X

रोजगार मेला उत्तर प्रदेश ऑनलाइन पंजीकरण | Rojgar Mela UP in hindi

रोजगार मेला उत्तर प्रदेश [रजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन पंजीकरण, सेवायोजन कार्यालय] 2018-19 (Rojgar Mela UP in hindi) [Rojgar Card, List, Sevayojan Renewal, Online registration Form Job Fair in UP] @sewayojan.up.nic.in

किसी भी देश को आर्थिक मजबूती रोजगार देता है. आज हमारे देश में शिक्षा का स्तर तो सुधरा लेकिन बेरोजगारी की समस्या गहराती जा रही है. आज भी बहुत से पढ़े लिखे नौजवान घर में बैठे है. उत्तर प्रदेश सरकार इसी के चलते अपने प्रदेश में रोजगार मेला लगाती है. बड़े-बड़े शहरों में तो जॉब फेयर लगते रहते है, जहाँ बड़ी बड़ी कंपनियां आकर कई लोगों को नौकरी दे देती है, लेकिन छोटे शहर में रहने वालों के लिए अच्छी नौकरी आज भी बड़ी परेशानी है. सरकार द्वारा चलाई गई रोजगार मेला की मुहीम काफी हद तक इस समस्या को दूर करेगी। रोजगार मेला पंजीकरण, रोजगार कार्ड, रिन्यूअल, उत्तर प्रदेश में कहाँ होने वाला है रोजगार मेला की ये सभी जानकारी इस आर्टिकल में विस्तार से मिलेगी। उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता योजना के द्वारा युवाओं को भत्ता दिया जाता है.

उत्तर प्रदेश रोजगार मेला से जुड़ी जानकारी (UP Employment Exchange)

  • उत्तर प्रदेश में सेवायोजन कार्यालय प्रदेश में रोजगार से जुड़ी सारी गतिविधियों को देखता है.
  • रोजगार मेला में स्नातक (बीकॉम,बीएससी, बीए) एवं पोस्ट ग्रेजुएशन (एमकॉम, एमबीए,एमए, एमएससी) आदि सभी लोग पात्र है, इन सभी के लिए मेला में नौकरी के लिए रास्ते है.
  • यूपी रोजगार विभाग ने अब सभी छोटे बड़े जिलों में रोजगार प्रदान करने के लिए रोजगार मेला का आयोजन अनिवार्य कर दिया है.
  • प्रदेश के हर जिले में हजारों में सीटें खाली है, लेकिन भर्ती न होने की वजह से ये वैसी ही रह जाती है.
  • जिला स्तर पर रोजगार मेला कार्यक्रम, उस जिले के अंदर रहने वाले इच्छुक उम्मीदवार को नौकरी देने में मदद करेगा।
  • रोजगार मेला के लिए पहले उस जगह जाकर ही पंजीकरण होता था, लेकिन अब सरकार ने इसके लिए ऑनलाइन सुविधा शुरू कर दी है, जिससे सभी अपनी सहूलियत से कभी भी आवेदन कर सकते है. ऑनलाइन सुविधा जॉब सीकर एवं नियोजक दोनों के लिए सुविधाजनक है.

आवश्यक दस्तावेज (Required documents)

उम्मीदवार को रोजगार मेला जाते समय कुछ जरुरी दस्तावेज रखना जरुरी है. उम्मीदवार अपने साथ 10वीं, 12वीं की मार्कशीट और आगे जो भी उच्च शिक्षा ग्रहण की है, उसकी ओरिजिनल मार्कशीट और 2 – 2 फोटोकॉपी जरूर रखें। इसके अलावा आधार कार्ड एवं उसकी फोटोकॉपी, और जो भी आपको सर्टिफिकेट्स मिले है , उस सभी को एक फाइल में रखें। सेवायोजन द्वारा जो कन्फर्मेशन मेल आया है, उसका भी प्रिंट आउट निकाल कर ले जाएँ।

उत्तरप्रदेश रोजगार मेला में पंजीकरण कैसे करें (Uttar Pradesh Rojgar Mela, Sevayojan Registration 2018)

  • उम्मीदवार को सबसे पहले रोजगार मेला में पंजीकरण के लिए सेवायोजन कार्यालय उत्तर प्रदेश ऑफिसियल साइट में जाना होगा।
  • यहाँ बाएं हाथ तरफ “जॉब सीकर” ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद एक नया पेज खुल जायेगा।
  • अगर आपने पहले इस पर आईडी बना ली है, तो उस आईडी पासवर्ड के द्वारा लॉगिन करें।
  • अगर पहली बार लॉगिन कर रहे है, तो नीचे दिए ऑप्शन “नए उपयोगकर्ता” पर क्लिक करें। यहाँ एक फॉर्म खुल जायेगा, जहाँ आपको नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी डालनी होगी।
  • यहाँ दो श्रेणी है अगर आप जॉब सर्च कर रहें है तो “जॉब सीकर” सेलेक्ट करें, अगर आप किसी कंपनी से सम्बन्ध रखते है तो “नियोजक” सिलेक्ट करें। इसके बाद यहाँ अपना पासवर्ड बनायें और कैप्चा भरकर सबमिट कर दें.
  • इसके बाद एक नए पेज में आपकी पर्सनल इनफार्मेशन भरें, अपनी शिक्षा से जुडी जानकारी, किस तरह की नौकरी चाहते है. सब कुछ सही सही लिखें।
  • इसके बाद आपकी योग्यता के अनुरूप अगर कोई नौकरी होगी तो आपको मैसेज एवं ईमेल आ जायेगा।

उत्तर प्रदेश पुलिस ने ‘डायल-एफआईआर’ योजना शुरू की है, जिसमें कोई भी ऑनलाइन अपनी शिकायत दर्ज कर सकता है.

रोजगार मेला के द्वारा कैसे नौकरी मिलेगी ?

  • सेवायोजन पोर्टल नियोजक एवं जॉब सीकर दोनों के लिए है. यहाँ नियोजक अपनी आईडी बनाकर लॉगिन कर सकता है. जब भी उसकी कम्पनी में कोई भी रिक्तियां (openings) होगी, वो इसमें अपलोड कर सकता है.
  • उम्मीदवार की प्रोफाइल अगर इस नौकरी से मैच होगी तो उन्हें एक मेल और मैसेज भेजा जायेगा, जो कंप्यूटर जनरेटेड होगा।
  • इस मेल को जो पहले रिस्पॉन्स देगा और सेवायोजन की साइट पर जाकर इसके लिए आवेदन करता है, उसका नाम लिस्ट में आ सकता है.
  • नियोजक इन रिक्तियों की संख्या अपने अनुसार निर्धारित कर सकता है. नियोजक द्वारा निर्धारित संख्या तक आवेदन आ जाने के बाद, आगे इसमें कोई भी आवेदन नहीं कर सकता।
  • नियोजक इन उम्मीदवारों में से योग्य को शार्ट लिस्ट करेगा, फिर इसे सेवायोजन साइट पर अपलोड करेगा। यहाँ उम्मीदवार को रोजगार मेला में आने का समय, जगह भी बताई जाएगी।
  • इसके अलावा सेवायोजन पोर्टल के द्वारा चयनित लोगों को एक मेल भी भेजा जायेगा और मेला में एंट्री के लिए रजिस्ट्रेशन नंबर भी दिया जायेगा।
  • रोजगार मेला में कम्पनी उम्मीदवारों का अपने अनुसार टेस्ट लेती है. रोजगार मेला में जॉब सीकर सैलरी की भी बात कर सकता है. लेकिन चयनित लोगों का नाम रोजगार मेला में नहीं बताया जाता है.
  • पूरी चयन प्रक्रिया के बाद नियोजक चयनित लिस्ट को सेवायोजन अधिकारी को देगा, वो रोजगार मेला की फाइनल लिस्ट को पोर्टल पर डालेगा।

इस तरह से उत्तरप्रदेश में रोजगार मेला में रजिस्ट्रेशन बहुत आसान कर दिया गया है, आने वाले समय में प्रदेश में बेरोजगारों की संख्या कम होती दिखाई देगी।

उत्तर प्रदेश रोजगार मेला सूची (UP Rojgar Mela Upcoming List) 2018-19

रोजगार मेला का स्थानदिनांक (2018)
राजकीय आई0टी0आई0 परिसर बेनीगंज फैजाबाद30 नवंबर
राजकीय आई०टी०आई० पुरूष‚चौकाघाट‚वाराणसी।30 नवंबर
रोजगार कार्यालय रायबरेली30 नवंबर
क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय प्रयागराज30 नवंबर
सरकारी आईटीआई कैंपस सम्बल30 नवंबर
जिला सेवायोजन कार्यालय गौतमबुद्धनगर30 नवंबर
जिला सेवायोजन कार्यालय जिला उन्नाव30 नवंबर
पंडित दीनदयाल उपाध्याय इण्टर कालेज दातागंज बदायॅूं30 नवंबर
क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय सिविल लाइन गोण्डा30 नवंबर
व्यावसायिक भवन बाॅदा30 नवंबर
इंजीनियरिंग कॉलेज बरेली30 नवंबर से 1 दिसम्बर
सरकारी आईटीआई कैंपस अलीगढ30 नवंबर
क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय‚ दिल्ली रोड‚ सहारनपुर7 दिसम्बर
राजकीय औद्दोगिक प्रशिछ्ड़ संस्थान, फत्तुपुर6 दिसम्बर
जिला सरकारी कार्यालय एटा6 दिसम्बर
जिला सेवायोजन कार्यालय बहराइच6 दिसम्बर
जिला सेवायोजन कार्यालय,हरदोई6 दिसम्बर
जिला सरकारी कार्यालय आगरा5 दिसम्बर
जिला सरकारी कार्यालय फिरोजाबाद4 दिसम्बर
जिला सरकारी कार्यालय हाथरस3 दिसम्बर

ऊपर दी गई लिस्ट में आने वाले समय में उत्तर प्रदेश में होने वाले रोजगार मेला की दिनांक एवं जगह बताई गई है. बेरोजगार लोग जल्द जल्द से अपना रजिस्ट्रेशन कराएं और इस सुविधा का लाभ लें.

रोजगार मेला क्या है (What is Job Fair)

यह नौकरी चाहने वालों के लिए एक आयोजन होता है. जहाँ  छोटी बड़ी सभी तरह की सरकारी एवं प्राइवेट कंपनियां एक जगह इक्कट्ठी होती है. ये कंपनियां अपने मापदंड के साथ उमीदवार का चुनाव के लिए आती है. उम्मीदवार भी अपनी इच्छा अनुसार नौकरी,कम्पनी चुनकर उसके लिए आवेदन दे सकता है. इस  तरह के जॉब फेयर के कई लाभ है.

नियोजक के लिए सुविधा –

  • कंपनियों को अपनी जगह में चयन प्रक्रिया नहीं रखनी पड़ती, इससे उनके समय और खर्च की बचत होती है.
  • साथ ही एक ही जगह उनके पास कई तरह के उम्मीदवार आते जिससे वे अपनी शर्तों के अनुसार उन्हें चुन सकते है.
  • नियोजक (कंपनी) ऑनलाइन अपने आप को पोर्टल पर रजिस्टर्ड कर सकते है.पोर्टल में कभी भी नौकरी डाली व् हटाई जा सकती है.

जॉब सीकर को होने वाली सुविधा –

  • उम्मीदवार को हर कंपनी में नौकरी के चयन के लिए अलग अलग नहीं जाना होता, एक ही जगह में उनकी पसंद-नापसंद सभी तरह की नौकरी होती है. इससे उनके समय और पैसों की बचत होती है.
  • ऑनलाइन पोर्टल होने से उम्मीदवार को पंजीकरण के लिए यहाँ वहां नहीं जाना होगा, एक ही पोर्टल में वो आवेदन करके अपना नाम दर्ज कर सकते है.
  • प्राइवेट व् सरकारी नौकरी के लिए पृथक पोर्टल नहीं है, एक ही जगह आपको सभी तरह की नौकरी देखने मिल जाएगी।
  • रोजगार मेला एवं नयी नौकरी की जानकारी सभी उम्मीदवारों के ईमेल आईडी पर पहुँच जाएगी।
  • पोर्टल में नौकरी आसानी से तलाश कर सकते है, उसे विभाग, आय, जगह के हिसाब से भी सर्च किया जा सकता है.

रोजगार कार्यालय में ऑनलाइन पंजीकरण किया जा सकता है. सभी प्रदेश के ऑनलाइन पोर्टल है, जहाँ जॉब सीकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है.

अन्य पढ़े :

Categories: State
Tags: Uttar Pradesh
Editor :