दलितों के लिए राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान | [panchayat.gov.in] Rashtriya Gram Swaraj Abhiyan (RGSA) for Dalit In Hindi

दलितों के लिए राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान 2020 [panchayat.gov.in] Rashtriya Gram Swaraj Abhiyan (RGSA) for Dalit In Hindi

भारत एक ऐसा देश है जो कि व्यापक रूप से विभिन्न जातियों और जनजातियों में विभाजित है. देश की जनसंख्या का एक बहुत बड़ा भाग अनुसूचित जाति और अनुसुचीत जनजाति से आता है. अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्ग के लोगों को भारत में दलित कहा जाता है. समाज के इन वर्ग के लोगों को लाभ देने के लिए केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान नाम से एक नई योजना की घोषणा की है.

Rashtriya-Gram-Swaraj-Abhiyan-RGSA-for-Dalits

इस नई योजना के अनुसार केंद्र सरकार के द्वारा राष्ट्र के प्रत्येक जिले और राज्य में नई ड्राइव्स को चलाने के निर्देश दिये गये है. इन कार्यक्रमों के द्वारा सरकार ने एक रात दलित वर्ग के लोगों के मध्य बिताने का फैसला लिया है, और इसके द्वारा वे इन लोगों के मध्य रहकर इनकी समस्या को समझने का प्रयास करेंगे.

लांच डिटेल और गाइडलाइन्स Launch Detail and Guidelines :

इस योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए केंद्र सरकार ने 14 अप्रेल से लेकर 5 मई 2018 तक देश के हर राज्य में इस योजना को शुरू करने के निर्देश दिये है. इस स्कीम के तहत देश में मौजूद मंत्री दलित वर्ग के लोगों के मध्य अपना समय व्यतीत करेंगे. इस योजना से संबंधित संपूर्ण गाइडलाइन आप इस साईट से प्राप्त कर सकते है.

मुख्य बिंदु Key Features :

  • इस योजना के तहत सरकार के मंत्रियो को यह निर्देश दिए गये है की वे दलित वर्ग के लोगों के मध्य जाकर, विभिन्न सरकारी कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में लोगों की जागरूकता और इसके संबंध में उनके ज्ञान से संबंधित रिपोर्ट तैयार करे.
  • इस नए अभियान के द्वारा मंत्री इन लोगों को विभिन्न सरकारी योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री उज्वला योजना, प्रधान मंत्री जन धन योजना, प्रधान मंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री सुरंक्षा बीमा योजना आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी प्रदान करेंगे.
  • इस अभियान के द्वारा सरकार का उद्देश्य राज्य सरकार और केद्र सरकार के द्वारा चलाई जा रहीं विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी इन वर्ग के लोगों तक पहुचाना है, ताकि वे इसके बारे में जानकर इसका लाभ ले सके. इस राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के द्वारा सरकार के द्वारा कुछ ड्राइव्स चलाई जाएगी जिससे सरकारी मंत्री दलितों को उन योजनाओं की जानकारी देंगे जो केवल दलितों के लिए चलाई जा रहीं है जिससे इस वर्ग का उत्थान हो सके. और इसी के साथ लोगों को इन योजनाओं की संपूर्ण जानकारी के साथ इसके लाभ प्राप्त करने की संपूर्ण प्रक्रिया भी समझायेंगे. और इन सब के साथ सरकार का उद्देश्य 24 अप्रैल को पंचायत राज दिवस के रूप में मनाने का भी है. इससे सरकार का उद्देश्य उन दलित लोगों तक पंहुचकर उन तक यह सब सुविधा उपलब्ध कराना है जिन्हें इसकी सच में बहुत आवश्यक्ता है.

राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान की डिटेल Details of RGSA (Rashtriya Gram Swaraj Abhiyan):

  • केंद्र सरकार द्वारा इस योजना की घोषणा की गई है, इससे सरकार का उद्देश्य अधिक से अधिक संख्या में दलितों की सहायता करना है. इसके अलावा सरकार का उद्देश्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की सारी रिपोर्ट एकत्रित कर उसके संबंध में जानकारी का आदान प्रदान करना भी है.
  • इसके अलावा इस योजना के द्वारा सरकार मुख्यतः उन ग्रामीण इलाकों और गाँवो को टारगेट करेगी जिसकी अधिक्तर जनसंख्या अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोग है.
  • इस योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए केंद्र सरकार ने यह घोषणा की है कि केंद्रीय मंत्री दलित परिवार में उन लोगों के साथ ही रात रुकेंगे और उनकी समस्याओं और जीवन शैली का नजदीकी से अवलोकन करेंगे.
  • केंद्र सरकार ने दलितों के उत्थान के लिए यह नया निर्णय दलित नेता डॉक्टर बी. आर. अंबेडकर के जन्म दिवस के दिन शुरू करने का फैसला किया है.

इस नए अभियान से सरकार का उद्देश्य देश में मौजूद लोगों को सरकार और उसके नए इनिशिएटिव से कनेक्ट करना है. इसी के साथ इस योजना के द्वारा सरकार देश में सुशासन को बढ़ावा देना चाहती है. सरकार लोगों को विभिन्न योजनाओं की जानकारी देने के लिए डोर टू डोर कैम्पेनिंग भी आयोजित करने जा रही है जिससे लोगों को सरकार द्वारा दी जाने वाली सेवाओं जैसे फ्री एलपीजी कनेक्शन, बिजली, अफोर्डेबल कीमत पर घर, इन्शोरेन्स और स्वास्थ संबंधित सुविधाओं की जानकारी दी जा सके.    

Other Link :

  1. पंजाब ऋण माफी योजना
  2. हरियाणा मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना 
  3. डोर स्टेप डिलीवरी स्कीम दिल्ली
  4. स्टार्टअप एग्री इंडिया स्कीम 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *