[सूची] शौचालय निर्माण योजना उत्तर प्रदेश 2019 | UP Shauchalaya Nirman Yojana Mission in Hindi 2019

उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण ऑनलाइन आवेदन, लिस्ट, सूची नाम 2019 (UP Shauchalaya (Sochalay) Nirman Yojana Gramin in Hindi) [Online Application Form, Check Name list]

स्वच्छता अभियान में न सिर्फ देश की सफाई को ध्यान में रखा गया है बल्कि इसमें देश के सभी गांव एवं शहरों में शौचालय बनवाने एवं लोगों को उसका उपयोग करने के लिए प्रेरित करने पर भी ध्यान दिया गया है. यही कारण है कि आज शहर हो या गांव सभी जगह अब शौचालय मौजूद हैं और जहाँ नहीं हैं वे लोग शौचालय बनवाने के लिए सरकार को आवेदन भी दे रहे हैं. यहाँ हम आपको उत्तरप्रदेश में शुरू की गई शौचालय निर्माण योजना के बारे में बता रहे हैं. जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के लोग अपने क्षेत्र में शौचालय के लिए आवेदन कैसे करें यह जान सकते हैं.

UP Shauchalaya Nirman

उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण के लांच की जानकारी (UP Shauchalaya Nirman Yojana Gramin Launched Details)

क्र.म.योजना की जानकारी बिंदुयोजना की जानकारी
1.योजना का नामउत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण
2.योजना की शुरुआतसन 2017 – 18 में
3.योजना की घोषणाउत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा
4.योजना के लाभार्थीग्रामीण क्षेत्र के लोग
5.मूल योजनास्वच्छता अभियान
6.सम्बंधित विभाग / मंत्रालयआवास एवं शहरी मंत्रालय
7.अधिकारिक वेबसाइटswachhbharaturban.gov.in

उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण का उद्देश्य एवं विशेषताएं (UP Shauchalaya Nirman Yojana Gramin Objectives and Features)

  • उद्देश्य :- ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के लिए शुरू की गई उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य वहां के लोगों की जीवन शैली में सुधार करना है, लोगों को इससे स्वास्थ्य रहने के लिए जागरुक एवं प्रोत्साहित करना. और साथ ही साथ पर्यावरण की स्वच्छता का विकास करना भी है.
  • खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए :- राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए इस योजना के तहत उन्हें शौचालय बनवाने के लिए वित्तीय सहायता देने का फैसला किया है.
  • वित्तीय सहायता :- इस योजना के तहत शौचालय बनवाने के लिए लाभार्थियों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता के रूप में उन्हें 12,000 रूपये की कुल राशि में से 75 % यानि 9,000 रूपये की राशि केंद्र सरकार द्वारा दी जाएगी और बाकि की 25 % यानि 3,000 रूपये की राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी. अतः लाभार्थियों को इसके लिए कुछ भी खर्च नहीं करना होगा.
  • शौचालय का निर्माण :- अपने क्षेत्र में शौचालय का निर्माण करने के लिए लाभार्थी अपने गांव की ग्राम पंचायत या ग्राम पंचायत एजेंसी की मदद ले सकता है, इसके अलावा यदि वह खुद के माध्यम से यह बना सकता है तो वह भी कर सकता है.
  • धनराशि का वितरण :- लाभार्थी को दी जाने वाली वित्तीय सहायता लाभार्थी के बैंक खाते में वितरित की जाएगी और यह राशि उन्हें 2 किस्तों में दी जाएगी. पहली शौचालय का निर्माण शुरू होने के पहले और दूसरी शौचालय का निर्माण पूरा होने के बाद.
  • शौचालय निर्माण की प्रगति में तेजी :- पहले गांव में शौचालय बनवाने के लिए ग्राम पंचायत द्वारा सहायता राशि दी जाती थी, किन्तु गांवों में बजट सही तरीके से उपलब्ध नहीं होने के कारण शौचालय निर्माण की प्रगति धीमी हो गई थी, किन्तु राज्य सरकार की इस योजना से अब सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में पैसे पहुंचेंगे जिससे इसमें तेजी आयेंगी.  

उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण के लिए पात्रता मापदंड (UP Shauchalaya Nirman Yojana Gramin Eligibility Criteria)

  • उत्तर प्रदेश का निवासी :- ग्रामीणों के लिए शुरू की गई इस योजना के लिए यह सबसे जरुरी हैं कि लाभार्थी उत्तर प्रदेश का निवासी हो.
  • गांव में रहने वाले व्यक्ति :- वे व्यक्ति जो गांव में रहते हैं और अपना खुद का शौचालय बनवाना चाहते हैं केवल उन्हें ही इसका लाभ प्राप्त होगा.
  • गरीबी रेखा से नीचे आने वाले :- वे लाभार्थी जिन्हें इस योजना का लाभ उठाना हैं, वे गरीबी रेखा से नीचे के होने चाहिए. क्योंकि यह योजना गरीबों की मदद के लिए बनाई गई है.
  • नये शौचालय बनवाने वाले व्यक्ति :- इस योजना के तहत केवल वे लोग योग्य माने जायेंगे, जिनके पास पहले से कोई शौचालय नहीं है, और नये शौचालय बनवाने के लिए आवेदन कर रहे हैं. जिनके पास पहले से शौचालय हैं और नया शौचालय बनवाना चाहते हैं वे इस योजना के लिए योग्य नहीं है.
  • सरकारी कर्मचारी :- यदि कोई लाभार्थी गांव का रहने वाला हैं किन्तु वह किसी सरकारी नौकरी में कार्यरत हैं तो वह इस योजना का लाभ उठाने के लिए योग्य नहीं होगा.
  • आय सीमा :- इस योजना में गरीब लोगो को सहायता दी जानी हैं इसलिए यदि आवेदक की वार्षिक आय 1 लाख रुपये से ऊपर हैं तो उन्हें भी इसके लिए योग्य नहीं माना जायेगा.      

उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण के लिए आवश्यक दस्तावेज (UP Shauchalaya Nirman Yojana Gramin Required Documents)

  • आवासीय प्रमाण :- इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अपना आवासीय प्रमाण पत्र आवेदन फॉर्म के साथ जमा करना होगा इसके लिए वे अपने मूल निवासी प्रमाण पत्र की प्रति दिखा सकते हैं.
  • पहचान पत्र के रूप में :- आवेदकों की पहचान के लिए आवश्यक हैं वे अपना आधार कार्ड या वोटर आईडी कार्ड की कॉपी अपने आवेदन फॉर्म के साथ लगायें.
  • बीपीएल कार्ड धारक :- इस योजना में गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोग ही पात्र हैं इसलिए उन्हें अपना बीपीएल कार्ड भी दिखाना आवश्यक है.
  • आय प्रमाण पत्र :- चूकिं इस योजना में आय सीमा भी तय की गई है इसलिए यह आवश्यक है कि आवेदक अपने आय प्रमाण पत्र की कॉपी अपने आवेदन फॉर्म के साथ में लगायें.
  • बैंक की जानकारी :- ग्रामीण लोगों के लिए शौचालय के निर्माण की उत्तर प्रदेश की इस योजना में वित्तीय मदद लाभार्थी के बैंक खाते में दी जानी हैं इसलिए आवेदकों को अपनी बैंक की जानकारी जैसे बैंक पासबुक आदि की प्रति आवेदन फॉर्म के साथ में अटैच करनी होगी.

उत्तर प्रदेश शौचालय निर्माण योजना ग्रामीण के आवेदन की प्रक्रिया (UP Shauchalaya Nirman Yojana Gramin Application Process)

इसके लिए आवेदन करने की ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों प्रक्रिया इस प्रकार है-

ऑनलाइन माध्यम से :-

  • उत्तर प्रदेश की शौचालय निर्माण योजना में अपने लिए शौचालय बनवाने का ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदकों को सबसे पहले अधिकारिक वेबसाइट http://swachhbharaturban.gov.in/ पर विजिट करना होगा.
  • अब अपने शौचालय के लिए आवेदन फॉर्म भरने से पहले आपको को इस वेबसाइट में रजिस्टर होना होगा, इसके लिए यहाँ आपको नये आवेदक का विकल्प दिखाई देगा.
  • उस पर क्लिक करें और उसके बाद आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा. उसमें आपको कुछ जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल, पता, राज्य के नाम का चयन, अपने पहचान पत्र का चयन जिसे आप फॉर्म के साथ अटैच करना चाहते हैं, और उसका नंबर आदि इंटर करना होगा.
  • अंत में आपकी स्क्रीन पर एक कोड लिखा हुआ होगा उसे टाइप कर रजिस्टर बटन पर क्लिक कर दें.
  • जब यह पूरा हो जायेगा तब आपकी स्क्रीन पर दूसरा पेज खुलेगा जिसमे एक कोड लिखा हुआ होगा यह आपका पहचान कोड होगा. इसे आप याद कर ले. या कहीं लिख कर रख लें.
  • अब आप इसके लिए आवेदन करने के लिए होम पेज में जायें, और अपने पहचान कोड, या पासवर्ड के साथ इसमें खुद को लॉग इन करें.
  • लॉग इन करने के बाद आप इस वेबसाइट के अंदर पहुँच जायेंगे जहाँ आपको आवेदन फॉर्म दिखेगा. आप इसमें सभी जानकारी को सावधानी के साथ भरें. और साथ में सभी दस्तावेजों को भी संलग्न करें, और फिर फॉर्म को जमा कर दें.

इस तरह से आपके अपने लिए शौचालय बनवाने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाती है.

ऑफलाइन माध्यम से :-

  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत आने वाली उत्तर प्रदेश की इस शौचालय निर्माण योजना के लिए ऑफलाइन माध्यम से आवेदन किया जा सकता है, इसके लिए आवेदकों को अपने गांव की ग्राम पंचायत या स्वास्थ्य समिति के पास जाकर आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा.
  • इसके बाद वे इस आवेदन फॉर्म को सही तरह से भर दें. यह भर जाने के बाद आप इसमें सभी दस्तावेजों की कॉपी को अटैच करें. और इसे गांव के प्रमुख या ग्राम पंचायत के पास जाकर जमा कर दें.

इस तरह से आपका अपने खुद के शौचालय बनवाने के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त करने और उसे भरने की प्रक्रिया पूरी हो जाती है.

केंद्र सरकार का भारत को स्वच्छता की ओर ले जाने के लिए चलाया जा रहा स्वच्छता अभियान अपने अंतिम चरण पर पहुंच रहा हैं, क्योंकि सरकार का वर्ष 2019 तक खुले में शौच मुक्त भारत बनाने का लक्ष्य था, जोकि काफी हद तक सफल हो गया है. ऐसे में उत्तर प्रदेश राज्य के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को शौचालय बनवाने में मदद करने की सरकार की इस योजना से भी स्वच्छता अभियान को सफलता मिल रही है. उम्मीद हैं कि यूपी के साथ – साथ सभी राज्यों में इस तरह की योजना से स्वच्छता अभियान को सफल बनाने में योगदान मिले ताकि हमारा भारत देश पूरी तरह से स्वच्छ हो सके. 

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *