अटल पेंशन योजना क्या है | Atal Pension Yojana 2019

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana 2019) एक बड़ी पेंशन योजना हैं जो बुजुर्गो के लिए शुरू की गई हैं जिसमें 60 वर्ष के बाद पेंशन मिलेगी। अटल पेंशन योजना की डिटेल्स नियम, आवेदन फॉर्म,टोल फ्री नंबर, अटल पेंशन योजना बन्द कैसे करे? प्रीमियम चार्ट एवं कैल्कुलेटर की जानकारी विस्तार से पढ़े।

अटल पेंशन योजना लॉंच संबंधी महत्वपूर्ण बाते :

योजना का नाम अटल पेंशन योजना [APY]
योजना का लांच जून 2015 में
योजना की शुरुआत भारत सरकार द्वारा
योजना के लाभार्थी असंगठित क्षेत्रों के सभी श्रमिक
योजना के प्रबंधक  पेंशन फण्ड रेगुलेटरी एवं डेवलपमेंट अथॉरिटी (पीएफआरडीए)
अटल पेंशन योजना टोल फ्री नंबर 1800-180-1111

Atal Pension Yojana

अटल पेंशन योजना क्या हैं ? संक्षिप्त में जानकारी प्राप्त करे [Atal Pension Yojana In Hindi]

अटल पेंशन योजना जैसा नाम से ही समझ आ रहा हैं कि यह एक पेंशन स्कीम हैं जिसके अनुसार यह वृद्ध अर्थात 60 वर्ष की अधिक की आयु के लोगो को लाभ देगी । इस योजना के अनुसार व्यक्ति को 1000, 2000, 3000, 4000 एवं 5000 तक की पेंशन प्रतिमाह मिलेगी जिसका चुनाव उन्हे खुद करना होगा। अगर व्यक्ति 1 हजार प्रति माह का चुनाव करता हैं तो उसे उस राशि के अनुसार प्रीमियम भरना होगा जो कि मासिक, त्रेमासिक अर्धवार्षिक, एवं वार्षिक हो सकता हैं। इस योजना के लिए कम से कम 20 वर्षो तक प्रीमियम भरना  होगा एवं इसमे 18 से 40 वर्ष तक का व्यक्ति भाग ले सकता हैं। व्यक्ति को 60 वर्ष की उम्र के बाद पेंशन मिलेगी, अगर उसकी मृत्यु हो जाये तो उसके पति/ पत्नी (डिफ़ॉल्ट नॉमिनी) को पेंशन अथवा कॉर्पस अमाउंट (Corpus Amount) मिलेगा जिसका चुनाव वे खुद कर सकते हैं। डिफ़ॉल्ट नॉमिनी की भी मृत्यु हो जाने पर कॉर्पस अमाउंट नॉमिनी को मिलेगा ।

अटल पेंशन योजना में कौन भाग ले सकता हैं [योग्यता के नियम] [APY Eligibility Criteria]

  • भारत का निवासी:- वे सभी जो भारत के मूल निवासी हैं वे इस योजना में भाग लेने योग्य हैं अर्थात कोई भी व्यक्ति भाग ले सकता हैं, परंतु उम्र को लेकर नियम हैं ।
  • आयु सीमा (Age Limit) :- योजना में वही व्यक्ति भाग ले सकता हैं, जिसकी उम्र 18 से 40 साल हो, योजना के भीतर साढ़े सत्रह वर्ष का व्यक्ति अथवा साढ़े चालीस वर्ष का व्यक्ति शामिल नहीं हो सकता ।
  • बैंक अकाउंट होना अनिवार्य हैं:- चूंकि सम्पूर्ण अटल पेंशन योजना बॅक खाते से संचालित होगी अर्थात खाते से ही प्रीमियम जमा होगा और वहीं पेंशन आएगी इसलिए एक बैंक अकाउंट होना जरूरी हैं ।

अटल पेंशन योजना में आवेदन करने की शर्ते क्या हैं ? [Rules]

  • यह योजना 2015 से 2020 तक बिना रुकावट चलती रहेगी और जिस ग्राहक ने 1 जून 2015 से 31मार्च , 2016 के बीच इस योजना के लिए आवेदन किया हैं वे जितना इस योजना के लिए जमा करेंगे उतना ही सरकार द्वारा जमा किया जायेगा । लेकिन उस ग्राहकों को यह सहयोग नहीं मिलेगा जो कि टैक्स देता हो अथवा किसी अन्य सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ ले रहा हो उन में से कुछ इस प्रकार हैं जिन्हे सरकारी सहयोग नहीं मिलेगा –
  1. जो कर्मचारी भविष्य निधि में शामिल हो,
  2. कोयला खान भविष्य निधि में शामिल हो
  3. असम चाय बागान भविष्य निधि में शामिल हो
  4. नाविक भविष्य निधि में शामिल हो
  5. जम्मू-कश्मीर कर्मचारी भविष्य निधि में शामिल हो
  • इस योजना का फॉर्म भरते समय नॉमिनी भरना अनिवार्य हैं । लेकिन ध्यान रखे पति, पत्नी एक दूसरे को नॉमिनी ना बनाये क्यूंकि वे एक दूसरे के डिफ़ॉल्ट नॉमिनी माने गये हैं जो किसी एक की मृत्यु के बाद योजना का हिस्सा बन सकते हैं ।
  • अटल पेंशन खाता केवल एक ही हो सकता हैं । योजना के दौरान कभी भी पेंशन राशि एवं प्रीमियम मोड को बदला जा सकता हैं ।
  • ग्राहक को फ़िज़िकल स्टेटमेंट वर्ष में एक बार दिया जायेगा और सारी जानकारी एसएमएस द्वारा भी भेजी जायेगी ।
  • यह योजना केवल भारत के नागरिकों के लिए हैं ।

अटल पेंशन योजना के नियम क्या हैं ?

  • पेंशन की राशि क्या होगी ?

 योजना में पेंशन का स्वयं चुनाव किया जा सकता हैं जो कि 1000 से 5000 के बीच होगा । व्यक्ति जितने अमाउंट का चुनाव करता हैं उसे उसी के अनुसार प्रीमियम का भुगतान करना होगा ।

उपभोक्ता जब चाहे तब इस पेंशन राशि में बदलाव कर सकता हैं लेकिन यह बदलाव एक वर्ष में एक ही बार संभव हैं एवं बदली पेंशन राशि के अनुसार प्रीमियम में भी बदलाव होंगे । इस प्रक्रिया में किसी भी तरह का अतिरिक्त शुक्ल नहीं लिया जायेगा।

अन्य लाभ [APY Benefits]

  • ग्राहक जो भी पैसा जमा करता हैं सरकार उसका उपयोग करती हैं अगर उस पैसे पर सरकार को लाभ होता हैं तो लाभ राशि ग्राहक के खाते में जमा की जाएगी, परंतु अगर सरकार को कोई नुकसान पहुंचता हैं तो इसका व्यय सरकार स्वयं करेगी इसका खामियाज़ा ग्राहक को नहीं उठाना पड़ेगा ।
  • इसके साथ ही ग्राहक द्वारा जमा की गई राशि एवं उससे होने वाले मुनाफे पर सरकार वर्तमान दरो के मुताबिक टैक्स में छुट देगी ।

अटल पेंशन योजना फॉर्म [APY Application Form]

अटल पेंशन योजना के फॉर्म बैंक से प्राप्त किया जा सकता हैं लेकिन ऑनलाइन भी इसकी प्रति मौजूद हैं नीचे दी गई लिंक से आप इस योजना का फॉर्म देख सकते हैं और उसमे लगने वाली जानकारी भर सकते हैं http://www.jansuraksha.gov.in/files/apy/ENGLISH/APPLICATIONFORM.pdf#zoom=250

अटल पेंशन खाता कैसे खोले ? [How To Open APY Account ?]

  • सबसे पहले आपको यह निर्णय लेना होगा कि आपको बैंक मे अथवा पोस्ट ऑफिस में अपना अटल पेंशन खाता चाहिये। और इसके बाद अगर आपका इन दोनों ही जगह पर कोई बैंक खाता नहीं हैं तो आपको यह खोलना होगा ।
  • इसके बाद बैंक से अटल पेंशन योजना का फॉर्म लेकर उसे भरना होगा और उसमे आधार कार्ड लगाना होगा यह जरूरी नहीं हैं लेकिन अगर आप आधार कार्ड लगाते हैं तो आपको सारी ऑनलाइन सुविधायें मिलने में आसानी होगी ।
  • पेंशन अकाउंट बनते ही ग्राहक को प्रान नंबर [PRAN No] मिलेगा जो कि पेंशन का रेफरेंस नंबर की तरह काम करेगा इस नंबर के जरिये ही आगामी सारे काम जैसे प्रीमियम भरना, क्लैम फॉर्म, क्लौसर फॉर्म आदि में इसकी जरूरत पड़ेगी  
  • इस पेंशन खाते में आपको पर्याप्त राशि रखनी होगी जिससे आपने जो भी पेंशन मोड तय किया हैं उसके अनुसार प्रीमियम राशि स्वतः ही खाते से कट जाये।

अटल पेंशन योजना के लिये लगने वाले दस्तावेज़ कौन से हैं ? [Documents List]

  1. इस योजना के लिये वे सभी दस्तावेज़ लगेंगे जो कि खाता खोलने के लिये लगते हैं अगर ग्राहक का कोई बैंक खाता नहीं हैं तो ।
  2. योजना के लिये आईडी, फोटो, जन्म प्रमाण पत्र, स्थानीय प्रमाणपत्र आदि जरूरी दस्तावेजों में हैं । इसके अलावा आधार कार्ड बहुत जरूरी हैं वैसे अनिवार्य नहीं हैं लेकिन बहुत सी सुविधाओं के लिये आधार कार्ड से खाते को लिंक करवाना आवश्यक हैं ।

अटल पेंशन प्रीमियम संबंधी नियम क्या हैं ? [APY Premium Rules]

योजना के लिये कम से कम 20 वर्षो तक प्रीमियम भरना अनिवार्य हैं । इससे कम प्रीमियम मान्य नहीं होंगे । अगर व्यक्ति अधिकतम 40 वर्ष की आयु में इस योजना का हिस्सा बनता हैं तो उसे 20 वर्षो तक प्रीमियम भरना होगा । और अगर 18 वर्ष की आयु में हिस्सा लेता हैं तो 42 वर्षो तक प्रीमियम भरना पड़ेगा । और इस तरह प्रीमियम राशि भी 18 एवं 40 वर्ष के व्यक्ति के लिये अलग- अलग होगी। आप इस प्रीमियम राशि को नीचे दिये गए चार्ट से समझ सकते हैं ।

अटल पेंशन प्रीमियम मोड क्या हैं ? [Premium Mode]

इस योजना के तहत प्रीमियम राशि वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक एवं मासिक तौर पर भरी जा सकती हैं । यह राशि सीधे बैंक अकाउंट से भरी जा सकती हैं । इस योजना का प्रीमियम चार्ट केलकुलेट करके बनाया गया हैं जिसके अनुसार आप इस चार मोड में से जिसका भी चुनाव करते हैं उसके लिये आपको कितनी राशि जमा करनी होगी ।

अटल पेंशन योजना केलकुलेटर एवं प्रीमियम चार्ट क्या हैं ? [APY Calculator Premium Chart]

पेंशन राशि 1000 रुपये प्रतिमाह के लिये आपको महीने का, तीन महीने का, छह महीने का एवं साल भर का कितना पैसा प्रीमियम के तौर पर जमा करना होगा यह तालिका में लिखा गया हैं।

उम्र योगदान का समय मासिक त्रेमासिक अर्धवार्षिक वार्षिक
18 42 42 125 248 496
20 40 50 149 295 590
25 35 76 226 449 898
30 30 116 346 685 1370
35 25 181 539 1068 2136
40 20 291 876 1717 3434

 पेंशन राशि 2000 रुपये प्रतिमाह के लिये आपको महीने का, तीन महीने का, छह महीने का एवं साल भर का कितना पैसा प्रीमियम के तौर पर जमा करना होगा यह तालिका में लिखा गया हैं।

उम्र योगदान का समय मासिक त्रेमासिक अर्धवार्षिक वार्षिक
18 42 84 250 496 992
20 40 100 298 590 1180
25 35 151 450 891 1782
30 30 213 688 1363 2726
35 25 362 1079 2163 4326
40 20 582 1734 3435 6870

 पेंशन राशि 3000 रुपये प्रतिमाह के लिये आपको महीने का, तीन महीने का, छह महीने का एवं साल भर का कितना पैसा प्रीमियम के तौर पर जमा करना होगा यह तालिका में लिखा गया हैं।

उम्र योगदान का समय मासिक त्रेमासिक अर्धवार्षिक वार्षिक
18 42 126 376 744 1488
20 40 150 447 885 1770
25 35 226 674 1334 2668
30 30 347 1034 2048 4096
35 25 543 1616 3205 6410
40 20 873 2602 5152 10,304

पेंशन राशि 4000 रुपये प्रतिमाह के लिये आपको महीने का, तीन महीने का, छह महीने का एवं साल भर का कितना पैसा प्रीमियम के तौर पर जमा करना होगा यह तालिका में लिखा गया हैं।

उम्र योगदान का समय मासिक त्रेमासिक अर्धवार्षिक वार्षिक
18 42 168 501 991 1982
20 40 198 590 1169 2388
25 35 301 897 1776 3552
30 30 462 1377 2727 5454
35 25 722 2152 4261 8534
40 20 1164 3469 6869 13,738

 पेंशन राशि 5000 रुपये प्रतिमाह के लिये आपको महीने का, तीन महीने का, छह महीने का एवं साल भर का कितना पैसा प्रीमियम के तौर पर जमा करना होगा यह तालिका में लिखा गया हैं।

उम्र योगदान का समय मासिक त्रेमासिक अर्धवार्षिक वार्षिक
18 42 210 262 1239 2478
20 40 248 739 1464 2928
25 35 376 1121 2219 4438
30 30 577 1720 3405 6810
35 25 902 2688 5323 10,646
40 20 1454 4333 8581 17,162

यह सभी प्रीमियम ग्राहक को निर्धारित समय में अपने द्वारा चुने गये मोड में भरना होगा लेकिन अगर इस प्रक्रिया में लिमिट से ज्यादा देरी होती हैं तब ग्राहक को पेनाल्टी भरनी होगी जो कि निम्नानुसार हैं :

यह पेनाल्टी 1 से 10 रुपये के बीच होगी जिसमें

  • प्रतिमाह 100 रूपये तक की देरी के लिए 1 रूपये,
  • 101 से 500 रूपये तक देरी के लिए 2 रूपये,
  • 501 से 1000 रूपये तक देरी के लिए 5 रूपये
  • 1001 रूपये से अधिक की देरी के लिए 10 रूपये का भुगतान करना हो सकता है. ब्याज / दंड की निश्चित राशि ग्राहक के पेंशन कार्पस से काटी जा सकती हैं ।

खाते में प्रीमियम जमा ना करने की स्थिती में खाता बंद किया जा सकता हैं

  • अगर 6 महीने तक प्रीमियम जमा ना किया गया तो खाता फ्रोज़न हो जायेगा,
  • अगर 12 महीने तक प्रीमियम जमा ना किया गया तो खाता निष्क्रिय हो जायेगा और
  • 24 महीने तक प्रीमियम जमा ना किया गया तो खाता बंद हो जायेगा

अटल पेंशन योजना विड्रावल के नियम क्या हैं ? [ APY Withdrawal Rules]

वैसे तो अटल पेंशन योजना के भीतर व्यक्ति को 60 वर्ष की आयु पार कर देने के बाद प्रति माह पेंशन मिलेगी लेकिन कुछ परिस्थितियों में इस योजना से बाहर भी निकला जा सकता हैं अर्थात उन्हे बंद किया जा सकता हैं ।

  • 60 साल की उम्र पार करने पर – 60 वर्ष के होने पर ग्राहक पेंशन के लिए बैंक में आवेदन दे सकता हैं । इसके साथ ही अगर ग्राहक की मृत्यु हो जाती हैं तो उतनी ही पेंशन डिफ़ॉल्ट नॉमिनी [पति अथवा पत्नी] को मिलती हैं परंतु अगर दोनों की मृत्यु हो जाती हैं तो 60 वर्ष तक जमा की गई राशि के लिए नॉमिनी आवेदन कर सकता हैं ।

ग्राहक की मृत्यु के केस में : इस स्थिती में दो केस सामने आते हैं 60 वर्ष के पहले ग्राहक की मृत्यु और 60 वर्ष के बाद ग्राहक की मृत्यु ।

  • 60 के बाद ग्राहक की मृत्यु होने पर – इस केस में ग्राहक के डिफ़ॉल्ट नॉमिनी [पति अथवा पत्नी] को उसकी मृत्यु तक समान पेंशन मिलेगी जो ग्राहक को मिलती थी लेकिन अगर डिफ़ॉल्ट नॉमिनी जमा की गई राशि लेकर अकाउंट बंद कर देना चाहता हैं तो वो कर सकता हैं । लेकिन अगर डिफ़ॉल्ट नॉमिनी की भी मृत्यु हो जाती हैं तो नॉमिनी पेंशन का हकदार नहीं बनेगा वह अब तक की जमा की गई राशिके लिए क्लैम कर सकता हैं ।

60 के पहले ग्राहक की मृत्यु होने पर : ग्राहक की मृत्यु होने पर पेंशन का अधिकार केवल डिफ़ॉल्ट नॉमिनी के पास हैं लेकिन इस स्थिति में जब ग्राहक 60 वर्ष के पहले मर जाता हैं तो डिफ़ॉल्ट नॉमिनी को पेंशन रखनी हैं या नहीं यह उसका स्वयं का फैसला होता हैं । अगर वो पेंशन चाहता हैं तो उसे बची हुई प्रीमियम राशि जमा करनी होगी और अगर वो पेंशन नहीं चाहता हैं तो वो जमा की गई राशि के लिए क्लैम कर सकता हैं ।

अटल पेंशन योजना बंद करने के नियम [How to end/ close APY Account]

अगर ग्राहक 60 वर्ष के पहले अटल पेंशन योजना से बाहर जाना चाहता हैं तो वह तब कर सकता हैं जब ग्राहक को कोई गंभीर जानलेवा बीमारी हो लेकिन इस स्थिती में उसे सरकार द्वारा मिलने वाला सहयोग नहीं मिलेगा और अपनी जमा राशि निकाल सकता हैं । साथ ही बैंक के रखरखाव का खर्चा भी उस अमाउंट से काटा जायेगा ।

अटल पेंशन विड्रावल फॉर्म  [APY Withdrawal Form]

अकाउंट बनाते समय प्रान नंबर मिलता हैं उसके जरिये ही विड्रावल फॉर्म  भरे जाते हैं । इस फॉर्म को भरकर आप अटल पेंशन विड्रावल की सारी प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं ।

https://npscra.nsdl.co.in/nsdl/forms/Voluntary%20Exit_APY%20Withdrawal%20Form.pdf

अटल पेंशन क्लैम फॉर्म [APY Claim Form]

अगर ग्राहक की मृत्यु 60 वर्ष के पहले हो जाती हैं तो उस केस में यह फॉर्म भरकर आगे की कार्यवाही पूरी की जा सकती हैं ।

https://npscra.nsdl.co.in/download/Circular%20on%20Settlement%20of%20Death%20Cases%20before%2060%20under%20APY.PDF

अकाउंट क्लोसर फॉर्म https://npscra.nsdl.co.in/nsdl/forms/APY%20Death%20Form.PDF

https://www.npscra.nsdl.co.in/download/pdf/APY%20-%20Processing%20of%20Premature%20Exit%20Request%20and%20Forms.pdf

यह सभी अकाउंट क्लोसर से संबंधी फॉर्म एवं नियम हैं जिन्हे ध्यान से पढ़कर ग्राहक अपने हिसाब से निर्णय लेकर खाता बंद अथवा जारी रख सकता हैं । अथवा नॉमिनी कॉर्पस अमाउंट के लिए क्लैम कर सकता हैं ।

कॉर्पस राशि क्या हैं ? [What is Corpus Amount In Atal Pension Yojana]

इस योजना के तहत जब ग्राहक और डिफ़ॉल्ट नॉमिनी की मृत्यु हो जाती हैं तो नॉमिनी को कॉर्पस अमाउंट दिया जाता हैं । या ग्राहक की मृत्यु के बाद डिफ़ॉल्ट नॉमिनी पेंशन नहीं लेना चाहता हैं तब डिफ़ॉल्ट नॉमिनी कॉर्पस अमाउंट लेकर योजना से बाहर निकल सकता हैं । क्या हैं कॉर्पस अमाउंट यह एक सवाल उठता हैं तो इस योजना में कॉर्पस अमाउंट का मतलब हैं – ग्राहक द्वारा जमा राशि + सरकार द्वारा दिया योगदान + ब्याज । यह कॉर्पस अमाउंट भी 1 हजार से 5 हजार के बीच चुनी गई पेंशन राशि के अनुरूप होता हैं जो कि इस प्रकार हैं

क्र. पेंशन अमाउंट कॉर्पस अमाउंट
1 1 हजार 1.7 लाख
2 2 हजार 3.4 लाख
3 3 हजार 5.1 लाख
4 4 हजार 6.8 लाख
5 5 हजार 8.5 लाख

इस तालिका के अनुसार जो ग्राहक 5 हजार की पेंशन राशि का चुनाव करता हैं उसे कम से कम  8.5 लाख कॉर्पस अमाउंट के रूप मे मिलेंगे ।

इस अटल पेंशन योजना के पहले स्वावलंबन योजना देश में कार्य कर रही थी अगर उसके ग्राहक इस योजना का हिस्सा बनना चाहते हैं तो निम्न नियम का पालन करना होगा

स्वावलंबन योजना से अटल पेंशन योजना में कैसे जाये? [Migration from Swavlambn to APY]

  1. जिनकी उम्र 18 से 40 वर्ष वे इस योजना में शामिल हो सकते हैं ।
  2. 40 वर्ष से अधिक के ग्राहक जो इस योजना में शामिल नहीं होना चाहते हैं वे एक मुश्त पैसा लेकर निकाल सकते हैं ।
  3. वे ग्राहक जो 60 वर्ष तक इस योजना में बने रहना चाहते हैं वे प्रीमियम राशि देकर इसमें बने रह सकते हैं ।

अटल पेंशन बैंक लिस्ट [Bank List]

सभी बैंक एवं पोस्टऑफिस दोनों ही जगह अटल पेंशन योजना के फॉर्म भरकर पेंशन खाता खोला जा सकता हैं । और इन बैंक और पोस्ट ऑफिस को प्रति पेंशन योजना ग्राहक पर 120 रुपये इन्सेंटिव भी प्रदान किया जायेगा।

अटल पेंशन योजना टोल फ्री नंबर क्या हैं ?[APY Toll Free Helpline Number]

हमारी साइट द्वारा हमने आपको सभी जानकारी साधारण शब्दो में दी हैं ताकि आपको यह योजना विस्तार से समझ आए लेकिन इसके अलावा अगर आप कोई जानकारी लेना चाहते हैं या कोई शिकायत करना चाहते हैं तो सरकार का टोल फ्री नंबर डायल करके के कर सकते हैं अटल पेंशन योजना का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-180-1111 हैं ।

इस योजना के बिन्दु अगर आपको समझ नहीं आए हैं तो आप कमेंट बॉक्स में पुछ सकते हैं । साथ ही योजना संबंधी जानकारी के लिए इस साइट को सब्सक्राइब करें और जानकारी जल्द से जल्द पढ़े। भारत सरकार की योजनाओं की लिस्ट में इसके अलावा युवाओं के लिए मुद्रा लोन योजना 2019 भी चल रही हैं । इसी की साथ बेघरों को सिर पर अपनी छत देने के केंद्र सरकार ने पीएम आवास योजना 2019 का संचालन भी किया हैं ।

अन्य पढ़े:

  1. स्मार्ट इंडिया हैकथॉन अभियान 2019 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
  2. मुख्यमंत्री सुकन्या योजना झारखंड फॉर्म 2019 
  3. प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना ऑनलाइन फार्म 2019
  4. भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना से कैसे जुड़े? 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *