में 2000 रुपये एवं तीसरे में 2000 रुपये मिलेंगे इसके बाद बचे हुये 1000 रुपये उन लाभार्थियों को दिये जायेंगे जो कि अपने बच्चे को किसी अस्पताल में जन्म देते हैं और जननी सुरक्षा योजना के लाभार्थी हो । सभी चरणो को विस्तार से तालिका में पढ़े –
  • योजना का विश्लेषण (Pregnant Women Scheme)
किश्तों के प्रकार शर्ते दस्तावेज़ राशि
पहली किश्त पहली किश्त के लिए आखरी महावारी के 150 दिनों के भीतर गर्भवती महिला को आवेदन भरना होता हैं1.  फॉर्म 1A भरे

2.  एमसीपी [MCP] कार्ड की कॉपी

3.  पहचान पत्र की फोटोकॉपी

4.  बैंक पासबूक की फोटोकॉपी

1000 रुपये
दूसरी किश्त कम से कम एक प्रेगनेन्सी चेक अप होना जरूरी हैं । प्रेगनेन्सी के कम से कम 180 दिनों के भीतर फॉर्म भर सकते हैं ।1.  फॉर्म 1B भरे।

2.  एमसीपी कार्ड की कॉपी

2000 रुपये
तीसरी किश्त इस किश्त के लिए बच्चे के जन्म का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा ।

बच्चे को कुछ महत्वपूर्ण टीके लग जाना चाहिये जिसमें ओपीवी, हेपेटाइटीस B आते हैं ।

1.  फॉर्म 1C भरे ।

2.  एमसीपी कार्ड की कॉपी

3.  आधार कार्ड सभी राज्यों के लिए अनिवार्य कागज हैं जिसमें जम्मू, असम और मेघालय नहीं आते ।

4.  चाइल्ड बर्थ रजिस्ट्रेशन की कॉपी

2000 रुपये
  • प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के पूर्व चलने वाली योजना जिसका नाम इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना हैं अगर कोई इस योजना में रजिस्टर हैं और उसे केवल पहली किश्त मिली हैं तो वो वर्तमान में चल रही प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तीसरे चरण के लिए आवेदन कर सकता हैं ।
  • अगर दुर्भाग्यवश जन्म के बाद 6 माह तक के समय अंतराल में नवजात की मृत्यु हो जाती हैं तो आप तीसरा फॉर्म भरकर क्लैम कर सकते हैं अर्थात आपको लाभ मिलेगा ।
  • अगर कोई धोखा देकर राशि लेता हैं तो इस स्थिती में कानूनी कार्यवाही होगी ।
  • अगर अपने फॉर्म जिस शहर से भरा हैं लेकिन बच्चे को जन्म दूसरे शहर में दिया हैं तो आपको अपने दस्तावेज़ सत्यापित करवाने होंगे जिसमे एमसीपी कार्ड एवं आधार महत्वपूर्ण हैं ।
  • अगर महिला 2 अथवा 3 बच्चो को एक साथ जन्म देती हैं तो इस स्थिती में यह लाभ मिलेगा लेकिन दूसरी बार अगर महिला गर्भवती होती हैं तो उसे लाभ नहीं मिलेगा ।
  • एलएमपी(LMP) डेट जरूरी हैं अगर अपने दस्तावेज़ में इसे अंकित नहीं किया हैं तो पहले और दूसरे चरण का लाभ नहीं मिलेगा । लेकिन वे तीसरे चरण का फॉर्म भर सकते हैं ।
  • अगर महिला की एलएमपी तारीख 1 अप्रैल 2016 के पहले की हैं तो वो योजना में मान्य नहीं होंगी ।
  • योजना के लिए सरकारी अस्पताल में बच्चे को जन्म देना अनिवार्य हैं क्यूंकि फॉर्म के साथ एमसीपी कार्ड देना जरूरी हैं और इस कार्ड का उपयोग सरकारी अस्पतालों में होता हैं ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में कौन- कौन भाग ले सकता हैं ? [PM Matritva Vandana Yojana Eligibility Criteria]

  1. यह देश की गर्भवती महिलाओं के लिए शुरू की गई योजना हैं और इसे केंद्र सरकार ने शुरू किया हैं इसलिए देश के हर एक राज्य की महिला इस योजना का लाभ ले सकती हैं ।
  2. इस योजना के लिए वे सभी महिलाये जिन्होने 1 जनवरी 2017 के दिन या उसके बाद गर्भधारण किया हैं आवेदन करने योग्य मानी गई हैं ।
  3. राज्यकर्मी महिलायें जो कि पहले से इस तरह की योजनाओं का लाभ ले रही हैं वे इस योजना में शामिल नहीं हो सकती ।
  4. एमसीपी कार्ड में पंजीयन करवाना जरूरी हैं वे ही इस योजना के भीतर लाभ ले सकेंगे । साथ ही एलएमपी तारीख का पता होना भी जरूरी हैं वरना योजना का लाभ लेने में बाधा आ सकती हैं ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन एवं क्लैम प्रक्रिया क्या हैं ? [How to Apply for Pregnancy Aid Scheme, Application Form , Claim Form Download]

योजना के लिए तीनों चरणो के लिये आवेदन करना होता हैं । यह आवेदन फॉर्म ऑनलाइन प्राप्त किए जा सकते हैं । फॉर्म भरने से लेकर क्लैम तक की प्रक्रिया

  1. प्रथम चरण में फॉर्म 1-A भरना होगा, जिसके जरिये आप पहली किश्त के लिए आपका पंजीयन हो जायेगा । इस प्रक्रिया के लिए फॉर्म आंगनवाड़ी केंद्र या किसी भी प्रसव केंद्र से प्राप्त किया जा सकता हैं, फॉर्म भरने के बाद उसी स्थान में फॉर्म जमा करना होगा । इसके साथ ही आप क्लैम प्रक्रिया को आगे बढ़ा सकते हैं ।
  2. इस फॉर्म के साथ कई मुख्य दस्तावेज़ मांगे जायेंगे जिन्हे साथ में लगाना अनिवार्य हैं ।
  3. फॉर्म भरने के बाद इसका सत्यापन ब्लॉक लेवल के अधिकारियों द्वारा किया जायेगा जिसमे वे एक रिपोर्ट जमा करेंगे ।
  4. सभी प्रक्रिया के बाद लाभार्थी के खाते में रुपये जमा करे जायेंगे जो कि DBT के जरिये सीधे खाते में डाल दिये जायेंगे । इस पूरी प्रक्रियाँ में लगभग 30 दिन लगेंगे ।

इसी तरह दूसरे चरण में फॉर्म 1-B एवं तीसरे चरण में फॉर्म 1-C भरना जरूरी हैं जिसके बाद की सारी प्रक्रिया उपरोक्त नियमानुसार सम्पन्न होगी और लाभार्थी को प्रत्येक चरण में 30 दिनों के अंदर लाभ मिलेगा और पैसा सीधे खाते में जमा होगा ।

प्रधानमंत्री मातृत्व (मातृ) वंदना योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म [Maternity Benefit Programme Application Form]

  1. प्रथम चरण के लिए इस फॉर्म ए-1को भरे और पहली किश्त के लिए क्लैम करें – फॉर्म 1 ए डाउनलोड लिंक
  2. दूसरे चरण के लिए इस फॉर्म बी-1 को भरे और दूसरी किश्त के लिए क्लैम करें- फॉर्म 1 बी डाउनलोड लिंक
  3. तीसरे चरण के लिए इस फॉर्म सी-1 को भरे और तीसरी किश्त के लिए क्लैम करें – फॉर्म 1 सी डाउनलोड लिंक

इस योजना के भीतर अन्य फॉर्म भी भरे जाते हैं अगर लाभार्थी को उनकी आवश्यक्ता हो तो वे डाउनलोड कर सकते हैं :

  1. इस प्रक्रिया में राशि खाते में जमा की जाती हैं अगर आपका बैंक अकाउंट आधार से लिंक नहीं हैं तो इस फॉर्म 2 ए को आप भर सकते हैं । फॉर्म 2 ए डाउनलोड लिंक
  2. अगर आप राशि पोस्ट ऑफिस के खाते में चाहते है तो अपना पोस्ट ऑफिस अकाउंट आधार से लिंक करने के लिए फॉर्म 2 बी भरे । फॉर्म 2बी डाउनलोड लिंक
  3. अगर आधार में कोई गलती हैं तो सुधार के लिए इस फॉर्म 2 सी को भरे । फॉर्म 2 सी डाउनलोड लिंक

जरूरी दस्तावेज़ कौन से होंगे ? [PMMVY Documents]

  1. योजना के लिए एमसीपी कार्ड के जरूरी कागज हैं जिसे हर चरण के फॉर्म के साथ लगाना जरूरी हैं । अतः एमसीपी कार्ड होना चाहिये।
  2. योजनाओं का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड होना जरूरी हैं अतः इसे हमेशा साथ रखे ।
  3. योजना के तहत रुपये डीबीटी के जरिये सीधे आपके खाते में आयेंगे अतः बैंक अथवा पोस्ट ऑफिस खाते की जानकारी के रूप में पासबूक की कॉपी भी एक जरूरी दस्तावेज़ हैं ।
  4. तीसरे चरण में बच्चे के जन्म के बाद उसका प्रमाण पत्र देना आवश्यक हैं और साथ ही टिकाकरण के कागज भी रखना जरूरी हैं ।

योजना के तहत आशा वर्ककर, एएनएम वर्कर एवं आंगनवाड़ी वर्कर का योगदान रहेगा अतः आप इनसे जुड़कर भी योजना का लाभ ले सकते हैं । साथ ही रजिस्ट्रेशन के बाद आपके मोबाइल पर आपको योजना से संबंधी जानकारी भेजी जाएगी जैसे माँ अथवा बच्चे के चेक अप संबंधी जानकारी ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना देश में बहुत प्रचलित योजना हैं इसके अलावा सरकार ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत सुकन्या समृद्धि योजना का आरंभ भी देश की बालिकाओं के लिए किया हैं ।

Other link –

Categories: Central
Tags: Women Girl Child
Editor :