मुख्यमंत्री कन्यादान योजना झारखण्ड | Mukhyamantri Kanyadan Yojana Jharkhand in Hindi

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना झारखण्ड 2018-19 Mukhyamantri Kanyadan Yojana Jharkhand in Hindi आवेदन फॉर्म 2018 (Download Application form, Eligibility Criteria)

झारखण्ड सरकार ने सामाजिक कल्याण विभाग द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत सभी पात्र लोगों से आवेदन करने को कहा है. इस योजना के अंतर्गत गरीब परिवार को उनकी बेटी की शादी के लिए 30 हजार रूपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। जो भी इस योजना के अंतर्गत योग्य है,और जो इसका लाभ लेना चाहता है वो नीचे दी हुई लिंक से योजना का आवेदन फॉर्म डाउनलोड करके अप्लाई कर सकता है.

kanyadan yojna jharkhand

1योजनामुख्यमंत्री कन्यादान योजना झारखण्ड

 

2घोषणा की गईझारखण्ड मुख्यमंत्री
3दिनांक2017
4किसके द्वारा योजना चलाई जाएगीसामाजिक कल्याण विभाग झारखण्ड
5योजना के मुख्य लाभार्थीगरीब परिवार की लड़कियां
6सहायता राशि30,000/- (One time grant)

योजना के मुख्य बिंदु Key features –

  • योजना का उद्देश्य मुख्यमंत्री कन्यादान योजना उन गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को टारगेट करते हुए बनाई गई, जो अपनी बेटी की शादी आर्थिक कमी की वजह से नहीं कर पाते है. सरकार की इस योजना के लाने बहुत से परिवारों की परेशानी कम होगी और कई नए घर बस जायेंगें।
  • आर्थिक सहायता योजना के अंतर्गत झारखण्ड में रहने वाले परिवार की हर योग्य लड़की को 30000/- रूपए एक बार में दिए जायेंगें। पहले इस योजना के अंतर्गत 15000 रूपए की राशि वित्तीय सहायता के रूप में दी जाती थी, लेकिन अब इसे बढाकर 30000 रूपए कर दिया गया है. ये राशि सिर्फ उनकी शादी के लिए दी जाएगी, सरकार इस बात का विशेष ध्यान रखेगी कि राशि जिस उद्देश्य से दी जा रही है, वो उसी काम में लगाई जाये। और किसी अयोग्य पात्र को यह सहायता न मिले।
  • चुकाने की जरूरत नहीं है (not to need repay) – यह राशि एक सहायता के रूप में दी जा रही है, बाद में आगे चलकर लाभार्थियों को इस राशि को राज्य सरकार को चुकाने की जरुरत नहीं है.

योजना के लिए पात्रता (Eligibility criteria)

  • झारखण्ड का मूल निवासी यह योजना का लाभ सिर्फ उन्हें ही दिया जायेगा, जो झारखण्ड प्रदेश में पिछले 10 साल से रह रहे हो. इसके अलावा उनके पास झारखण्ड का मूल निवासी प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • गरीब वर्ग योजना का लाभ उन्हें दिया जायेगा जो परिवार गरीबी रेखा के नीचे आते हों, जिनकी वार्षिक आय 72000 रूपए या उससे कम हो. इनके पास गरीबी रेखा कार्ड होना अनिवार्य है.
  • सिर्फ लड़कियां के लिए यह योजना सिर्फ लड़कियों को ध्यान में रखकर बनाई गई है. लड़कियों की शादी के लिए ही इसमें आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • 18 साल से ऊपर लड़कियां जिनकी 18 वर्ष होने के बाद हो रही है, वही इस योजना के लिए पात्र है. अगर किसी लड़की की शादी 18 साल से कम उम्र में करवाते है तो उसे इस योजना का लाभ भी नहीं मिलेगा एवं उस परिवार के ऊपर क़ानूनी करवाई की जाएगी। लड़के की उम्र भी 21 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • सरकारी नौकरी न हो योजना का पात्र वही होगा, जिसके परिवार का कोई भी सदस्य किसी भी छोटी बड़ी सरकारी नौकरी में कार्यरत नहीं होगा।
  • पहली शादी योजना के अंतर्गत वही लड़कियां पात्र है, जिनका यह पहला विवाह होगा। पुनर्विवाह होने की स्थति में वो लड़कियां इस योजना के लिए अयोग्य मानी जायेगीं और उन्हें इसका लाभ नहीं मिलेगा।
  • अनाथ लड़कियां योजना के लिए वो लड़कियां पात्र है, जो बेसहारा है, जिनका कोई अभिभावक या माता पिता नहीं है. इसके लिए उन लड़कियों को खुद आवेदन करना होगा। इन लड़कियों के लिए गरीबी रेखा कार्ड और आय सीमा की पाबंधी नहीं होगी।
  • जरुरी दस्तावेज (Required documents) –
  • योजना में आवेदन के समय कुछ जरुरी दस्तावेज की आवश्यकता होगी, जिसे फॉर्म के साथ आपको जमा करना होगा। आवेदक को अपना आय प्रमाण पत्र, मूल निवासी प्रमाण पत्र, गरीबी रेखा कार्ड, आधार कार्ड साथ रखना होगा। इसके अलावा रीसेंट वाली 2 पासपोर्ट साइज की फोटो, बैंक की पासबुक की फोटोकॉपी। ये सभी दस्तावेज आवेदन करने के पहले ही अपने पास तैयार करके रखें। इसके अलावा अगर कुछ दस्तावेज की आवश्यकता होगी तो फॉर्म जमा करते समय विभाग द्वारा आपको इसकी जानकारी दे दी जाएगी।

आवेदन प्रक्रिया (Application Form and Process)

  • आवेदक को योजना के लिए आवेदन शादी की तारीख के कम से कम एक महीने पहले करना होगा। इसके बाद आवेदन करने पर करने पर उनका फॉर्म रद्द कर दिया जायेगा।
  • आवेदक को इस दी हुई लिंक में [https://www.yojanaschemehindi.com/wp-content/uploads/2018/11/MKYJ.pdf] क्लिक करके फॉर्म डाउनलोड करना होगा।
  • फॉर्म डाउनलोड करने के बाद उसका प्रिंट निकलवा लें. फिर इसमें आवेदक की सभी जरुरी जानकारी सही सही भरें।
  • सभी जानकारी भरने के बाद फॉर्म के साथ सभी जरुरी कागजात लगाकर, अपने जिले के सामाजिक कल्याण विभाग में यह जमा कर दें. वित्तीय सहायता की राशि लाभार्थी के दिए गए बैंक अकाउंट में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) द्वारा आ जाएगी।

झारखण्ड सरकार सामाजिक कल्याण के लिए बनाई गई योजना को प्रोमोट करने के लिए प्रदेश में जगह-जगह कैंप लगा रही है. अक्टूबर 2018 में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना एवं मुख्यमंत्री लक्ष्मी लाड़ली योजना की जानकारी आम जनता तक पहुँचाने के लिए सरकार ने जिला समाज कल्याण विभाग को कैंप लगाने के आदेश दिए थे. विभाग ने कल्याणकारी योजना की जानकारी सभी को दी, साथ ही लोगों से अपील की कि वो इन योजनाओं का लाभ पूरा-पूरा लें और बाकि लोगों को भी इसके बारे में जानकारी दें. विभाग ने शिविर में लाभार्थियों के फॉर्म जमा किया और उन्हें सभी जानकारी दी.

अन्य पढ़े:

  1. झारखंड फ्री स्मार्ट फोन के लिए पंजीकरण कैसे करवाये? 
  2. एमएसएमई बिजनेस लोन 59 मिनिट में प्राप्त करें 
  3. खेलो इंडिया राष्ट्रीय योजना 
  4. छतीसगढ़ मुख्यमंत्री कन्यादान योजना फॉर्म

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *