प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2019 – सम्पूर्ण जानकारी

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2019-20 (PM Kisan Samman Nidhi Yojana in Hindi) [ई मित्र पोर्टल, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म डाउनलोड, लिस्ट, घोषणा पत्र, लाभार्थी सूचि, चेक स्टेटस, हेल्पलाइन, पात्रता, दस्तावेज] FAQ

साल 2019 में, आम चुनाव से पहले प्रधानमंत्री मोदी जी ने किसानों की आय को दोगुना करने का वादा करते हुए चुनाव लड़ा था. प्रधानमंत्री मोदी के प्रधानमंत्री के रूप में दूसरे कार्यकाल की शुरुआत होते ही मोदी जी ने किसान की आय में वृद्धि करने के लिए एक योजना की शुरुआत कर दी, जिसका नाम है ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’. इस योजना से छोटे एवं सीमांत किसानों को बीज एवं फ़र्टिलाइज़र जैसे चीजें खरीदने के लिए वित्तीय सहायता देना का फैसला किया गया है. इस योजना में लाभार्थी किसानों को किस तरह से लाभ प्राप्त होगा एवं वे सूची में अपना नाम कैसे देख सकते हैं यह सभी जनकारी हम आपको यहाँ दे रहे हैं.

pm kisan samman nidhi scheme

लांच की जानकारी (Launched Details)

नाम

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PMKSNY)

घोषणा

फरवरी, 2019

लांच

मई, 2019

शुरुआत

पीयूष गोयल जी द्वारा

कुल लाभार्थी

14.5 करोड़ छोटे एवं सीमांत किसान

बजट

87 हजार करोड़ रूपये

संबंधित विभाग

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग

हेल्पलाइन नंबर

011-23381092, 011-23382012

लास्ट डेट 

31 July

पोर्टल

pmkisan.gov.in

अमाउंट

6000 रूपए 

 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की विशेषताएं (Highlight of the Scheme)

  • किसानों को फायदा :-

इस योजना के माध्यम से किसानों को आर्थिक सहायता दी जा रही है. जिससे वे कृषि संबंधित कार्य करने में सक्षम हो सकेंगे और साथ ही उनका विकास भी हो सकेगा. इस तरह से यह किसानों के साथ – साथ कृषि के लिए भी काफी फायदेमंद योजना है.

  • आर्थिक सहायता :-

इस योजना में जो लाभार्थी किसान होंगे उन्हें हमारे देश की केंद्र सरकार आर्थिक सहायता के रूप में प्रतिवर्ष 6000 रूपये की राशि प्रदान करेगी. हो सकता है आने वाले समय में इस योजना में दी जाने वाली राशि में बढ़ोत्तरी भी की जाये.

  • किसानों का सम्मान :-

ऐसे किसान जो लोन लेने के बाद लोन की राशि को समय पर चुका देते हैं, उन्हें केंद्र सरकार द्वारा सम्मानित किया जायेगा. इसके लिए उन्हें कुछ प्रोत्साहन राशि दिए जाने का प्रावधान रखा गया है.

  • पैसों का वितरण :-

इस योजना में किसानों को जो आर्थिक सहायता के रूप में 6000 रूपये मिलेंगे, वह उन्हें 3 किस्तों में प्राप्त होंगे. और प्रत्येक क़िस्त में उन्हें 2000 रूपये की राशि प्राप्त होगी. जोकि उन्हें हर 4 महीने में प्रदान की जाएगी.

  • कैशलेस सुविधा :-

इस योजना में दी जाने वाली आर्थिक सहायता की राशि लेने के लिए लाभार्थी किसानों को कहीं जाने की जरुरत नहीं है, यह सीधे उनके बैंक खाते जमा कर दी जाएगी. यह सरकार डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर (DBT) सुविधा के माध्यम से करेगी. सरकार इससे लोगों को कैशलेस लेनदेन की ओर प्रेरित भी करेगी.

प्रधानमंत्री किसान योजना के लिए पात्रता मापदंड (PM Kisan Eligibility Criteria)

  • किसानों की पात्रता :-

इस योजना की जब घोषणा की गई थी तब इसमें उन किसानों को लाभ प्रदान किया जाना था जिनके पास 2 हेक्टेयर या उससे कम की जमीन थी, किन्तु अब इसमें यह सीमा हटा दी गई हैं. इस योजना का लाभ अब सभी किसानों को प्राप्त होगा. लेकिन इसके लिए जरूरी हैं किसानों के पास उनकी खुद की जमीन हो, क्योंकि जिनके पास खुद की जमीन नहीं है उन्हें इस योजना में अभी शामिल नहीं किया गया है.

  • पात्र नहीं होने वाले किसान :-

    • ऐसे किसान जोकि भारत के संविधान के अधीन किसी सरकारी पोस्ट में कार्यरत हैं जैसे पूर्व या वर्तमान मंत्री, राज्य मंत्री, राज्य विधान मंडल, मेयर या इसी तरह की अन्य किसी ऊँची पोस्ट वाले किसान हो,
    • या किसी सरकारी नौकरी में कार्य कर रहे हो या पहले किया हो,
    • इसके अलावा जिनकी पेंशन 10 हजार रूपये से ज्यादा हो,
    • या वे टैक्स का भुगतान करने वाले किसान हो
    • या फिर वे किसी पेशेवर पोस्ट जैसे चिकित्सक, इंजीनियर, वकील या अकाउंटेंट हो,

इन सभी किसानों को इस योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं माना गया है.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में आवश्यक दस्तावेज (Required Documents for PM Kisan )

  • जमीन के पेपर :-

इस योजना में यह साबित करने के लिए कि आवेदन करने वाला व्यक्ति एक किसान है, और उनके पास खुद की जमीन हैं, इसके लिए आवेदकों को अपनी जमीन के पेपर दिखाने होंगे. जिसमें उनके खेती के आकार, खेती का उपयोग आदि इस तरह की खेती से संबंधित सभी जानकारी होनी चाहिए. और इसके साथ ही यदि उनकी जमीन एक से ज्यादा लोगों की साझेदारी में हैं तो उन्हें इसका एक सर्टिफिकेट भी बनवा कर देना होगा.

  • पहचान के लिए आधार कार्ड :

इस योजना में किसानों के पास उनके बैंक खाते से लिंक किया हुआ आधार कार्ड होना चाहिए. यह आवेदक की पहचान के लिए बहुत महत्वपूर्ण दस्तावेज हैं. इसलिए आवेदक अपने पास इसे अवश्य रखें. इसके अलावा वे आवेदन के दौरान अपने साथ अपने वोटर आईडी कार्ड की कॉपी भी अपनी पहचान के लिए रख सकते हैं.

  • बैंक खाते की जानकारी :-

इस योजना में किसानों को जो 3 किस्तों में वित्तीय सहायता दी जाने वाली है वह राशि उनके बैंक खाते में जमा की जाएगी. इसके लिए आवश्यक है कि आवेदक अपने बैंक खाते की जानकारी के लिए बैंक की पासबुक की कॉपी भी जमा करें.

  • मोबाइल नंबर :

इस योजना में आपके पास आपके खुद के नाम का रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना आवश्यक है जोकि आपके बैंक खाते एवं आधार कार्ड से लिंक किया हुआ होना चाहिए.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (Kisan Samman Nidhi Registration Form Process)

इस योजना में आवेदन करने के लिए निम्न प्रक्रिया दी हुई हैं, आप इनमें से किसी भी प्रकार से इस योजना में आवेदन कर सकते हैं –

ऑनलाइन माध्यम से रजिस्ट्रेशन :-

  • यदि आप किसान सम्मान निधि योजना का हिस्सा बनने के लिए पात्र किसान है, और इसमें ऑनलाइन आवेदन कर रहे हैं, तो सबसे पहले आपको पीएम किसान सम्मान निधि पोर्टल के माध्यम से खुद को इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए रजिस्टर्ड कराना होगा.
  • इस दौरान आपको ऊपर जो दस्तावेजों के बारे में बताया गया हैं उसकी जरुरत होगी, इसलिए आप उन सभी दस्तावेज की कॉपी अपने साथ में रखना न भूलें.
  • इसके बाद प्रशासन द्वारा आपके सभी दस्तावेज एवं आपके द्वारा दी गई आपकी सभी जानकारी का सत्यापन किया जायेगा. सत्यापन में यदि सब कुछ सही होता है तो प्रशासन द्वारा आपके रजिस्ट्रेशन को अप्रूव कर दिया जायेगा और आप इस योजना का लाभ लेने में सफलतापूर्वक रजिस्टर्ड हो जायेंगे.

ऑफलाइन माध्यम से रजिस्ट्रेशन :-

  • यदि आपके पास ऑनलाइन आवेदन करने का साधन नहीं है और आपको इस योजना में आवेदन करना हैं, तो आपके लिए ऑफलाइन माध्यम से आवेदन करना का भी एक विकल्प है.
  • इसके लिए आप अपने क्षेत्र के अंदर आने वाले सीएससी (CSC) या ग्राम पंचायत में जाएँ, और वहां से आप रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त कर लें. उसे भर कर आप उसी कार्यालय में जमा कर दें.
  • इसके बाद प्रशासन द्वारा सत्यापन होगा और फिर आपके सभी दस्तावेज सही होने पर आपका रजिस्ट्रेशन कन्फर्म हो जायेगा.

कैंप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन (Camp organized for PM-Kisan Registration) 

पीएम किसान योजना के अंतर्गत जिन किसानों का नाम इसमें रजिस्टर्ड नहीं है, उनके रजिस्ट्रेशन के संबंध में जनपद के सभी तहसीलों में 2 दिन के कैंप का आयोजन किया जाने वाला है. ये कैंप अगस्त माह को लगाये जायेंगे. आप इसकी जानकारी अपने निकटतम तहसील कार्यालय से ले सकते है. यदि आप इस योजना में पात्र हैं और आपका नाम इसमें रजिस्टर्ड नहीं है, तो आप अपने सभी दस्तावेजों के साथ अपने तहसील कर्यालय में अवश्य जायें. वहां लगे हुए कैंप के माध्यम से आपका इस योजना में रजिस्ट्रेशन हो जायेगा. 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में सूची में नाम कैसे देखें? (How to Check Name in PM Kisan Samman Nidhi Yojana)

ऑनलाइन माध्यम से (Online Process) :-

  • इस योजना में आपको अपना नाम लाभ प्राप्त करने वाले किसानों की सूची में है या नहीं यह देखना है, तो इसके लिए भी आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट में जायें. और वहां आपको एलजी डायरेक्टरी का विकल्प दिखाई देगा. उस पर क्लिक करें.
  • उसके बाद आप सूची देख सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपको अपने क्षेत्र से संबंधित जानकारी जैसे शहरी या ग्रामीण, इसका चयन करना होगा. और फिर आप “गेट डेटा” वाली बटन पर क्लिक करें.
  • अब आपको अपने राज्य फिर जिले, तहसील, ब्लॉक एवं गांव के नाम का चयन करना है. तब जाकर आपके क्षेत्र के सभी किसानों के नाम की सूची खुल जाएगी. जहाँ से आप अपना नाम चेक कर सकते हैं.

ऑफलाइन माध्यम से (Offline Process) :-

यदि आप इस योजना में ऑफलाइन माध्यम से अपना नाम सूची में देखना चाह रहे हैं, तो इसके लिए आपको अपने क्षेत्र के ग्राम पंचायत या सीएससी सेंटर में जाना होगा. क्योंकि वहां पर प्रशासन द्वारा लाभार्थी किसानों की सूची लगा दी जाएगी. फिर आप वहां जाकर सूची में अपना नाम चेक कर सकते हैं.

नोट :- इस योजना की अधिक जानकारी के लिए आप अपने क्षेत्र के लेखपाल से सम्पर्क कर सकते हैं, या इसकी अधिकारिक वेबसाइट में भी इस योजना की सभी जानकारी दी हुई है. तो आप वहां से भी इसके बारे में सारी चीजें जान सकते हैं.

FAQ’s

Q: यह कैसे पता चलेगा कि हमारा नाम इस योजना के लिए रजिस्टर्ड हो गया है?

Ans: जब आप इस योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर देंगे उसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक एसएमएस आयेगा. जोकि आपका सूची में नाम दर्ज हो गया हैं यह दर्शायेगा.

Q: यदि इस योजना को लागू करने के दौरान लाभार्थी द्वारा कोई गलती होती है या लाभार्थी के लाभ प्राप्त करने के बाद पता चलता है कि उनके द्वारा दी गई जानकारी गलत है तो क्या होगा?

Ans: ऐसे मामले में, लाभार्थी को ट्रांसफर किये गये रूपए की रिकवरी सरकार करेगी, साथ ही और कानून के अनुसार यदि उसे दंडित भी किया जायेगा.

Q: यदि खेती योग्य जमीन के मालिक की मृत्यु हो जाती है और उसकी जमीन का स्वामित्व उनके उत्तराधिकार के पास चला जाता है, तो इस मामले में उन्हें योजना का लाभ मिलेगा या नहीं?

Ans: हां मिलेगा, इस तरह के मामलों में योजना के लाभ की अनुमति दी गई है.

Q: लघु और सीमांत किसान जोकि जमीन के मालिक है उनके परिवार की परिभाषा क्या है?

Ans: इस योजना में एक छोटे और सीमांत किसान के परिवार को पति, पत्नी और नाबालिग बच्चों के परिवार के रूप में परिभाषित किया गया है, जो संबंधित राज्य या संघ राज्य क्षेत्र के भूमि रिकॉर्ड के अंतर्गत आने वाली जमीन का मालिक है. इसके लिए मौजूदा लैंड – ओनरशिप सिस्टम का उपयोग लाभार्थियों की पहचान और भुगतान की गणना के लिए किया जायेगा. इसकी पूरी जिम्मेदारी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश की सरकार की होगी.

Q: यदि लाभार्थियों की सूची में उनका नाम शामिल नहीं है तो पात्र लाभार्थियों को क्या करना होगा?

Ans: ऐसे सभी किसान परिवार जिनका नाम लाभार्थियों की सूची में शामिल नहीं है, वे अपना नाम जिले की लाभार्थी सूची में शामिल करने के लिए जिला स्तरीय शिकायत निवारण मॉनिटरिंग कमिटी से सम्पर्क कर सकते हैं.

Q: यदि किसानों की जमीन किसी गांव में एक से ज्यादा है या अलग – अलग गांव या शहर में उनकी जमीन है, तो क्या उन्हें इस योजना का लाभ प्राप्त होगा.

Ans: हां, अब इस योजना में सभी जमीन धारक किसानों को लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र माना गया है फिर चाहे उनकी खेती योग्य जमीन एक से ज्यादा क्षेत्र में ही क्यों न हो.

Q: यदि किसान के परिवार के विभिन्न सदस्यों के नाम पर जमीन है तो क्या उन्हें लाभ प्राप्त होगा?

Ans: हां, यदि खेती योग्य जमीन परिवार के अलग – अलग सदस्यों के नाम पर हैं तो ऐसे मामले में वित्तीय सहायता ऐसे व्यक्ति को दी जाएगी, जिसके पास सबसे अधिक मात्रा में जमीन हैं. यदि एक परिवार के दो या अधिक सदस्यों के स्वामित्व वाली जमीन की संख्या समान है. तो ऐसी स्थिति में भुगतान की राशि किसान परिवार के सबसे बड़े सदस्य के नाम पर ट्रान्सफर की जायेगी.

Q: शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्र में लाभार्थी किसान की जमीन है तो क्या वे लाभ प्राप्त कर सकते हैं?

Ans: हां अवश्य, यदि किसी किसान की खेती योग्य जमीन शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्र में है तो भी वह इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र है.

Q: यदि कोई किसान या उसकी पत्नी या पति आयकर दाता है तो क्या वह इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र है?

Ans: नहीं, यदि परिवार का कोई भी सदस्य पिछले असेसमेंट वर्ष में आयकर दाता है, तो उस परिवार को इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं माना जायेगा.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *