[2500 Rs] उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना 2020 (CMAPS)

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना 2020 (UP Mukhyamantri Shishikshu Protsahan Yojana in Hindi, Chief Minister Apprenticeship Promotion Scheme UP) (CMAPS) (राशी, बेरोजगारी भत्ता, पात्रता, आवेदन फॉर्म, लाभार्थी छात्र सूचि लिस्ट, Stipend, Training Program, Amount, How to Apply, Eligibility, Portal)

युवाओं में आर्थिक एवं कौशल की कमी को दूर करने के लिए देश की सरकार हमेशा प्रयासरत रहती हैं. इसी श्रृंखला को आगे बढ़ाते हुए उत्तरप्रदेश सरकार ने एक पहल की है, जिसके मुताबिक 10 वीं, 12 वीं एवं ग्रेजुएशन करने वाले छात्र – छात्राओं यानि की युवाओं की आर्थिक और कौशल दोनों ही रूपों में प्रदान की जा रही है. और साथ ही उन्हें नौकरी के अवसर भी दिए जा रहे हैं. इस योजना का हालही में कुछ दिन पहले पहले चरण की शुरुआत करने का ऐलान कर दिया गया है, जिसमें राज्य के लगभग 35 हजार युवा लाभ उठा पाएंगे. आइये इस योजना की पूरी जानकारी को विस्तार से समझते हैं.

chief minister apprenticeship promotion scheme up in hindi

योजना का नाम मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना
राज्य उत्तरप्रदेश
लांच की तारीख फरवरी, 2020
लांच की गई यूपी मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना
योजना का प्रकार इंटर्नशिप / ट्रेनिंग स्कीम
कुल बजट 63 करोड़ रूपये (पहले चरण में)
अनुदान 2500 रूपये प्रतिमाह
संबंधित विभाग व्यवसायिक शिक्षा विभाग

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना की विशेषताएं

  • योजना का उद्देश्य :- इस योजना को शुरू कर उत्तरप्रदेश राज्य सरकार यह चाहती है कि उत्तरप्रदेश के युवाओं को बेरोजगारी से ऊपर उठने में मदद मिले, और वे हमेशा रोजगार प्राप्त करने की ओर अग्रसर रहें.
  • योजना में की जाने वाली मदद :- इस योजना के माध्यम से लाभार्थी छात्र – छात्राओं को मुफ्त में प्राइवेट इंस्टिट्यूशन में विशेष इंटर्नशिप यानि की ट्रेनिंग दी जाएगी. और साथ ही उन्हें सरकार की ओर से नौकरी के अवसर देने में भी मदद की जाएगी.
  • ट्रेनिंग के दौरान दी जाने वाली सुविधा :- इस योजना में लाभार्थियों को मुफ्त में ट्रेनिंग तो दी जाएगी ही, साथ में उन्हें ट्रेनिंग के दौरान 2500 रूपये प्रतिमाह वित्तीय सहायता के रूप में भी प्रदान किये जायेंगे.
  • सरकार का योगदान :- इस योजना में लाभार्थियों को जो वित्तीय सहायता दी जानी है, उसमें केंद्र एवं राज्य दोनों ही सरकार का योगदान होगा. लाभार्थी को मिलने वाले पैसे में केंद्र सरकार का योगदान 1500 रूपये एवं राज्य सरकार का योगदान 1000 रूपये होगा.
  • इंटर्नशिप की अवधि :- इस योजना में लाभार्थी 6 महीने या 1 साल तक की मुफ्त में इंटर्नशिप प्राप्त कर सकते हैं.
  • लड़कियों के लिए प्रावधान :- इस योजना में लड़कियों का राज्य की सुरक्षा में योगदान हो इसके लिए विशेष रूप से प्रावधान है, जिसमें उन्हें राज्य सरकार की ओर से 20 % पुलिस विभाग में विशेष कोटा प्रदान किया जा रहा है.
  • कुल लाभार्थी :- इस योजना में कुल 5 लाख लाभार्थी लाभ ले सकते हैं, जिसमें से इसके पहले चरण में 35 हजार लाभार्थियों को लाभ मिलेगा और इसके लिए राज्य के व्यवसायिक शिक्षा बोर्ड में सरकार से 63 करोड़ रूपये मांगे हैं.
  • अन्य लाभ :- इस योजना के तहत राज्य के प्रत्येक तहसीलों में एक आईटीआई एवं कौशल विकास केंद्र खोले जायेंगे, इससे लाभार्थियों को एक नया मंच प्राप्त होगा.

उत्तरप्रदेश में आसान किश्त में जमा कर सकेंगे बिजली बिल, अधिक जानकारी के लिए यहाँ पढ़ें

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना में पात्रता मापदंड (Eligibility Criteria)

  • उत्तरप्रदेश का निवासी :- इस योजना का लाभ उत्तरप्रदेश के निवासियों के लिए हैं, अन्य राज्य के युवा इस योजना का लाभ उठाने के लिए समर्थ नहीं है.
  • पात्र स्कूली छात्र एवं छात्राएं :- इस योजना में ऐसे स्कूली छात्र एवं छात्राएं पात्र होंगे जोकि 10 वीं या 12 वीं की पढ़ाई कर रहे हैं.
  • कॉलेज की पढाई करने वाले छात्र एवं छात्राएं :- इस योजना में कॉलेज की पढाई करने वाले छात्र एवं छात्राएं भी पात्र हैं, और इनके लिए 5 विशेष केटेगरी बनाई गई हैं. इन केटेगरी के अंतर्गत ग्रेजुएशन पास करने वाले अपरेंटिस, आईटीआई पास करने वाले अप्रेंटिसशिप, इंजीनियरिंग की पढाई पास करने वाले छात्र एवं छात्राएं, पीएचडी एवं डिप्लोमा करने वाले छात्र – छात्राओं को शामिल कर लाभ प्रदान किया जायेगा.
  • प्राइवेट संसथान :- इस योजना में लाभार्थियों को जिन जगहों पर काम सिखाया जायेगा, यानि ट्रेनिंग दी जाएगी वे जगहें राज्य की प्राइवेट संस्थानें होंगी.

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना में आवश्यक दस्तावेज (Required Documents)

इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थियों को किन – किन दस्तावेजों की कॉपी को अपने पास रखना होगा, इसकी जानकारी नहीं दी गई है. लेकिन आप इसमें शामिल होने के लिए निम्न दस्तावेजों को अपने साथ रख सकते हैं –

  • आवासीय या मूल निवासी प्रमाण पत्र की कॉपी
  • आधार कार्ड की कॉपी
  • ग्रेजुएशन की मार्कशीट की कॉपी
  • आईटीआई पास करने वाले अप्रेंटिसशिप के प्रमाण पत्र की कॉपी
  • इंजीनियरिंग, पीएचडी या डिप्लोमा करने वाले छात्र – छात्राओं का प्रमाण स्वरुप डिग्री की कॉपी आदि.

उत्तरप्रदेश वृद्धावस्था पेंशन की सूचि देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना में आवेदन कैसे करें (How to Apply for UP Mukhyamantri Shishikshu Protsahan Yojana)

इस योजना के तहत लाभार्थियों को किस तरह से ट्रेनिंग प्राप्त करने के लिए आवेदन करना होगा, इसके बारे में सरकार एवं संबंधित विभाग द्वारा कोई भी जानकारी नहीं दी गई हैं. आपको इसका लाभ लेने के लिए कुछ समय का इंतेजार करना होगा कि कब इस योजना के आवेदन प्रक्रिया को जारी किया जायेगा.

इस तरह से उत्तरप्रदेश राज्य सरकार इस योजना को प्रधानमंत्री मोदी जी की कौशल विकास योजना की तर्ज पर शुरू कर रही हैं, और इसके तहत लाभार्थी छात्र एवं छात्राओं के रोजगार के अवसरों को सुनिश्चित कर रही है. अतः यदि आप इसके पात्र हैं तो आप भी इसका लाभ अवश्य उठावें.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *