नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना 2019 | Nanda Gaura Yojana Uttarakhand In Hindi]

नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना उत्तराखंड 2019 [Nanda Gaura Yojana Uttarakhand In Hindi]

उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश की लड़कियों के लिए एक विशेष योजना लांच की है. इस योजना में गरीब परिवार की लड़की को आर्थिक सहायता दी जाएगी। देश में लिंग भेद समय के साथ बढ़ता ही गया है. आज भी कुछ जगह लड़की पैदा होने पर उन्हें मार दिया जाता है. इन्हीं बातों को ध्यान में  रखकर प्रदेश सरकार अब इस नयी योजना के द्वारा लड़की के जन्म से लेकर उसकी शादी तक के लिए पैसे देगी, जिससे वे अच्छी से अच्छी शिक्षा प्राप्त करें और अपने पैरों में खड़ी हो सकें।

nanda gaura yojana uttarakhand

योजना का नाम  

   

नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना
प्रदेश

 

उत्तराखंड

 

लांच डेट जनवरी 2018

 

घोषणा की गई  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

 

लाभार्थीगर्ल चाइल्ड (लड़कियां)

 

कुल राशि51000

मुख्य बिंदु (Key features)

  • उद्देश्य इस योजना का मुख्य उद्देश्य लिंग अनुपात को ठीक करना है. अभी भी देश प्रदेश में लड़कों की अपेक्षा लड़कियों की संख्या कम होती है
  • इसके अलावा लड़कियों के शोषण को कम करना भी इस योजना का उद्देश्य है. देश में बहुत कुप्रथा चलती है, जिसके चलते लड़कियों की कम उम्र में शादी कर देते, उन्हें पढ़ने नहीं दिया जाता है. ये सब परिवार की आर्थिक तंगी के कारण भी होता है. इस योजना के चलते लड़की के परिवार को आर्थिक सहायता दी जाएगी जिससे वो लड़की उनके लिए बोझ नहीं रहेगी।
  • लाभ इस योजना के अंतर्गत लड़की के परिवार को आर्थिक सहायता के रूप में 51000 रूपए दिए जायेंगें, जो 7 किश्त में जन्म से लेकर शादी होने तक दिए जायेंगें

Installments details

जन्म के समय5000/-
जन्म के 1 साल बाद

 

5000/-
8वीं पास करने के बाद

 

5000/-
10 वीं पास करने के बाद

 

5000/-
12 वीं पास करने के बाद

 

5000/-
स्नातक या डिप्लोमा के बाद

 

10000/-
शादी के पहले16000/-

पात्रता (Eligibility Criteria)

  • मूल निवासी इस योजना के लिए वही पात्र होगा जिसके पास उत्तराखंड का मूल निवासी पत्र होगा। दूसरे प्रदेश के लोग इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगें।
  • आय लाभार्थी के परिवार की वार्षिक आय, अगर वो शहरी है तो 42000 रूपए से ज्यादा नहीं होनी चाहिए, एवं अगर वो ग्रामीण इलाके में आते है तो 36000 रूपए से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।
  • बच्चे का जन्म या तो किसी सरकारी अस्पताल में या ANM सेंटर्स या चाइल्ड केयर सेंटर्स में ही हुआ हो. अगर बच्ची का जन्म इसके अलावा कहीं और होता है तो वो इस योजना के लिए पात्र नहीं है.
  • गर्भवती महिला को बच्चे को जन्म देने से पहले अपना नाम आंगनवाड़ी में दर्ज करवाना अनिवार्य है.

जरुरी दस्तावेज (Required documents)

योजना में आवेदन के लिए कुछ दस्तावेज की भी आवश्यकता होगी। आवेदक को अपना आधार कार्ड, बीपीएल कार्ड, आय प्रमाण पत्र, मूल निवासी पत्र एवं मेट्रिक परीक्षा की मार्कशीट साथ रखनी होगी। ये सभी दस्तावेज आवेदक को फॉर्म के साथ संलग्न करने होंगें।

एप्लीकेशन फॉर्म प्रोसेस (Application form and how to apply)

नंदा गौरी योजना के अंतर्गत लाभार्थी को आवेदन करने  लिए इसकी ऑफिसियल साइट में जाना होगा, http://escholarship.uk.gov.in. यहाँ योजना का आवेदन फॉर्म मिलेगा, जिस पर आप क्लिक करेंगें तो पीडीऍफ़ फाइल खुल जाएगी।

इस फॉर्म को डाउनलोड करें, और इसका प्रिंट निकालकर, इस फॉर्म में अपनी सारी जानकारी सही सही भरें।

इस योजना से प्रदेश में लिंग अनुपात सही होगा, साथ ही भ्रूण हत्या जैसी घटनाएं भी कम होगी। अगर किसी परिवार में दो लड़की है तो वो दोनों लड़कियों को इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त होगा।

Other links

  1. Amma Two Wheeler Scheme in Tamil Nadu in Hindi
  2. Adopt A Block Adopt A Village Programme in Chhattisgarh In Hindi
  3. CM Affordable Housing Scheme Meghalaya In Hindi
  4. Rural BPO Promotion Scheme In Hindi 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *