कला संस्कृति विकास योजना 2021 अनुदान राशी, ऑनलाइन फॉर्म | Kala Sanskriti Vikas Yojana (KSVY) in Hindi

कला संस्कृति विकास योजना 2020-21 (घटक, प्रमुख बिंदु) (Kala Sanskriti Vikas Yojana in hindi, KSVY, Scholarship, Subsidy, How to Apply, Form)

कोविड-19 की वजह से भारत के प्रत्येक क्षेत्र पर गहरा प्रभाव पड़ा है जिसके चलते कई सारी प्रदर्शनी या इवेंट और यात्राएं पूरी तरह से स्थगित कर दी गई। हालांकि इन सबके बावजूद भी कई प्रकार के इवेंट को डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से वैकल्पिक अथवा अतिरिक्त सेवाएं प्रदान करने का मौका संस्कृति मंत्रालय के संस्थानों द्वारा उनके प्रयासों की वजह से दिया जा रहा था। कुछ आयोजन फिर से किए जाने स्वीकृत कर लिए गए हैं जिसमें अधिक दर्शकों को शामिल नहीं किया जाएगा।

kala sanskriti vikas yojana
  • कोविड-19 की वजह से कार्यक्रम रद्द किए गए लेकिन उनके नुकसान की भरपाई करने के लिए उनकी प्रस्तुति के माध्यम को बदल दिया गया जिसे डिजिटल बनाया गया ताकि उन कलाकारों और निष्पादन कलाओं को लोगों तक पहुंचाया जा सके।
  • केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय प्रदर्शन कला ब्यूरो ने अपनी संस्कृति के विकास की योजना के तहत कई सारी योजनाएं प्रारंभ की है जिनके अंतर्गत ऐसे कार्यक्रम और गतिविधियां आयोजन की जाएंगी जिनमें बड़ी मात्रा में अनुदान की राशि प्राप्त होती है। इन आयोजनों के दौरान दर्शकों की संख्या भी बड़ी मात्रा में शामिल होते हैं।
  • कुछ कार्यक्रम हॉल में भी आयोजित करने की अनुमति प्राप्त हो गई है जिसमें सीमित संख्या में दर्शक शामिल हो सकेंगे वह कार्यक्रम सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। मौजूदा परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए उन सभी कलाकारों और संगठनों द्वारा सभी कार्यक्रम वर्चुअल तरीके से भी किए जाएंगे लेकिन उसके लिए भी उन्हें कई सारे दिशानिर्देश अपनाने होंगे।
  • वर्तमान वित्तीय सहायता से निपटने के लिए उन कलाकारों को दिशानिर्देशों का उल्लंघन ना करने और उनका पालन करने की अनुमति के साथ ही कार्यक्रम करने की अनुमति दी गई है।

दिव्यांग पेंशन योजना : जानिए सूची में आपका नाम है कि नहीं, ऑनलाइन चेक करें

कला संस्कृति विकास योजना पात्रता, दस्तावेज [Eligibility Criteria, Documents] –

  • नई व्यवस्था के अंतर्गत जिन लोगों ने पहले अनुदान की राशि प्राप्त कर ली है वह कलाकार और संगठन योजना के विभिन्न घटकों के तहत कला और शिल्प से संबंधित अपनी वीडियो बनाकर और फोटो खींचकर फेसबुक और यूट्यूब आदि जैसे सोशल मीडिया के जरिए वर्चुअल कार्यशाला में आयोजित कर सकते हैं। साथ ही उन लोगों को व्याख्यान सह प्रदर्शन वेबीनार और ऑनलाइन कार्यक्रम अथवा त्योहार आदि मनाने के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है।
  • हालांकि योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए समाहित गतिविधियों से संबंधित दस्तावेजों की कोई भी हार्ड कॉपी प्रस्तुत करने की आवश्यकता फिलहाल नहीं है। अनुदान की एक सॉफ्ट कॉपी भी कलाकार दिखा सकते है।
  • जिन संगठनों द्वारा वर्चुअल तरीके से कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है अपने कार्यक्रम के विवरण से संबंधित वीडियो लिंक अथवा रिकॉर्डिंग प्रस्तुत कर सकते हैं उन्हें प्रमाण के तौर पर कार्यक्रम के बारे में समाचार पत्रों अथवा आदि साधनों की मदद से प्रचार की छूट दे दी गई है।

प्रधानमंत्री सिलाई मशीन योजना : सरकार मुफ्त में दे रही है बेटियों को सिलाई मशीन, जानिए प्रक्रिया

कला संस्कृति विकास योजना से संबंधित विभिन्न अनुदान [Scholarship, Subsidy]

  • रिपोर्टरी ग्रांट:- रिपोर्टरी ग्रांड के अंतर्गत कलाकारों ऑनलाइन प्रदर्शन और गतिविधियों के लिए हॉल, पोशाक, प्रकाश, डिजाइन, कलाकारों की पारिश्रमिक रसीदें और रिपोर्टरी ग्रांट से संबंधित अनुदान जारी करने के लिए स्वीकृति दी जाएगी।
  • राष्ट्रीय उपस्थिति:- राष्ट्रीय उपस्थिति कार्यक्रम के अंतर्गत कला और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और त्योहार तथा सेमिनार आदि को ऑनलाइन आयोजित किया जाएगा।
  • सांस्कृतिक समारोह और उत्पादन अनुदान:– ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए कॉन्फ्रेंस वर्कशॉप फेस्टिवल प्रदर्शन या डांस प्रोडक्शन ड्रामा थिएटर संगीत आदि सभी विभिन्न प्रकार के भारतीय सांस्कृतिक पहलुओं को ध्यान में रखते हुए छोटे-छोटे प्रोजेक्ट संचालित किए जा रहे हैं। इन सभी पर खर्च होने वाला व्यय अनुदान राशि के जरिए स्वीकार किया जाएगा।
  • हिमालयी धरोहर:- हिमालय की संस्कृति विरासत के संरक्षण और विकास के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त करने हेतु विभिन्न प्रकार के अध्ययन और अनुसंधान संरक्षण और प्रलेखन ऑडियो तथा विजुअल माध्यम से प्रचार एवं प्रसार किए जाएंगे।
  • बौद्ध /तिब्बती:- इसी प्रकार बौद्ध और तिब्बती कला के विकास के लिए भी वित्तीय सहायता के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों को ऑनलाइन रिकॉर्डिंग के माध्यम से किया जाएगा।
  • छात्रवृत्ति फैलोशिप:- कला और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए छात्रवृत्ति और फेलोशिप योजना के अंतर्गत भारतीय शास्त्रीय संगीत भारतीय शास्त्रीय नृत्य रंगमंच स्वांग दृश्य कला अथवा विभिन्न शास्त्रीय संगीत ओं को ऑनलाइन अनुसंधान के द्वारा चलाया जाएगा ताकि अनुदान की राशि एकत्रित की जा सके।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – मुफ्त में इस तरह लोगों को मिलेगा मुफ्त अनाज का लाभ

कला संस्कृति विकास योजना में आवेदन कैसे होगा [Apply]–

योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए व्यक्ति को लिखित में इस पते में आवेदन करना होगा, उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र 14, सी एस पी सिंह मार्ग इलाहाबाद 211001.

कला संस्कृति विकास योजना मुख्य बिंदु

योजना का नाम

कला संस्कृति विकास योजना

पात्रता

भारतीय संस्कृति और कला से जुड़े हुए संगठन और कलाकार

राशि अनुमोदन

अधिकतम 5 लाख रुपए व कुछ स्थितियों में 20 लाख तक

पहली किस्त

75% अनुदान राशि

दूसरी किस्त

25% अनुदान राशि

आवेदन

पूरा साल खुले रहते हैं

FAQ

Q: कला संस्कृति योजना क्या है?

Ans: देश में कलाकारों को ऑनलाइन प्रस्तुति देने की मंजूरी के साथ योजना के तहत उन्हें अनुदान भी दिया जा रहा है.

Q: क्या कला संस्कृति योजना के लिए कोई व्यक्तिगत रूप से आवेदन कर सकता है?

Ans: जी नहीं

Q: कला संस्कृति योजना के लिए आवेदन कहां करें?

Ans: उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र 14, सी एस पी सिंह मार्ग इलाहाबाद 211001.

Q: कला संस्कृति विकास योजना में आवेदन की योग्यता क्या है?

Ans: भारतीय संस्कृति और कला से जुड़े हुए संगठन और कलाकार

Q: कला संस्कृति विकास योजना में अधिकतम अनुदान कितना मिलेगा?

Ans: 20 लाख

इन सभी कार्यक्रमों को ऑनलाइन के माध्यम से चलाकर अनुदान की राशि इकट्ठी कर के सभी कलाकारों की वित्तीय स्थिति को बेहतर करने के लिए भारतीय कला संस्थान द्वारा यह योजना चलाई जा रही है।

अन्य पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *