मेधावी छात्र पुरस्कार योजना उत्तरप्रदेश 2019-20

मेधावी छात्र पुरस्कार योजना उत्तरप्रदेश 2019-20 (आवेदन फॉर्म, प्रोत्साहन राशि) (Medhavi Chatra Puraskar Yojana Uttar Pradesh in Hindi), [Offilne Application Form, Reward Amount, Eligibility Criteria, Required Documents]

देश में बहुत से ऐसे गरीब लोग होते हैं जिसका पेशा मजदूरी या श्रमिक का होता हैं जिसमे उन्हें बहुत अधिक मेहनत करनी पडती हैं, किन्तु इसके बदले में उन्हें मुआवजा इतना कम मिलता हैं कि वे अपने घर का पालन पोषण भी ठीक से नहीं कर पाते हैं. ऐसे में उनके बच्चों को बेहतर शिक्षा भी नहीं मिल पाती है. और वे प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त कर पढ़ाई छोड़ देते हैं और मजदूर बन जाते है. उत्तरप्रदेश सरकार ने अपने राज्य के इन श्रमिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में सहायता देने के लिए एक योजना शुरु की हैं. जिससे उन छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित भी किया जा सके. आइये इस योजना के सम्बन्ध में आपको नीचे विस्तार से जानकारी देते हैं.

 Medhavi Chhatra Puraskar Yojana scholarship

क्र. म. योजना की जानकारी बिंदु योजना की जानकारी
1. योजना का नाम उत्तरप्रदेश मेधावी छात्र पुरस्कार योजना
2. योजना का लांच फरवरी सन 2009 में
3. योजना की शुरुआत यूपी के श्रम विभाग द्वारा
4. योजना में स्पोंसर्ड केंद्र एवं राज्य सरकार
5. योजना के लाभार्थी श्रमिकों के बच्चे

  

उत्तरप्रदेश मेधावी छात्र पुरस्कार योजना की विशेषताएं (Uttar Pradesh Medhavi Chhatra Puraskar Yojana Features)

  • श्रमिकों के बच्चों को सहायता :- इस योजना में वे छात्र जिनके माता – पिता उत्तरप्रदेश राज्य के श्रमिक विभाग में रजिस्टर्ड हैं. उन्हें सहायता प्रदान की जा रही है.
  • मेधावी छात्रों को प्रोत्साहन :- वे छात्र जो पढ़ाई में अच्छे हैं किन्तु आर्थिक स्थिति बेहतर न होने के कारण वे अपनी पढ़ाई आगे नहीं बढ़ा पा रहे हैं. उन्हें इस योजना के माध्यम से प्रोत्साहित किया गया है.
  • शिक्षा की ओर जागरूकता :- इस योजना के अंतर्गत श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा प्रदान की जा रही हैं, इससे लोग शिक्षा के महत्व को समझते हुए इसके प्रति जागरूक भी हो रहे हैं.
  • वित्तीय सहायता :- इस योजना में छात्रों को प्रोत्साहन के रूप में कुछ वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जा रही है. जिसका उपयोग वे लोग केवल अपनी शिक्षा के लिए कर रहे हैं.

उत्तरप्रदेश मेधावी छात्र पुरस्कार योजना में दी जाने वाली छात्रवृत्ति (UP Medhavi Chhatra Puraskar Yojana Scholarship Amount)

इस योजना में 5 वीं से ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई करने वाले छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है. किस कक्षा के छात्रों को कितनी छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है एवं उनका कितने प्रतिशत अंक प्राप्त करना आवश्यक हैं इसकी जानकारी निम्नानुसार है –

क्र.म. कक्षा प्राप्त अंक (प्रतिशत में) लड़के को मिलने वाली छात्रवृत्ति लड़की को मिलने वाली छात्रवृत्ति
1. 5 वीं से 7 वीं 70 % अंक 4000 रूपये 4500 रूपये
2. 8 वीं 70 % अंक 5000 रूपये 5500 रूपये
3. 9 वीं एवं 10 वीं 60 % अंक 5000 रूपये 5500 रूपये
4. 11 वीं एवं 12 वीं 60 % अंक 8000 रूपये 10,000 रूपये
5. बीए, बीकॉम, बीएससी, मेडिकल, इंजीनियरिंग एवं पॉलिटेक्निक डिप्लोमा 60 % अंक 10,000 से 22,000 रूपये तक 10,000 से 22,000 रूपये तक

         

उत्तरप्रदेश मेधावी छात्र पुरस्कार योजना में पात्रता मापदंड (UP Medhavi Chhatra Puraskar Yojana Eligibility Criteria)

  • उत्तरप्रदेश के निवासी :- इस योजना में उत्तरप्रदेश के रहने वाले श्रमिकों के बच्चों को लाभ प्राप्त करने के लिए योग्य माना गया है. इसके अलावा इसमें और कोई भी छात्र शामिल नहीं है.
  • सरकार की अन्य योजना के लाभार्थी :- वे छात्र जो केंद्र या राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही किसी अन्य योजना का लाभ ले रहे हैं, वे इस योजना के लाभार्थीं नहीं हैं.
  • श्रमिक परिवार के बच्चे :- इस योजना में वे श्रमिक जो मजदूरी के काम या कंस्ट्रक्शन के काम आदि से जुड़े हैं, उनके बच्चों को सहायता राशि प्रदान की जा रही है.

उत्तरप्रदेश मेधावी छात्र पुरस्कार योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज (UP h Medhavi Chhatra Puraskar Yojana Required Documents)

  • आवासीय प्रमाण पत्र :- उत्तरप्रदेश के रहने वाले छात्रों को इस योजना में आवेदन करते समय अपना आवासीय प्रमाण देना होगा, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वे उत्तरप्रदेश के ही निवासी हैं.
  • श्रमिक कार्ड :- चूकि इस योजना में श्रमिक विभाग में रजिस्टर्ड श्रमिकों के बच्चों को लाभ प्रदान किया जाना हैं इसलिए आवेदकों के पास आवेदन करने समय उनका श्रमिक कार्ड होना आवश्यक हैं.
  • अंकसूची :- इस योजना में अलग – अलग कक्षाओं के बच्चों को अलग – अलग छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही हैं, इसलिए छात्रों को आवेदन करते समय उन्होंने जिस कक्षा को हालही में पास किया हैं उसकी अंकसूची की फोटोकॉपी को जमा करना जरुरी है.
  • फोटो :– आवेदकों को आवेदन फॉर्म में अपनी एक तस्वीर लगानी भी आवश्यक हैं जोकि उनके स्कूल या कॉलेज या यूनिवर्सिटी के प्रधानाचार्य द्वारा अटेस्टेड की हुई हो.
  • एफिडेविट :– इस योजना का आवेदन करते समय यह देखना आवश्यक है कि छात्र सरकार द्वारा दी जा रही किसी अन्य योजना का लाभ प्राप्त न कर रहा हो, इसलिए उन्हें इसके लिए एक एफिडेविट जमा करना जरूरी है.
  • फीस पूरी जमा होने की रसीद :– इस योजना का आवेदन करने के दौरान आवेदकों की उनकी स्कूल या कॉलेज में पूरी फीस जमा हो गई है, यह दिखाने के लिए उन्हें इसकी रसीद दिखानी भी आवश्यक है.

उत्तरप्रदेश मेधावी छात्र पुरस्कार योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया (Uttar Pradesh Medhavi Chhatra Puraskar Yojana Application Process)

  • सबसे पहले तो आपको इस योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना हैं जोकि आपको आपके पास के जिला श्रम विभाग के कार्यालय या तहसील के तहसीलदार कर्यालय या ब्लॉक के ब्लॉक कार्यालय से प्राप्त हो जायेगा. यह फॉर्म आपको आपके परीक्षा पास कर लेने के 3 महीने के बाद से प्राप्त होना शुरू हो जायेगा. यह फॉर्म आपके प्रधानाचार्य द्वारा अटेस्टेड किया जाना आवश्यक है. आवेदन फॉर्म को भरने की अवधि 1 जुलाई से 30 दिसम्बर निर्धारित की गई. इस योजना में आवेदन ऊपर दी हुई जानकारी के अनुसार किसी कक्षा को पास कर लेने के 1 साल बाद तक किया जा सकता है.
  • एक बार आपको आवेदन फॉर्म प्राप्त हो जायें इसके बाद आप इसे भर कर ऊपर दिए हुए सभी आवश्यक दस्तावेजों को इसमें संलग्न करें और इसे अपने प्रधानाचार्य द्वारा अटेस्टेड करायें. आपको बता दें कि मान्यता प्राप्त विद्यालयों से उत्तीर्ण होने वाले कक्षा 5 वीं से 8 वीं तक के आवेदकों को अपने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से एक स्वीकृति पत्र भी लेना होगा. और इसे भी फॉर्म के साथ अटैच करना होगा.
  • आवेदन फॉर्म भर जाने के बाद इसे उसी कार्यालय में जमा करना होगा जहाँ से यह प्राप्त किया गया था.
  • आवेदन फॉर्म जमा हो जाने के बाद सभी संबंधित कार्यालयों में इसकी जाँच की जाएगी. इसके बाद इसे स्वीकार किया गया हैं या अस्वीकार इसकी जनकारी आवेदकों को दे दी जाएगी.
  • यदि उनका आवेदन फॉर्म स्वीकार कर लिया जाता हैं तो उन्हें फिर योजना में दी जाने वाली निर्धारित की हुई सहायता धनराशि उनके माता पिता या उनके खुद के बैंक खाते में जमा कर दी जाएगी. और इस तरह इस योजना का लाभ उन तक पहुँच जायेगा.

इस तरह से इस योजना में आवेदन कर यूपी के गरीब श्रमिक परिवार से संबंध रखने वाले बच्चों को सहायता प्राप्त हो जाएगी. और वे अपनी उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *