बैंक सखी योजना – कमायें हजारों रूपए महीने , महिलाएं आवेदन करने के लिए यहाँ देखें

यूपी बैंकिंग कोरेस्पोंडेंट सखी भर्ती 2020 (कार्य, प्रशिक्षण, सैलेरी, ऑनलाइन आवेदन, पंजीयन, योग्यता, वेतन) (UP Bank Correspondent Sakhi (BC) Yojana in hindi, jobs, Salary, Online Form) 

 कोरोना वायरस की इस महामारी के दौरान सभी एक दूसरे की मदद में लगे हुए हैं। ताकि देश में एक दूसरे के सहयोग से आसानी से इस लड़ाई से जीत हासिल की जा सके। इसी प्रकार उत्तर प्रदेश सरकार भी उत्तर प्रदेश राज्य की जनता के सहयोग में आगे आई है और उन्होंने महिलाओं को रोजगार देने का एक अनोखा कदम उठाया है। यूपी सरकार ने यूपी बैंकिंग सखी योजना आरंभ कर दी है। सरकार द्वारा लोगों की आर्थिक सहायता के लिए जो पैसा बांटा जा रहा है उनको प्राप्त करने के लिए बैंकों के बाहर लोगों की भीड़ जमा हो जाती है जिसकी वजह से सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन होता दिखता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए नौकरी के अवसर और वेतन कार्यान्वयन और योजना के अन्य विवरणों की कुल संख्या की जांच करने हेतु यूपी सरकार द्वारा बैंकिंग कोरेस्पोंडेंट सखी योजना आरंभ कर दी गई है।

bank sakhi up yojana bc hindi

बैंकिंग सखी का काम

इस योजना में काम करने वाली सभी बैंकिंग सखी लोगों के घरों तक सरकार द्वारा प्राप्त होने वाली आर्थिक सहायता के रूप में राशि को पहुंचाने का काम करेंगे। इससे लोगों को घर से बाहर नहीं निकलना पड़ेगा और वे तनाव मुक्त होकर घर बैठे ही आर्थिक राशि प्राप्त कर पाएंगे।

योजना का उद्देश्य

इस योजना का उद्देश्य कोरोना संक्रमण को रोकने और लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना है। इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं अब डिजिटल मॉल के माध्यम से लोगों को घर पर बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध करा पाएंगे और पैसों का लेनदेन भी कर सकेंगे।

उत्तर प्रदेश में जॉब गारंटी योजना का लाभ उठाने के लिए यहाँ क्लिक करें

योगी बैंकिंग सखी योजना आवेदन पंजीकरण

22 मई 2020 को योजना को सुचारू रूप से आरंभ करने की घोषणा देने के बाद इसके दिशा-निर्देश भी पूरी तरह लागू नहीं किए गए हैं। इसमें आवेदन किस प्रकार किया जा सकता है और किस प्रकार महिलाएं बैंकिंग सखी बनकर लोगों की मदद कर सकते हैं इस बात की संपूर्ण जानकारी अभी तक सरकार द्वारा लोगों तक नहीं पहुंचाई गई है। जैसे ही इस योजना से जुड़ी जानकारी के बारे में संपूर्ण विवरण प्राप्त होता है तुरंत हम आपको अपडेट कर देंगे।

बैंक सखी महिलाओं को मिलने वाला वेतन और लाभ

इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाली महिलाओं को आत्मनिर्भर होने की प्रेरणा मिलेगी और साथ ही उनके काम के बदले उन्हें एक आमदनी भी प्राप्त होती रहेगी। जिस का संपूर्ण विवरण निम्नलिखित चरणों में दिया गया है:-

  • इस योजना में काम करने वाली प्रत्येक महिला सखी को अगले 6 महीने तक 4000 रुपये प्रति महीने के रूप में आमदनी दी जाएगी।
  • उन महिलाओं को डिजिटल डिवाइस खरीदने के लिए राशि प्रदान की जाएगी। प्रत्येक महिला को डिजिटल डिवाइस खरीदने के लिए 50000 रुपये की राशि सरकार से प्राप्त होगी।
  • साथ ही उनकी मासिक आय उनके पास डिजिटल मोड के माध्यम से पहुंच सके इसकी गारंटी भी सरकार उन्हें जरूर देगी।
  • सरकार के प्रत्येक काम में हाथ बंटाने और सहायता के लिए सरकार प्रत्येक बैंक सखी को लेनदेन पर कमीशन भी देगी।

उत्तर प्रदेश राशन कार्ड सूची में नाम देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

यूपी बैंकिंग सखी योजना में नौकरियों की संख्या

इस योजना के तहत यूपी सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है कि केवल महिलाओं को ही इस योजना में नौकरी दी जाएगी। इस योजना के तहत लगभग 58000 महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति हो सकेगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण महिलाओं द्वारा पूरा किया जाएगा जो घर के दरवाजे तक बैंकिंग सेवाओं को पहुंचाने का है।

योगी महिला रोजगार योजना का क्रियान्वयन

योगी आदित्यनाथ द्वारा इस योजना के अंतर्गत एक निर्धारित राशि जारी कर दी गई है। लगभग 35938 स्वयं सहायता समूहों को 218.49 करोड रुपए की राशि इस योजना में सहायता हेतु प्रदान की जाएगी। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत 22 मई 2020 को आरंभ की गई इस योजना के अंतर्गत गैर सरकारी संगठनों में काम करने वाली महिलाओं को मदद भी दी जाएगी। इस योजना का लाभ कौन महिलाओं तक भी पहुंच सकेगा जो मास्क, प्लेटें, मसाला उत्पादन का काम कर रहे हैं और साथ ही सिलाई और क्राफ्टिंग का काम भी करती हैं।

उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन पंजीयन के लिए यहाँ क्लिक करें

FAQ

Q- यूपी बैंकिंग कोरेस्पोंडेंट सखी योजना क्या है?

A- सीएम योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक ऐसा रोजगार बनाया है जिससे यूपी में रहने वाले नागरिकों की जान की मदद भी होती रहेगी और साथ ही महिलाएं आसानी से घर बैठे आमदनी प्राप्त करने का काम भी करती रहेंगी। इस योजना के जरिए सरकार बैंकों में लगने वाली लाइनों को कम करना चाहती है और कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने का उद्देश्य रखती है।

Q- नौकरी पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया क्या है?

A- इस योजना के अंतर्गत अभी ऑनलाइन प्रक्रिया का विवरण सरकार द्वारा नहीं किया गया है जैसे ही नामांकन प्रक्रिया की जानकारी सरकार द्वारा जारी की जाती है वैसे ही हम अपडेट करते रहेंगे।

Q- इस योजना में नामांकित महिलाओं को कितना वेतन प्राप्त होगा?

A- इस योजना के अंतर्गत नामांकित महिलाओं को आमदनी के तौर पर लगातार 6 महीने तक 4000 रुपये प्रतिमाह प्रदान किए जाएंगे।  साथ ही यह योजना पूरी तरह से डिजिटल सेवाएं प्रदान करने वाली है जिसके लिए महिलाओं को 50000 रुपये डिजिटल उपकरणों के लिए दिए जाएंगे।

Q- क्या यह एक स्थाई सरकारी नौकरी है?

A- इस योजना में यूपी सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली नौकरी स्थाई सरकारी नौकरी नहीं है। कोविड-19 की इस महामारी के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीण महिलाओं द्वारा 6 महीने तक बैंकिंग सेवाएं पहुंचाने के लिए बैंक सखी का चयन किया जा रहा है।

Q- इस योजना के तहत कितनी नौकरियां प्रदान की जाएंगी?

A- यूपी सरकार द्वारा इस योजना के तहत लगभग 58000 महिलाओं को नौकरी प्रदान की जाएगी।

Q- इस योजना को जारी करने की आधिकारिक तारीख क्या है और यह योजना किसने लॉन्च की है?

A- सरकार द्वारा जारी की गई आधिकारिक घोषणा 22 मई 2020 को योगी आदित्यनाथ द्वारा जारी की गई। इस योजना की जानकारी आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से प्राप्त हुई है।

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *