[60 हजार सालाना] युवा स्वाभिमान योजना मध्यप्रदेश 2.0 (Phase 2) 2020 @yuvaswabhimaan.mp.gov.in

युवा स्वाभिमान योजना मध्यप्रदेश 2020 (New Yuva Swabhiman Yojana MP in Hindi) [पंजीयन पोर्टल, आवेदन फॉर्म, पात्रता, वेतन, रजिस्ट्रेशन,हेल्पलाइन नंबर, अटेंडेंस चेक, बेरोजगारी भत्ता] [Online Application Form Download, Eligibility, List, Salary,Payment, Last Date, Panjiyan, MP Helpline Contact no, Login Portal, Phase 2 @yuvaswabhimaan.mp.gov.in, Attendance Check, Stipend, Berojgari bhatta]

बेरोजगारी हमारे देश की एक बहुत बड़ी समस्या रही है इस समस्या से निपटने के लिए सरकार ने कई सारी योजनायें शुरू कर लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा किये हैं और आगे भी कर रही है. खासकर आजकल के युवाओं के लिए. ऐसी ही एक योजना मध्यप्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने शुरू की है जिसका नाम है ‘मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना’. इस योजना के मुताबिक जो लोग शहरी क्षेत्र के बेरोजगार युवा हैं उन्हें सरकार 100 दिनों का प्रशिक्षण एवं 4 हजार रूपये मासिक तौर पर प्रदान करती थी, किन्तु अब इस योजना का दूसरा चरण शुरू हो रहा हैं, जिसमें कुछ बड़े परिवर्तन किये गये हैं. इस योजना में किये गये परिवर्तन से जुड़ी कुछ खास बातें जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें.

yuva swabhiman yojana MP

लांच की जानकारी

योजना का नाम मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना
राज्य मध्यप्रदेश
लांच की तारीख 1 फरवरी, सन 2020
लांच की जाएगी मुख्यमंत्री कमलनाथ जी द्वारा
लाभार्थी शहरी क्षेत्र के बेरोजगार गरीब युवा
कुल वेतन 60 हजार रूपये प्रतिवर्ष
संबंधित विभाग नगरीय विकास एवं आवास विभाग
अधिकारिक वेबसाइट yuvaswabhimaan.mp.gov.in

मुख्यमंत्री कन्या अभिभावक पेंशन योजना के फॉर्म प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें

मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना की विशेषताएं

  • योजना का उद्देश्य :- इस योजना के दूसरे चरण को शुरू करने के लिए सरकार का मुख्य उद्देश्य रोजगार में वृद्धि करना एवं अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने की ओर एक प्रयास है.
  • काम करने के दिनों में वृद्धि :- इस योजना के पहले चरण में जुड़ने वाले युवा लाभार्थियों को सरकार की ओर से 100 दिन काम करना होता था, किन्तु अब इस योजना के दूसरे चरण में काम करने के दिनों में वृद्धि कर दी गई हैं अब उन्हें 365 दिन काम करना होगा.
  • मासिक वेतन में वृद्धि :- इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को प्रशिक्षण के साथ ही काम करने के लिए मासिक आधार पर 1000 रूपये (100 दिन के 4000 रूपए) वेतन दिया जाता था. ताकि जब तक कि उन्हें स्थाई रोजगार या नौकरी प्राप्त नहीं हो जाती, तब तक उनकी आजीविका चलाने में उन्हें मदद मिल सकें. अब इस मासिक वेतन में वृद्धि कर इसे 5 हजार किया जा रहा है. अब सालाना प्रति व्यक्ति को 60 हजार रूपए मिलेंगें.
  • मनरेगा की तर्ज पर :- इस योजना को राज्य सरकार ने मनरेगा की तर्ज पर शुरू किया है. जिसके तहत सरकार लाभार्थियों को 365 दिनों के लिए अस्थायी रोजगार की गारंटी देगी.
  • बेरोजगारी में लगाम :- इस योजना के मध्यम से सरकार चाहती हैं राज्य में बेरोजगारी की समस्या में लगाम लगाया जाये. राज्य के प्रत्येक युवा को रोजगार मिले, और कोई भी बेरोजगार न रहे.
  • रोजगार के मौके :- इस योजना में शामिल होने वाले युवाओं के लिए कई सारे रोजगार के मौके शुरू हुए हैं. वे किसी भी रोजगार के साथ जुड़कर अपने लिए आजीविका का एक साधन बना सकता है.

मध्यप्रदेश में युवाओं को उद्यमी बनाने के लिए एक विशेष योजना चलाई जा रही है, पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना (चरण 2) में शामिल होने के लिए आवेदन कैसे करें? (How to Apply for Phase 2)

  • सबसे पहले लाभार्थी मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना पोर्टल पर क्लिक करें.
  • इसके बाद उन्हें उनकी स्क्रीन पर ‘आवेदन करें’ लिखी हुई एक बटन दिखाई देगी, जोकि उनकी स्क्रीन के ऊपर की ओर दायें तरफ मौजूद होगी. उस पर क्लिक करें.
  • इसके बाद उनके सामने 3 विकल्प होंगे जोकि एक नए यूजर के रूप में आवेदन करने के लिए होगा, दूसरा आवेदन की स्थिति की जाँच के लिए होगा और तीसरा अपनी प्रोफाइल को अपडेट करने के लिए होगा. तो उन्हें इनमें से पहले वाले विकल्प पर ‘रजिस्ट्रेशन करें’ बटन पर क्लिक करना है.
  • इसके बाद उनकी स्क्रीन पर इस योजना का आवेदन फॉर्म शो हो जायेगा. उसे उनसे पूछी जाने वाली वाली जानकारी उन्हें हिंदी एवं अंग्रेजी दोनों ही भाषाओं में भरना होता है. जैसा कि वहां लिखा हुआ होगा.
  • इसके बाद आवेदकों को अपनी एक पासपोर्ट आकार की फोटो को अपलोड करने का भी विकल्प दिखाई देगा. आवेदकों को उसे भी भरना आवश्यक है.
  • सभी जानकारी भर देने एवं फोटोग्राफ अपलोड कर देने के बाद उन्हें नीचे अंत में एक बटन दिखाई देगी जहाँ ‘आगे बढ़ें’ लिखा हुआ होगा. अब उन्हें उस बटन पर क्लिक करना है.
  • इसके बाद उनकी स्क्रीन पर उनके रजिस्ट्रेशन की सभी जानकारी ओपन हो जाएगी. वे उसे सही से चेक करें और फिर ‘आगे बढ़ें’ बटन पर क्लिक करें.
  • आगे बढ़ते ही उनकी स्क्रीन पर ‘स्व – घोषणा’ पेज ओपन हो जायेगा. जहाँ उन्हें जिस क्षेत्र में रोजगार चाहिए है उसे चुनने के लिए कहा जायेगा. बहुत सारे विकल्प में से वे एक को चुने और फिर ‘आगे बढ़ें’ बटन पर फिर से क्लिक करें.
  • इसके बाद उन्हें अगले पेज में अपने मोबाइल नंबर को सत्यापित करना होगा इसके लिए उन्हें ‘ओटीपी प्राप्त करें’ लिखा हुआ दिखाई देगा, उस पर क्लिक करते ही उनके फोन में ओटीपी आयेगा.
  • उसे इंटर कर अंत में ‘सत्यापित करें’ बटन पर क्लिक करते हुए, इस योजना का लाभ लेने के लिए वे इसमें शामिल हो जायेंगे.

मध्यप्रदेश आदिवासी समुदाय के लिए कई तरह की योजना कमलनाथ सरकार ने शुरू की है, अधिक जानकारी के लिए यहाँ पढ़ें

मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना में पात्रता मापदंड (Eligibility Criteria)

  • मध्यप्रदेश का निवासी :- इस योजना का लाभ मध्यप्रदेश के युवाओं के लिए हैं. दूसरा किसी राज्य का व्यक्ति इस योजना में शामिल होने के लिए पात्र नहीं है.
  • गरीब बेरोजगार युवा :- अधिकतर ऐसे लोग जो कि गरीब होते हैं. उनमें ही बेरोजगारी की समस्या सबसे अधिक देखी जाती है. इसलिए इस योजना में ऐसे युवाओं को ही कवर किया जायेगा, जोकि गरीब एवं बेरोजगार हैं.
  • शहरी क्षेत्र का युवा :- इस योजना में चूकि प्रशिक्षण के केंद्र शहरी इलाकों में ही खोले गये हैं, इसलिए इस योजना में शहरी क्षेत्र का व्यक्ति ही शामिल होने के लिए पात्र है.
  • उम्र की सीमा :- जहाँ तक उम्र की सीमा की बात की जाये. तो यदि लाभार्थी 21 वर्ष की सीमा पार कर चूका है, और जिसने अब तक 30 वर्ष से अधिक की उम्र पार नहीं की है. तो वे इस योजना में शामिल हो सकते हैं.
  • परिवार की आय :- इस योजना को सरकार ने गरीब परिवार के बेरोजगार युवाओं के लिए शुरू किया है, इसलिए उनके परिवार की आय पात्रता के लिए यह आवश्यक है उनकी सलाना आय 2 लाख या उससे कम हो.

मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज (Documents Required)

इस योजना में आवेदकों को आवेदन के दौरान लगने वाले दस्तावेजों में आवासीय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र, शिक्षित होने का प्रमाण देने के लिए 12 वीं कक्षा की मार्कशीट, बीपीएल कार्ड, आय प्रमाण पत्र एवं पते का प्रमाण आदि की आवश्यकता पड़ सकती हैं. इसलिए वे अपने साथ इन सभी दस्तावेजों की एक – एक कॉपी अवश्य रखें.

इस तरह से यह योजना बेरोजगारों के लिए फायदा का सौदा साबित हो सकती हैं. यदि आप भी बेरोजगार लोगों में से एक हैं. और इस योजना में पात्र हैं तो इसके साथ जुड़कर इसका लाभ प्राप्त करें.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *