दिल्ली आंगनबाड़ी वर्कर्स के लिए मुख्यमंत्री स्मार्टफोन वितरण योजना 2019

दिल्ली स्मार्टफोन वितरण योजना आंगनबाड़ी कार्यकर्ता (Smartphone Distribution Scheme to Anganwadi workers and Early Childhood Care Curriculum in Delhi in hindi) [मोबाइल एप्प, योग्यता, आवेदन फॉर्म]

 किसी भी सरकार के लिए स्वास्थ्य की देखभाल करना उनका सबसे पहला कर्त्तव्य होता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने कुछ योजनाओं को शुरू करने का विचार किया है। दिल्ली सरकार की इस पहल से दिल्ली को और अत्यधिक आधुनिक बनाने के साथ साथ बच्चों को विकसित करने की योजना बनाई गई है। दिल्ली सरकार ने अपनी इस योजना के तहत दिल्ली के आंगनवाड़ी में काम करने वाले कार्यकर्ताओं को स्मार्ट-फोन देने का वादा किया है। इसके अलावा उन्होंने छोटे बच्चों के विकास के लिए भी 1 नई पहल की है। इस प्रकार दिल्ली सरकार ने 2 नई बडी योजनाओं को जनता के बीच लाकर चुनावी माहौल गर्म कर दिया है। आइये जानते है इन योजनाओं को विस्तार से….

Smartphone Distribution Scheme and Early Childhood Care Curriculum delhi

मोबाइल वितरण योजना की मुख्य विशेषताएं (Key features of the mobile distribution scheme Delhi)

 1- रिकार्ड रखने की प्रक्रिया का विकास करना:- आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा हजारों बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को सहायता प्रदान की जाती है। इतने सारे लोगों का लिखित रूप में ध्यान रखना बहुत ज़्यादा उनके लिए थकाऊ और समय लेने वाला काम है। इसीलिए दिल्ली सरकार की इस योजना के तहत उन्हें स्मार्ट फोन प्रदान किए जाएंगे ताकि वह लिखित रिकार्ड न रखने की बजाय डिजिटल रिकार्ड रखने में सक्षम हो सकें।

2- रीयल टाइम मॉनिटरिंग:- स्मार्ट फोन वास्तविक समय से डेटा रिकॉर्ड करने और भेजने के लिए बहुत आसान ज़रिया है। इसके उपयोग से आसानी से किसी भी आंकड़े को कम समय मे आगे भेजा जा सकता है।

3- स्मार्ट-फ़ोन की संख्या:- दिल्ली स्वास्थ्य प्राधिकरण द्वारा यह घोषणा की गई है कि स्मार्ट-फोन वितरण परियोजना के तहत लगभग 10000 आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को नए स्मार्ट फोन प्रदान किए जाएंगे।

4- डिजिटल एंट्री सिस्टम:- इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि एक स्मार्ट-फोन के साथ एक ऐसी एप्लीकेशन शुरू की जाएगी जो प्रौद्योगिकी के मार्ग को और अधिक प्रशस्त बनाएगी। साथ ही डेटा संग्रह और प्रबंधन के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की मदद के लिए एक अलग डिजिटल रिकार्ड रखने में सक्षम होगी।

5- उचित सेवा वितरण:- इस योजना के तहत कार्यकर्ताओं को मिलने वाले स्मार्ट फ़ोन के ज़रिये वे आसानी से सेवा वितरण की रिपोर्ट रखने में सक्षम रहेंगे। साथ ही उस पूरी रिपोर्ट को कम समय में पर्यवेक्षक भेजने में सक्षम होंगे।

6- बच्चो की तस्वीर लेना:- स्मार्ट-फोन की सहायता से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उन सभी बच्चों की और स्तनपान कराने वाली महिलाओं की फोटो खींच पाएंगे। इससे लिखित रिपोर्ट के साथ साथ कार्यकर्ताओं को पंजीकरण कराने वाली महिलाओं और बच्चों की 1 डिजिटल कॉपी रखने में भी मदद मिलेगी और वे आसानी से इस रिपोर्ट को पर्यवेक्षकों को भेजने में सक्षम होंगे।

दिल्ली अर्ली चाइल्डहुड केयर कोर्स – बेनिफिट (Key features of Childhood Care Curriculum)

1- बच्चों का बेहतर मानसिक और शारीरिक विकास:- इस योजना के तहत दिल्ली सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि सभी बच्चों का उचित मानसिक और शारीरिक विकास किया जाए।

2- पर्याप्त पोषण प्रदान करना:- इस योजना के तहत इसका प्राथमिक उद्देश्य यही रहेगा कि बच्चों को अधिक पोषण प्रदान किया जाए। बच्चों पर तनाव कम डाला जाय और उन बच्चों पर अधिक ध्यान दिया जाए जो गरीब परिवारों से आते हैं। ऐसे गरीब परिवार वाले बच्चों को अधिक पोषण वाला आहार और एक संतुलित आहार देने की ज़िम्मेदारी इस योजना के तहत दिल्ली सरकार द्वारा ली गई है।

3- संज्ञानात्मक और भावनात्मक संतुलन सुनिश्चित करना:- चिकित्सा कार्यकर्ताओं द्वारा बच्चों की प्रगति पर निगरानी रखी जाएगी और यह देखा जाएगा कि वे भावनात्मक प्रगति और संज्ञानात्मक क्षमताओं के बीच समान है या नहीं।

4- रचनात्मक विकास को प्रोत्साहित करना:- बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास में वृद्धि योजना की केवल 2 विशेषताएँ नहीं है। बल्कि चिकित्सा कर्मचारियों द्वारा यह भी ध्यान रखा जाएगा कि इस योजना के तहत पंजीकृत बच्चों को उनकी रचनात्मकता को विकास करने के लिए प्रोत्साहन मिल रहा है या नहीं।

5- बच्चों की आयु:- इस योजना के तहत यह निर्णय लिया गया है कि जो बच्चे 6 महीने से लेकर 7 साल की आयु वर्ग में आते हैं उन्हें विशेष देखभाल प्रदान की जाएगी। लगभग 1.13 लाख बच्चे पहले से ही इस योजना का लाभ उठा रहे है।

6- स्तनपान कराने वाली माताओं पर ध्यान देना:- इस योजना के अंतर्गत यह सुनिश्चित करने के लिए विशेष ध्यान दिया जाएगा कि स्तनपान कराने वाली महिलाओं को पर्याप्त पोषण मिले ताकि वह अपने बच्चों को अधिक स्वस्थ बना सके।

 योजना की पात्रता (Eligibility Criteria)

 1- पंजीकृत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता:- केवल उन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन प्राप्त होगा जो आधिकारिक तौर पर आंगनवाड़ी से जुड़े हुए हैं। इस बात को सुनिश्चित करने के लिए उनके पास पहले से आंगनवाड़ी पंजीकरण के कागज़ात होने आवश्यक है अन्यथा उन्हें स्मार्ट फोन नहीं दिया जाएगा।

2- पंजीकृत बच्चे और स्तनपान कराने वाली महिलाएं:- यदि महिलायें और बच्चे इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो उनके लिए यह आवश्यक है कि उनकी निकटतम आंगनवाडी में उनका पंजीकरण दर्ज होना अनिवार्य है।

3- दिल्ली के निवासी:- इस योजना के तहत इस योजना का लाभार्थी वही व्यक्ति बन सकता है। जो अपने आवश्यक दस्तावेज़ों के साथ प्रस्तुत हो और यह साबित करे कि वह दिल्ली का मूल निवासी है।

4- आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग:- इस योजना का लाभ आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग वाले परिवारों की महिलाएं व बच्चे ही उठा पाएंगे।

 आवेदन की प्रक्रिया (Application Form Process)

दिल्ली सरकार द्वारा यह निर्धारित किया गया है कि इस योजना के तहत आपको आवेदन भरने की कोई आवश्यकता नहीं है। क्योंकि जो महिलाएं आंगनबाड़ी में पंजीकृत होगी उनको यह लाभ आसानी से प्राप्त होगा, और दूसरी योजना के तहत जो महिलाएं या जो कार्यकर्ता सरकार की दिल्ली आंगनवाडिय़ों में काम करते हैं उनको इस योजना के तहत स्मार्ट फोन प्रदान किये जायेंगे।

 विशेष ऐप लॉन्च (Mobile app)

उपयुक्त सभी परियोजनाओं की घोषणा के अलावा दिल्ली सरकार ने 2 अलग अलग स्मार्ट-फोन एप्लीकेशन भी लांच किए हैं। इस परियोजना को और बेहतर बनाने के लिए और इस परियोजना के अंतर्गत अधिक निगरानी और कार्य को सही से करने में सहायता के लिए Aww app और Lady supervisor app लॉन्च की गई है। आइए जानते है विस्तार से….

AWW App:- इस एप के जरिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ता आसानी से रिकॉर्ड रखने में सक्षम हो पाएंगे। इसके अंतर्गत हर घर की महिलाओं व बच्चों का पूरा ब्यौरा आधार कार्ड सहित रखने में आसानी होगी। इसमें कम समय में डाटा इकट्ठा करना व निगरानी रखने में कार्यकर्ताओं को सहायता प्राप्त होगी। इसमें उन महिलाओं व बच्चों का भी नाम दर्ज किया जा सकता है जिन्हें इस योजना के तहत लाभ प्रदान किये जा रहे हैं। इस एप्लीकेशन के जरिए कार्यकर्ता आसानी से उन बच्चों व महिलाओं की फोटो खींच सकती है और सभी प्रकार के रिकॉर्ड रखने में सक्षम होंगे। साथ ही उन्हें सभी तरह के दस्तावेज़ इकट्ठा करके आगे पर्यवेक्षक को भेजने में सहायता प्राप्त होगी।

Lady Supervisor App (लेडी सुपरवाइजर ऐप्प) :- लेडी सुपरवाइजर आंगनवाड़ी केंद्रों में बैठे पर्यवेक्षक के लिए बनाई गई है। इस ऐप के जरिए भी आसानी से पंजीकृत बच्चों के डाटा और प्रगति पर निगरानी रख पाएंगे। इसके साथ ही वे वास्तविक समय के आधार पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ जुड़ने में सक्षम हो पाएंगे। इसके अलावा वे सभी आंगनवाड़ी का डाटा एकत्रित करने के बाद जो आंगनवाड़ी पीछे चल रही है उनकी पहचान कर के उनकी सहायता कर पाने में सक्षम होंगे।

यदि इस योजना के तहत आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन प्रदान किए जाते हैं तो यह उनके लिए बहुत सहायक भरा काम होगा क्योंकि वे इसके जरिये आसानी से महिलाओं व बच्चों का 1 डिजिटल रिकार्ड अपने पास रख पाएंगे। दूसरी योजना की बात की जाए तो उस योजना के सहयोग से बच्चों और महिलाओं के विकास को 1 नया रास्ता मिलेगा। उनको 1 नया सहयोग मिलेगा जिसकी वजह से वे अपने बच्चों को और खुद को पोषण भरा आहार दे सकेगी। साथ ही इस योजना की वजह से उन आर्थिक रूप से पिछड़े हुए बच्चों व महिलाओं को मानसिक व शारीरिक रूप से सरकार का पूरा सहयोग प्राप्त होगा। सरकार की यह पहल दिल्ली के आने वाले भविष्य को और अधिक सुदृढ़ व मज़बूत बनाने में सक्षम होगी क्यूंकि जब कोई शिशु मानसिक व शारीरिक रूप से स्वस्थ होगा तो यह बात लाज़मी है कि वह आने वाले भविष्य को सुदृढ़ बनाने में अपना पूरा योगदान दे पाएगा।

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *