[पंजीयन] युवा स्वाभिमान योजना मध्यप्रदेश 2019-20

युवा स्वाभिमान योजना मध्यप्रदेश 2019-20 क्या हैं [पंजीयन पोर्टल, आवेदन फॉर्म, पात्रता, वेतन, रजिस्ट्रेशन,हेल्पलाइन नंबर]  [MP Yuva Swabhiman Yojana in Hindi] [Online Application Form, Eligibility, List, Salary,Payment, Last Date, Panjiyan, MP Helpline Contact no, Login Portal, FAQ]

मध्यप्रदेश की सरकार द्वारा रोजगार के नये अवसर प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना  के पंजीयन का ऐलान किया हैं । योजना के अंतर्गत आर्थिक रूप से कमजोर बेरोजगारों को वर्ष में कम से कम 100 दिनों तक का मेहनताना मिले ऐसा प्रावधान हैं । एमपी युवा स्वाभिमान योजना के आवेदन फॉर्म कैसे भरे जायेंगे एवं इसके पात्रता के नियम क्या होंगे सभी जानकारी आर्टिक्ल में दी जायेगी ।

yuva swabhiman yojana MP

युवा स्वाभिमान योजना की जानकारी

नाम युवा स्वाभिमान योजना 
किसने लॉंच की ? सीएम कमल नाथ
घोषणा कब की गई जनवरी 2019
लाभार्थी गरीब बेरोजगार 
टोल फ्री हेल्पलाइन अभी नहीं हैं
वेतन (Stipend Payment) 13,000 रूपए

युवा स्वाभिमान योजना मध्य प्रदेश आवेदन तिथि (Apply Date)

युवा स्वाभिमान योजना के लिए आवेदन फॉर्म भरना शुरू हो चुके है। योजना के तहत बेरोजगारों को प्रशिक्षण के साथ-साथ काम भी दिया जायेगा । युवा अपने कार्य क्षेत्र के अनुसार कार्य का चुनाव कर सकता हैं ।

युवा स्वाभिमान योजना क्या है ? कितना वेतन मिलता हैं ?(Salary, Stipend)

मुख्यमंत्री ने यह स्पष्ट किया हैं कि मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना में जो भी व्यक्ति आवेदन भर कर उसमें भाग लेता हैं उसे इस योजना में कम से कम  100 दिनों का रोजगार एवं प्रशिक्षण मिलेगा, इसके लिए सरकार उन बेरोजगारों को महीने के 4000 रूपए के हिसाब से कुल 13,000 का वेतन देगी ताकि उनकी आर्थिक स्थिती बेहतर हो सके । यह राशी उन्हें अधिकतम 6 महीने तक मिलेगी.

एमपी युवा स्वाभिमान योजना के लिए पंजीकरण कैसे करवाये

मध्य प्रदेश में चल रही एमपी युवा स्वाभिमान योजना के ऑनलाइन फॉर्म  युवा स्वाभिमान योजना एमपी पोर्टल  पर उपलब्ध है.  इस योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक व्यक्ति इसके ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भर सकते है और ऑनलाइन अपनी एप्लिकेशन का स्टेटस भी चेक कर सकते है. एमपी युवा स्वाभिमान  योजना के लिए ऑनलाइन फॉर्म पोर्टल में उपलब्ध हैं.  

एमपी युवा स्वाभिमान योजना मध्य प्रदेश ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की प्रक्रिया पंजीकरण (Online Form Application Process Registration) –

नीचे इस योजना में आवेदन के लिए संपूर्ण प्रक्रिया दी गई है –

  • सर्वप्रथम आपको उपर दिए गए इसके ऑफ़िशियल पोर्टल पर जाना होगा.
  • जहाँ आवेदन करें आप्शन पर क्लिक करें, आपको यहा दो विकल्प दिखाई देंगें, पहला पंजीकरण करें दूसरा आवेदन की जांच करें. 
  • पहली बार रजिस्टर करने के लिए आपको पंजीकरण करना होगा, जिसके लिए एक फॉर्म खुल जायेगा.
  • फॉर्म में आपको अपनी सारी पर्सनल जानकारी, नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जन्म तारीख आफी भरना होगा, इसके साथ ही सीधे हाथ तरफ उपर आपको फोटो अपलोड करने का आप्शन आएगा, जिस पर आपको अपनी पासपोर्ट साइज़ फोटो अपलोड करनी होगी. 
  • फॉर्म को अच्छे से जांच ले और सबमिट बटन पर क्लिक करें. इसके बाद स्वाघोषणा पत्र आएगा, जिसे क्लिक मार्क करना होगा. आगे बढ़ने पर आपके रजिस्टर मोबाइल में ओटीपी आई होगी उसे यहाँ डालें. इसे सबमिट करने पर आपकी आवेदन प्रक्रिया युवा स्वाभिमान योजना के लिए पूरी हो जाएगी.

एमपी युवा स्वाभिमान योजना आवेदन फॉर्म स्थिति (Check Online Form Status)

अपने आवेदन की स्थिति की जाँच करने के लिए ऑफिसियल पोर्टल में ‘आवेदन स्थिति’ पर क्लिक करें. अब यहाँ अपना रजिस्टर मोबाइल नंबर और आवेदन क्रमांक डालें, इसके अलावा आप जन्म तिथि भी डाल सकते है. इसके बाद क्लिक करने पर आपको आपकी आवेदन फॉर्म की स्थिति दिखाई देगी.

किसे मिलेगा युवा स्वाभिमान योजना मध्य प्रदेश में भाग लेने का मौका ? [पात्रता नियम /Eligibility Criteria] :

  • गरीब बेरोजगार-  यह युवा स्वाभिमान योजना उन बेरोजगारों के लिए हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और ईडबल्यूएस [EWS] ग्रुप की श्रेणी में आते हैं और साथ ही पढ़े लिखे भी हैं ।
  • सिर्फ शहरी – योजना मुख्य रूप से शहरी बेरोजगारों के लिए है, मतलब सिर्फ शहर में रहने वाले बेरोजगार ही इस योजना का लाभ उठा सकते है.
  • उम्र – युवा स्वाभिमान योजना के तहत लाभ लेने के लिए लाभार्थी की उम्र 21 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए. 21 से कम या 30 से अधिक इसका लाभ नहीं ले सकते.
  • आय – योजना का लाभ उन्हें ही मिलेगा जिस परिवार की वार्षिक आय 2 लाख या उससे कम है.
  • मध्य प्रदेश निवासी – साथ ही यह योजना एमपी स्टेट द्वारा घोषित की गई हैं इसलिए इसके लिए वही बेरोजगार मान्य होंगे तो मध्यप्रदेश के रहवासी हैं ।

युवा स्वाभिमान योजना  में आवेदन के लिए लगने वाले दस्तावेज़ [Documents]

इस योजना के तहत आपको निवासी प्रमाण पत्र देना जरूरी हैं, इसके अलावा योजना के भीतर पंजीयन के नियम स्पष्ट होने पर आपको जन्म प्रमाण पत्र, मार्कशीट जैसे दस्तावेजो की आवश्यकता होगी । इसके अलावा जो भी महत्वपूर्ण होगा वो सरकार द्वारा पूरी घोषणा के बाद इस साइट पर अपडेट कर दिया जाएगा।

मध्य प्रदेश युवा स्वाभिमान योजना के अंतर्गत किये गए बदलाव – 

मध्यप्रदेश युवा स्वाभिमान योजना को मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने जल्दी – जल्दी में शुरू करने के फैसला ले तो लिया था, किन्तु फिर इस योजना की रणनीति उतनी मजबूत नहीं होने के कारण इस योजना को बंद करने तक की नौबत आ गई थी. फिर इसके बाद कमलनाथ जी ने नगरीय विकास एवं आवास विभाग के साथ बैठक कर इसमें कुछ परिवर्तन करने का फैसला लिया है, इसमें कौन – कौन से परिवर्तन किये जा रहे हैं इसकी जानकारी इस प्रकार है –

  • परामर्श सुविधा (Counselling) – युवा स्वाभिमान योजना के तहत सबसे पहले तो यह परिवर्तन किया जा रहा हैं कि लाभार्थियों को दिये जाने वाले प्रशिक्षण से पहले उनकी काउंसलिंग की जायेगी. इस काउंसलिंग के माध्यम से उन्हें यह बताया जायेगा कि उन्होंने जिस क्षेत्र के लिए प्रशिक्षण लेने का फैसला लिया हैं उस क्षेत्र में कौन – कौन से रोजगार के अवसर उन्हें मिलेंगे.
  • प्रशिक्षण (Training Timing change) – युवा स्वाभिमान योजना एमपी में अब तक लाभार्थियों को एक दिन में 4 घंटे का प्रशिक्षण दिया जाता था और बाकि के 4 घंटे उन्हें काम करना होता था. किन्तु अब इसमें यह परिवर्तन किया गया है कि अब लाभार्थियों को 2 महीने का प्रशिक्षण प्राप्त होगा और फिर अगले 2 महीने उन्हें निकाय में काम करने का मौका दिया जायेगा.
  • मुफ्त बस सेवा – इसके साथ ही प्रशिक्षण केंद्र चूकि शहरी इलाके में लगाये जा रहे हैं, तो ग्रामीण क्षेत्र से लोगों को शहरी क्षेत्र में आकर प्रशिक्षण प्राप्त करने में बस का किराया देना पड़ता था, किन्तु अब उन्हें निशुल्क बस के पास दिए जायेंगे ताकि वे आसानी से प्रशिक्षण क्रेंद्र तक पहुँच सकें और योजना का लाभ प्राप्त कर सकें.
  • प्रशिक्षण ख़त्म हो जाने के बाद एवं निकाय में 2 महीने काम सीखने के बाद लाभार्थियों को खुद का रोजगार शुरू करने के लिए मदद मिल सकें, इसके लिए लोन मेला भी लगाया जायेगा और फिर लाभार्थी अपने रोजगार को शुरू करने के लिए लोन प्राप्त कर सकेंगे.
  • जो भी युवा इस योजना में अपना रजिस्ट्रेशन करवाएंगे उन्हे म्यूनिसिपल कार्पोरेशन, म्यूनिसिपल काउंसिल और म्यूनिसिपालिटी आदि ऑफिस में काम करेंगे. इसके अलावा बेरोजगार लोग यहाँ अपने पसंदीता क्षेत्र में स्कील डेव्लपमेंट से संबंधित ट्रेनिंग भी ले सकेंगे. 

एमपी युवा स्वाभिमान योजना मध्य प्रदेश मोबाइल एप डाउनलोड (MP Yuva Swbhiman Yojana mobile App download)–

अगर युवा चाहे तो अपने स्मार्ट फोन में गूगल प्ले स्टोर में जाकर एमपी युवा स्वाभिमान योजना एप डाउनलोड भी कर सकते है.

इसके पहले अगर आप मध्यप्रदेश के रहवासी हैं और जॉब की तलाश में हैं तो एमपी के रोजगार पोर्टल में पंजीयन जरूर करवाये उसके लिए मप्र रोजगार पंजीयन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया देखे। इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन से आपको एमपी के रोजगार क्षेत्र के बारे में जानकारी मिलेगी साथ ही एमपी रोजगार मेला संबंधी जानकारी भी प्राप्त होगी ।

जय किसान ऋण मुक्ति योजना एमपी द्वारा सरकार ने किसानो का लोन माफ कर दिया हैं इसके बाद अपने चुनावी घोषणा पत्र अनुसार इस योजना के जरिये वो प्रदेश में रोजगार के अवसर ला रही हैं । मुख्यमंत्री ने कहा कि यह योजना मनरेगा के समान ही कार्य करेगी। एमपी द्वारा श्रमिक पंजीयन पोर्टल की शुरुवात भी की गई हैं ताकि मजदूर वर्गो तक सभी जानकारी पहुँच सके।

योजना के अंदर 800 करोड़ का बजट तय किया है, जिसे राज्य सरकार देगी. इस योजना ने लगभग 6 लाख युवा लाभान्वित होंगें. युवा स्वाभिमान योजना (Yuva Swabhiman Yojana) के बारे में सभी जानकारी के लिए इस साइट को सब्सक्राइब करे ताकि सारी जानकारी सबसे पहले पढ़ सके।

इस योजना में ये सभी परिवर्तन इसलिए किये गए क्योंकि इसमें प्रशिक्षण लेने वाले लोगों में से केवल एक तिहाई लोगों की उपस्थिति रही, और इतने ही लोगों को स्टिपेंड प्राप्त हुआ. जिस वजह से यह योजना विफल हो रही थी, इसका एक मुख्य कारण था योजना के बारे में पर्याप्त जानकारी का न होना, क्योंकि लोग इसे एक बेरोजगारी भत्ता समझ रहे थे और इसलिए उन्होंने इसमें रजिस्ट्रेशन करवा लिया था. अतः इस योजना को सफल बनाने के लिए यह परिवर्तन किये गये हैं.

FAQ’s

Q: इस योजना में क्या आधार कार्ड से लिंक किया हुआ बैंक खाता होना जरूरी है?

Ans: हां, क्योंकि इस योजना में दिये जाने वाले स्टिपेंड की राशि बैंक खाते में जमा की जायेगी.

Q: यदि ऐसे युवा जोकि शहर में निवास कर रहे है किन्तु उनका आधार कार्ड में पता ग्रामीण क्षेत्र का है, तो क्या वे भी इस योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए योग्य होंगे?

Ans: हां हो सकते हैं, लेकिन इसके लिए उस युवा को अपना स्वयं का प्रमाणित किया हुआ एक ऐसा दस्तावेज दिखाना बहुत आवश्यक होगा, जिससे यह साबित हो कि अब वह युवा शहर का ही निवासी है.

Q: क्या इस योजना का लाभ किसी विशेष वर्ग के लोगों के लिए हैं?

Ans: नहीं, इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी वर्ग के बेरोजगार युवाओं को आवेदन करने की अनुमति है. 

Q: क्या इस योजना में ऐसे व्यक्ति जोकि किसी वर्ग से संबंध नहीं रखते या जो अति गरीब हैं उन्हें कोई प्राथमिकता दी जाएगी?

Ans: नहीं, इसमें सभी जाति वर्ग के लोग एक समान हैं किसी को कोई प्राथमिकता नहीं दी जाएगी.

Q: क्या इस योजना में केवल ऐसे युवा आवेदन कर सकते हैं जिनकी शैक्षणिक योग्यता बेहतर हो?

Ans: नहीं, ऐसी कोई निर्धारित सीमा नहीं है, किन्तु आवेदक के लिए इतनी शैक्षिक योग्यता होनी आवश्यक है कि वह कौशल प्रशिक्षण प्राप्त कर खुद का व्यापार शुरू कर सके.

Q: यदि आवेदक ने 2 महीने का प्रशिक्षण एवं अगले 2 महीने रोजगार प्राप्त कर लिया और उसके बाद उसी साल वह और 2 महीने के लिए प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहता है, तो क्या वह यह कर सकता है?

Ans: एक वर्ष में केवल एक बार में ही 2 महीने का प्रशिक्षण और रोजगार प्राप्त होगा. किन्तु इसके बाद अगर वह इसमें फिर से आवेदन करना चाहता हैं तो उसे अगले साल ही आवेदन करने की अनुमति मिलेगी.

Q: अगर इस योजना में आवेदन की संख्या बहुत अधिक होगी, तो सभी लाभार्थी इस अवसर का लाभ कैसे प्राप्त कर सकेंगे?

Ans: इसके लिए ‘फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व’ सुविधा शुरू की गई है, जिसके अनुसार जो पहले आयेगा उसे पहले अवसर प्राप्त होगा.

Q: इस योजना में कितने निकाय शामिल है?  

Ans: इस योजना को पूरे राज्य में शुरू किया गया हैं किन्तु शुरुआत में यह केवल 150 निकायों तक ही सीमित है.

Q: इस योजना में शामिल होने वाले निकायों का चयन किस आधार पर किया जायेगा?

Ans: इसमें शामिल होने वाले निकाय वहीँ होंगे जहाँ पर प्रधानमंत्री की कौशल विकास योजना, मुख्यमंत्री कौशल योजना व ऐसी ही अन्य योजना के प्रशिक्षण केंद्र मौजूद हों.

Q: इस योजना में जो लाभार्थी होंगे यदि उनकी उपस्थिति निर्धारित उपस्थिति से कम है तो क्या उन्हें स्टिपेंड प्रदान किया जायेगा?

Ans: नहीं, यदि उनकी उपस्थिति निर्धारित उपस्थिति से कम है तो उन्हें कोई भी स्टिपेंड नहीं दिया जायेगा.

Q: इस योजना में शामिल होने के लिए क्या यह जरूरी हैं कि युवा कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करे ही?

Ans: हां, आवेदक को पहले इसमें प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा और उसके बाद उन्हें रोजगार प्राप्त होगा.

Q: यदि किसी व्यक्ति के पास पहले से ही कौशल प्रशिक्षण हैं और वह इस योजना में शामिल होकर केवल रोजगार प्राप्त करना चाहता हैं तो क्या वह ऐसा कर सकता है?

Ans: नहीं, उसका प्रशिक्षण प्राप्त करना आवश्यक है. इसके लिए वह यह कर सकता है कि उसे जिस क्षेत्र में कौशल प्रशिक्षण पहले से प्राप्त हैं वह उसे छोड़ कर किसी और क्षेत्र में प्रशिक्षण प्राप्त करें और अपने पहले वाले कौशल को और अधिक बढ़ाएं.

Q: इस योजना में काम करने के दौरान छुट्टी का क्या प्रावधान है?

Ans: इस योजना में आवेदकों को मध्यप्रदेश शासन द्वारा निर्धारित शासकीय अवकाश ही प्राप्त हो सकता है. और इसके लिए उनके स्टिपेंड से कोई कटौती भी नहीं की जाएगी. किन्तु इसके अलावा उन्हें कोई छुट्टी नहीं दी जायेगी.

Q: यदि कोई युवा केवल 10 दिन प्रशिक्षण प्राप्त करता है और उसके बाद छोड़ देता हैं तो क्या उसे स्टिपपेंड प्राप्त होगा?

Ans: नहीं, आवेदक को स्टिपेंड तभी प्राप्त होगा जब वह पूरे महीने का कौशल प्रशिक्षण प्राप्त कर लेगा.

Q: क्या इस योजना में शामिल होने वाले लाभार्थी का नगर पालिका निगम या नगर पालिका परिषद या नगर पंचायत द्वारा कोई सत्यापन किया जायेगा?

Ans: हां, इनका यह काम होगा कि वे लाभार्थी के आधार कार्ड के आधार पर उनका सत्यापन करें. इस सत्यापन के बाद ही वे इस योजना में पात्र होंगे, अन्यथा नहीं.

अन्य पढ़े –

6 comments

  1. devkinandan sharma

    brojgari hatane ke liye acchi yojana hai

  2. 21to 30 age wale hi aavedan kar sakte hai, 32 saal wale nahi kar sakte kya?

  3. Sir mene eska form 3 mahine pahle bhara tha abhi tak naam nahi aaya mera plz bataiye sir kyo nai aaya

  4. Suraj chandrapuri

    33 varsh ki Umra wale iske liye apply kar sakte hai?

    • नहीं. योजना में सिर्फ 21 से 30 वर्ष के युवा ही आवेदन कर सकते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *