CG राजीव गांधी किसान न्याय योजना : किसानों को मिलेंगें 30 हजार रूपए सालाना, दूसरी किश्त अगस्त से शुरू, जानें प्रक्रिया

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ 2020 (पात्रता, किसान पंजीकरण, दूसरी किश्त, ऑनलाइन आवेदन पोर्टल, 30 हजार, सूचि, चेक, स्टेटस) (Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Chhattisgarh in Hindi (RGKNY)) (Farmer Registration, List, Online Apply)

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों के लिए राजीव गांधी किसान योजना आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के किसानों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर के जरिए उनके बैंक खातों में 30,000 रुपये ट्रान्सफर करेगी। छत्तीसगढ़ में रहने वाले 19 लाख किसानों को योजना के तहत चार किस्तों राशी प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली पहली किश्त की राशि मई 2020 को किसानों के खातों में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

rajiv gandhi kisan nyay yojana chhattisgarh registration

योजना का नामराजीव गांधी किसान न्याय योजना
राज्यछत्तीसगढ़
लांच की तारीखसाल 2020
लांच की गईमुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा
लाभार्थीकिसान भाई बहन
संबंधित विभागकृषि विभाग
कुल बजट5100 करोड़ रूपये
पहली किश्त7500 रूपए
दूसरी किश्त7500 रूपए अगस्त 2020 से ट्रान्सफर होंगें
राशी30 हजार रूपए /साल

छत्तीसगढ़ असंगठित श्रमिक कार्ड में ऑनलाइन पंजीयन करने के लिए यहाँ क्लिक करें

राजीव गांधी किसान न्याय योजना क्या है?

  • किसानों को अच्छी आय हो, और उनका जीवन अच्छे से बीते इसके लिए सरकार ने किसान न्याय योजना की शुरुवात की है.
  • इस योजना के तहत धान, मक्का और गन्ना पैदा करने वाले सभी किसानों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा।
  • इस योजना के प्रथम चरण के लिए सरकार ने 1500 करोड़ रुपए का बजट जारी कर दिया है।
  • योजना के अंतर्गत हर एक किसान को साल का 30 हजार रूपए दिया जायेगा. जिसे 4 किश्तों में किसानों के अकाउंट में ट्रान्सफर किया जायेगा.
  • योजना की पहली किश्त के 7500 रूपए मई 2020 में सरकार ने किसानों के खतों में दाल दिए थे.
  • अब दूसरी किश्त के 7500 रूपए अगस्त 2020 में डाले जायेंगें.
  • छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने इस योजना की घोषणा करते हुए मार्च 2020 को ही इस योजना के लिए 95,650 करोड रुपए का बजट घोषित कर दिया था।
  • छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा जारी की गई राजीव गांधी किसान योजना के अंतर्गत किसानों की आजीविका को सुरक्षित और विकसित बनाने का कार्य किया जाएगा।

सीजी राजीव गांधी किसान योजना 2020 चरण-1

इस योजना के अंतर्गत किसानों को लाभार्थी बनने के लिए किस प्रकार आवेदन भरना होगा ताकि वह 1 साल में 30000 रुपये की राशि योजना के तहत प्राप्त कर सकें। इस प्रक्रिया को चरणबद्ध तरीके से जान लेते हैं:-

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करें

राजीव गांधी किसान योजना छत्तीसगढ़ आवेदन फॉर्म पंजीयन प्रक्रिया

किसानों के कल्याण हेतु इस योजना की आवेदन प्रक्रिया राज्य सरकार द्वारा बेहद सरल बनाई गई है। छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा राजीव गांधी किसान या योजना आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाएंगे। इस योजना के लिए जारी की गई आधिकारिक वेबसाइट या किसानों के लिए एक नया समर्पित पोर्टल सीजी राजीव गांधी किसान न्याय योजना लागू किया जाएगा जिसमें ऑनलाइन फॉर्म भर के आसानी से किसान खुद को आवेदित कर सकते है। ऐसी घोषणा सरकार द्वारा पहले की गई थी परंतु अब कोविड-19 की गंभीर स्थिति को ध्यान में रखते हुए इस प्रक्रिया में थोड़े बदलाव किए गए हैं।

सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी किसानों की एक सूची तैयार कर ली गई है जिसमें 19 लाख पात्र किसान शामिल किए गए हैं। उस सूची में दाखिल किए गए वह किसान है जिनका डाटा पहले से सरकार के पास मौजूद है। इस योजना का लाभ प्रदान करने के लिए उन किसानों के ही खाते में 4 किस्तों के रूप में 30000 रुपये भेजे जाएंगे।

  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना की पहली किस्त मई साल 2020 के दिन किसानों के खाते में जमा कराई जाएगी।
  • इस किस्त की राशि के रूप में सरकार द्वारा 7500 रुपये की राशि निर्धारित की गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत योजना वित्त वर्ष 2019- 2020 को ध्यान में रखते हुए किसानों को लाभार्थी सूची में शामिल किया गया है।
  • इसलिए पिछले वर्ष लाभार्थी सूची में आने वाले सभी किसानों को इस सूची में भी शामिल किया गया है।

डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना छत्तीसगढ़ के तहत पंजीकरण करने के लिए यहाँ क्लिक करें

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लाभार्थियों की संख्या

इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल द्वारा 18,34,834 धान उत्पादकों को पहली किस्त के रूप में राशि प्रदान करने के लिए 1500 करोड़ रुपए की घोषणा कर दी गई है।

इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत 9,53,706 सीमांत किसान भी शामिल किए गए हैं। उनके अलावा 5,60,284 छोटे किसानों के साथ-साथ 3,20,844 बड़े किसान भी इस योजना के तहत लाभार्थी बन सकेंगे।

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आरंभ की गई इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ में मौजूद गरीबी की मार झेल रहे लाखों मजदूरों को लाभ प्राप्त हो जाएंगे। लाभ में प्राप्त इस राशि से वे अपनी आजीविका को और आसान और सुदृढ़ बना सकेंगे ताकि वह देश के लिए फसल उगाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दृढ़ता पूर्वक दे सकें।

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *