Swadeshi Business Ideas: स्वदेशी बिजनेस से कमा सकते हैं, लाखों का मुनाफा, जानिए कैसे बने आत्मनिर्भर

अपना देश तो अपना देश ही होता है और यहां पर बनी चीजें हमारे लिए कितनी फायदेमंद है यह बात बताने की आवश्यकता तो आपको है ही नही। यही बात जब हमारे देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपने पांचवे संबोधन के दौरान कही कि हमें आत्मनिर्भर बनते हुए अपने देश की ही चीजों को अर्थात स्वदेशी वस्तुओं का ही अधिक से अधिक इस्तेमाल करना है। अभी स्वदेशी वस्तुएं होती क्या है और कैसे बनाई जाती हैं तो इस बात के बारे में ही बताने के लिए आज हम यह पोस्ट कर रहे हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे स्वदेशी बिज़नस आइडियाज के बारे में विस्तारपूर्वक बताएंगे जिनको अपनाकर आप भी घर बैठे अपना एक बहुत अच्छा व्यवसाय आरंभ कर सकेंगे। तो चलिए ऐसे ही कुछ बिजनेस आईडियाज के बारे में आज यहां पर पढ़ लेते हैं।

swadeshi-bussiness-ideas

स्वदेशी बिजनेस क्या है?

दरअसल अपने ही देश में बहुत सारी चीजों का निर्माण किया जाता है और उनका डिस्ट्रीब्यूशन भी अपने ही देश में कर दिया जाता है। वही वस्तुए जो अपने देश में बनी हुई हो और हम उनके जरिए ही पैसा कमाते हो। तो वह हमारी स्वदेशी वस्तुएं बन जाती हैं और डिस्ट्रीब्यूशन के दौरान यदि पैसा कमाया जाए तो वह हमारा स्वदेशी बिज़नेस बन जाता है।

आवास योजना शुरू की गई हैं, इस योजना के अंतर्गत बहुत से लोगों ने अपने घर बनाए हैं अगर आप भी लाभ लेना चाहते हैं तो योजना को विस्तार से जानने के लिए यहां क्लिक करें. 

स्वदेशी बिजनेस आइडियाज

वैसे तो प्रत्येक देश में बहुत सारी चीजों का निर्माण होता है ठीक इसी प्रकार भारत देश में भी बहुत सारी वस्तुओं का निर्माण देश के सदस्यों द्वारा किया जाता है। उन व्यवसायों को चलाने वाली कंपनी स्वदेशी कंपनी होती हैं और उन व्यवसायों को ही स्वदेशी व्यवसाय के नाम से जाना जाता है। ऐसे ही कुछ स्वदेशी उत्पाद का निर्माण करके आप स्वदेशी व्यवसाय आरंभ कर सकते हैं। आइए जान लेते हैं कौन से हैं वे स्वदेशी बिजनेस आईडिया जो आपका जीवन बदल सकते हैं।

  • साबुन बनाने का व्यवसाय:- साबुन बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है यदि आप इसकी विधि जानते हैं अथवा जानना चाहते हैं तो आप ऐसे प्रशिक्षित लोगों से पूछ सकते हैं कि साबुन किस प्रकार बनाए जाते हैं और आप आसानी से घर बैठे साबुन बनाने का व्यवसाय आरंभ कर सकते हैं। साबुन बनाने की व्यवसाय इसे आप आसानी से स्वदेशी व्यवसाय से जुड़ जाते हैं और देश में बनी वस्तुओं का व्यापार करने से आपको मनासा भी अधिक होता है।
  • गोमूत्र से बने उत्पाद:- भारत देश में गाय को माता की पदवी दी जाती है इसके चलते यदि हमारे पूर्वजों से पूछा जाए तो गोमूत्र का बहुत ज्यादा उपयोग होते हैं और वह बेहद लाभदायक भी माना जाता है। पतंजलि परिधान का नाम तो आपने सुना ही होगा यह एक ऐसा परिधान है जो पूरी तरह से स्वदेशी प्रोडक्ट बनाने का काम करती हैं। इस कंपनी द्वारा बनाए जाने वाले अधिकतर प्रोडक्ट गाय भैंस के दूध अथवा गोमूत्र से बनाए जाते हैं।
  • गाय के दूध से बनने वाले उत्पाद:- गाय के दूध से बनने वाले उत्पाद का सेवन तो आप नित्य प्रति करते ही होंगे। अब आपको बताने की आवश्यकता तो नहीं है कि गाय के दूध से किस तरह के उत्पाद बनते हैं लेकिन फिर भी चलिए जान लेते हैं। गाय के दूध से बटर, चीज़, घी, मक्खन, दही, मिल्कमेड आदि बनाए जाते हैं। इन प्रोडक्ट का निर्माण करने वाली कंपनियों की यदि बात करें तो सबसे पहले नाम अमूल पार्लर का आता है जो कि आज के समय में बहुत ज्यादा मशहूर है। ठीक इसी प्रकार यदि आपके पास भी एक गाय है तो आप गाय के दूध से बहुत अलग अलग प्रोडक्ट बनाकर अपनी खुद की एक कंपनी आसानी से खोल सकते हैं।
  • फ्रूट जैम अथवा जूस:- हमारे देश में फलों की बागवानी बहुत बड़े पैमाने पर होती है ऐसे में यदि फलों से प्राप्त फ्रूट जैम अथवा जूस का व्यापार किया जाए तो यह एक सरल और बेहद ज्यादा कमाई वाला स्वदेशी व्यापार बन सकता है।
  • स्वदेशी टूथपेस्ट:- टूथपेस्ट आज के समय में हर व्यक्ति की आवश्यकता है। क्योंकि स्वाद चखने के लिए दांतो का स्वस्थ रहना बेहद आवश्यक है। ऐसे में यदि आपको कुछ प्रकार की जड़ी बूटियों का ज्ञान हो तो आप भी देश में मौजूद बड़ी-बड़ी कंपनियों की तरह खुद का एक ऐसा व्यापार शुरू कर सकते हैं जिसमें आप अपना स्वदेशी टूथपेस्ट बाजार में बना कर भेज सकते हैं। आपने देश में स्थापित कंपनियों के नाम तो सुने ही होंगे जिनमें पतंजलि, डाबर विकको, विको वज्रदंती आदि कंपनियां है जो टूथपेस्ट का निर्माण करते हैं और इनमें से बहुत से टूथपेस्ट आपने इस्तेमाल भी किये होंगे।
  • स्वदेशी चाय और कॉफी का उत्पादन:- भारत देश में चाय की बात आते ही सब के मुंह में पानी आ जाता है। चाय पीने वालों के साथ साथ कॉफी के शौकीनों की कमी भी नहीं है ऐसे में यदि आप देश में पैदा होने वाली चाय और कॉफी से जुड़ा व्यापार करना चाहते हैं तो आप आसानी से इस व्यापार में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।
  • स्वदेशी गारमेंट्स का व्यापार:- यदि आप कपड़े बनाने के ज्ञाता है अर्थात एक टेलर हैं तो आप खुद का ब्रैंड रजिस्टर करके अपने ही देश में अपने ब्रांड से बने कपड़ों का व्यापार भी आसानी से कर सकते हैं। भारत को एक नई पहचान देते हुए अपने द्वारा बनाए जाने वाले कपड़ों को आप पूरे विश्व में भी फैला सकते हैं। क्योंकि आपके काम से ही आपकी पहचान होगी ऐसे में आप अपनी पसंद के डिजाइन आसानी से बना कर अपना व्यवसाय बहुत शीघ्रता से मजदूर कर सकते हैं।

एमएसएमई बिजनेस लोन 59 मिनिट में दिया जाता हैं सरकार ने इसके लिए कई बेहतर कदम उठाये हैं अगर आप जानना चाहते  हैं तो यहाँ क्लिक करे .

ऊपर बताए गए सभी व्यवस्थाएं कम लागत वाले ऐसे व्यवस्थाएं हैं जिन्हें भारत में रहने वाला कोई भी व्यक्ति छोटे स्तर पर आरंभ कर सकता है। जिससे भारत की अर्थव्यवस्था को विकास भी मिलेगा और आपके जीवन में भी कई बड़े बड़े बदलाव आ सकते हैं। अर्थव्यवस्था में अपना महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करते हुए देश के प्रधानमंत्री मोदी की बात को समझते हुए यदि हम अपने देश में बनी वस्तुओं का इस्तेमाल अधिक करेंगे तो ऐसे में हम अपने देश को विकास की ओर तीव्र गति से ले जा सकेंगे।

Other Links

  1. किफायती किराया आवास योजना 
  2. बिहार किसान ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे
  3. एमएसएमई क्या है 
  4. जिला उद्योग केंद्र से लोन कैसे प्राप्त करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *